ताज़ा खबर
 

‘…तुम जरूर मारे जाओगे’, आतंकियों को जम्मू-कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल मलिक ने दे डाली वॉर्निंग

कश्मीर में लोगों की रोजी रोजी मुख्य रूप से पर्यटन और सेब के व्यापार से चलती है। ऐसे में आतंकवादी और स्थानीय चरमपंथी समूह के लोग सेब के व्यापार को निशाना बना रहे हैं।

governer, Satya Pal Malik, Jammu, Kashmir, Jammu and kashmir, J&K, kashmir valley, article 370, Pakistan, pakistani terrorist, apple economy, india news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindiराज्यपाल सत्य पाल मलिक पहले भी घाटी में अस्थिरता फैलाने वाले आतंकियों को चेतावनी दे चुके हैं। (फाइल फोटो)

जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्य पाल मलिक ने कश्मीर में आतंकवादियों को एक बार फिर चेतावनी दी है। राज्यपाल ने एक कार्यक्रम में कश्मीर में पाक समर्थित आतंकवादियों द्वारा स्थानीय सेब किसानों को डराने-धमकाने की घटनाओं का जिक्र किया।

राज्यपाल ने कहा कि कश्मीर के किसान का सेब 3 रुपये किलो बिकता था वो लगभग 15 रुपये किलो में सरकार खरीदेगी। ऐसा मैंने अपने जीवन में कभी सुना नहीं है। उनका सेब पड़ा रहता था, सड़ा रहता था, उसके घर पर जाकर खरीदेंगे। किसान को ट्रांसपोर्ट का इंतजाम नहीं करना। जो पाकिस्तान के खरीदे हुए लड़के हैं वह किसानों को धमकाते घूम रहे हैं कि बेचोगे तो मार देंगे। राज्यपाल ने कहा, ‘मैंने कल उनको कहा सुधर जाओ सुधर जाओ, सेब वाला तो मरे ना मरे तुम्हारी गारंटी है तुम बहुत जल्दी मार दिए जाओगे।’

राज्यपाल के इस बयान से फिर साफ हो गया है कि पाकिस्तान की तरफ से घाटी में लोगों को डराया धमकाया जा रहा है। पाकिस्तान की तरफ से लगातार घाटी को अस्थिर करने का प्रयास किया जाता रहा है। मालूम हो कि कश्मीर में लोगों की रोजी रोजी मुख्य रूप से पर्यटन और सेब के व्यापार से चलती है। ऐसे में यह लोग सेब के व्यापार को निशाना बना रहे हैं। इनकी तरफ से सेब किसानों को डराने-धमकाने का मामला काफी गंभीर है।

घाटी में आतंकवादियों की तरफ से लगातार लोगों के भीतर डर पैदा करने की कोशिश की जा रही है। कुछ दिनों पहले ही आतंकियों ने सोपोर में एक परिवार को निशाना बनाया था। आतंकियों ने 42 साल की महिला के साथ ही ढाई साल की बच्ची को भी नहीं बख्शा था। ऐसे में राज्यपाल की तरफ से दिया गया बयान इन चरमपंथी और उग्रवादी तत्वों के लिए चेतावनी है। आतंकियों की तरफ से एक तरफ तो लोगों को निशाना बनाया जा रहा है।

दूसरी तरफ पाकिस्तान समर्थित ये लोग खुद को कश्मीरियों का हिमायती बताते हैं। पाकिस्तान भी लगातार खुद को कश्मीर के लोगों के साथ खड़ा बताता है। लेकिन जिस तरह से वह घाटी में आतंकवाद को बढ़ावा देता है उससे उसके दोहरे रवैये की पोल सबके सामने कई बार खुल चुकी है। इन सब के बीच अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से सरकार की तरफ से जम्मू-कश्मीर विशेषकर घाटी में लोगों से संपर्क बहाल करने का प्रयास किया जा रहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 VIDEO: भारत और अमेरिका के फौजियों ने मिलकर किया डांस, गाया यह खूबसूरत गाना
2 VIDEO: क्लासरूम में प्रिंसिपल ने हथौड़े से तोड़ डाले मोबाइल फोन, देखते रहे स्टूडेंट
3 Kerala Pournami Lottery RN-409 Results: इनका लगा 70 लाख रुपए तक का इनाम, देखें पूरी लिस्ट
IPL 2020 LIVE
X