ताज़ा खबर
 

पुलवामा जैसा हमला करने की फिराक में थे आतंकी, 45 किलो विस्फोटक से लदी कार को पुलिस ने दबोचा, फिर कराया ब्लास्ट

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में लॉकडाउन के बाद से ही आतंकी गतिविधियां बढ़ी हैं, पिछले दो हफ्ते में यहां पुलिस और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो चुकी है।

Author श्रीनगर | Updated: May 28, 2020 1:38 PM
पुलिस ने जो कार बरामद की उस पर कठुआ में रजिस्टर्ड एक स्कूटर का नंबर है। (फोटो- एएनआई)

Jammu and Kashmir Terror Attack averted: जम्मू-कश्मीर में कोरोना के बढ़ते मामले और लॉकडाउन की वजह से प्रशासन पर बढ़ते बोझ का फायदा आतंकी भी जुटाना चाहते हैं। खासकर कश्मीर में कई आतंकी संगठन अपने मंसूबों को सफल करने की कोशिश में जुटे हैं। गुरुवार को ही सुरक्षाबलों की टीम को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में एक आतंकी के विस्फोटकों से भरी गाड़ी में घूमने की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस ने एक्शन में आते हुए कार को रास्ते में ही रोक लिया। इस दौरान कार सवारों ने पुलिस पर गोलियां बरसाईं, लेकिन असफल रहने के बाद वे गाड़ी छोड़कर ही भाग निकले।

इस घटना के बाद नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) की टीम मौके पर पहुंच कर जांच में जुट गई। पुलिस को कार की पिछली सीट के पीछे एक ड्रम में करीब 45 किलो विस्फोटक मिले। कार को हैंडल करने के दौरान पुलिस ने इलाके के आसपास मौजूद घरों से लोगों को एहतियात के तौर पर बाहर निकाल कर सुरक्षित जगह पहुंचाया और बम डिस्पोजल यूनिट को बुला लिया। इसके बाद कार को नियंत्रित तरीके से ब्लास्ट करा दिया गया। बताया गया है कि जिस कार को पकड़ा गया उसके नंबर प्लेट का नंबर जम्मू के कठुआ जिले में रजिस्टर एक स्कूटर से मैच होता है।

Coronavirus India Tracker LIVE Updates

जम्मू-कश्मीर आईजी विजय कुमार ने मीडिया को बताया  कि आतंकी सुरक्षाबल या पुलिस की किसी टीम को टारगेट करने की साजिश रच रहे थे। कार में 40 से 45 किलो विस्फोटक होने का अनुमान है। जांच के लिए विशेषज्ञों को बुलाया गया है।

सूत्रों से जानकारी मिलने के बाद कार को घेराः पुलवामा पुलिस के मुताबिक, उसे एक भरोसेमंद सूत्र से इस गाड़ी की सूचना मिली थी। इसके बाद पुलिस और सुरक्षाबल की टीमों ने सभी रूट्स को कवर किया और खुद को कार से दूर रखते हुए इसे पकड़ लिया। बताया गया है कि पुलिस ने लोगों को घरों से बाहर निकालने के बाद पूरी रात कार पर नजर रखी। फिर इसे नियंत्रित तरीके से धमाके के लिए छोड़ दिया। कार में आईईडी समेत कई खतरनाक विस्फोटक उपकरण मौजूद थे।

बता दें कि आतंकी गतिविधियों के बढ़ने के साथ ही सुरक्षाबलों ने भी कश्मीर में ऑपरेशन तेज किए हैं। बीती 6 मई को सुरक्षा बलों ने हिज्बुल के प्रमुख आतंकवादी रियाज नायकू को कश्मीर में मार गिराया था। अगले ही दिन 7 मई को सुरक्षा बलों ने डोडा जिले से इस संगठन के एक सक्रिय आतंकवादी को पकड़ा भी था। इस आतंकी की पहचान 22 साल के राकिब आलम के तौर पर हुई है। इससे आतंकी संगठन बुरी तरह प्रभावित हुए हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 20 सीटों वाली बस में 40 को स्‍टेशन छोड़ा, ट्रेन में भी तीन की सीट पर छह यात्री, खिड़की से दी सौ ग्राम खिचड़ी तो बोगी में मची लूट
2 COVID मरीजों से तीन से 16 लाख रुपए तक वसूल रहे निजी अस्‍पताल, बढ़ सकता है इलाज बिन मरने का खतरा
3 ‘बहुत टीम भेज रहे हैं, ज्यादा दिक्कत है तो आइए खुद कर लीजिए’, अमित शाह से बोलीं ममता बनर्जी