अमरनाथ यात्रा की तैयारी कर रही जम्मू-कश्मीर सरकार, सभी जिलों में बढ़ाया नाइट कर्फ्यू

बढ़ते कोविड -19 मामलों के मद्देनजर, जम्मू-कश्मीर सरकार ने सभी जिलों के शहरी क्षेत्रों में रात के कर्फ्यू को बढ़ा दिया है।

jammu kashmir, coronavirusजम्मू: कोविड-19 मामलों में वृद्धि के चलते कंटेनमेंट ज़ोन में तैनात जवान। (पीटीआई)।

बढ़ते कोविड -19 मामलों के मद्देनजर, जम्मू-कश्मीर सरकार ने सभी जिलों के शहरी क्षेत्रों में रात के कर्फ्यू को बढ़ा दिया है। सरकार ने वायरल संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए ये फैसला लिया है। इससे पहले, जम्मू-कश्मीर में केवल आठ जिलों में रात का कर्फ्यू लागू था। अब रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा।

रात के कर्फ्यू को अब नगरपालिका और शहरी स्थानीय निकायों के सभी क्षेत्रों में लागू कर दिया गया है। ट्विटर पर जानकारी देते हुए जम्मू-कश्मीर के लेफ्टिनेंट गवर्नर कार्यालय ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के 20 जिलों की सभी नगरपालिका / शहरी स्थानीय निकायों में रात का कर्फ्यू लागू किया जा रहा है। नए नियमों के मुताबिक, नगरपालिका / शहरी स्थानीय निकायों की सीमा के भीतर आने वाले बाजार परिसरों / बाज़ारों / मॉलों में केवल 50 प्रतिशत दुकानों को रोटेशन के साथ एक दिन छोड़ कर दूसरे दिन खुले रहने की अनुमति होगी।”

एलजी कार्यालय ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में बसों को केवल 50 प्रतिशत सवारियों के साथ चलाने की इजाजत होगी।एलजी ने सभी जिला मजिस्ट्रेटों को स्थानीय बाजार संघों से सलाह कर इन उपायों को लागू करने के लिए निर्देश दिया है।इस बीच, जम्मू-कश्मीर सरकार ने यह भी कहा कि इस साल के लिए अमरनाथ यात्रा की योजना बनाई जा रही है। सरकार ने कहा कि पिछले साल की तरह, इस बारे में उचित निर्णय लिए जाएंगे। सरकार ने कहा कि वह यात्रा की तैयारी कर रही है, और कहा कि यात्रा में शामिल करीब 30,000 सर्विस प्रोवाइडर का कोविड -19 टीकाकरण किया जाएगा।

बता दें कि रोजाना दर्ज किए जाने वाले कोरोना मामलों में अभी तक की सबसे बड़ी वृद्धि देखी गई है। बुधवार सुबह तक भारत में कोरोना वायरस के 2.95 लाख मामले दर्ज किए गए। इसी बीच 2,023 लोगों की मौतें हुईं। भारत में कोरोना के कुल मामले अब 1,56,16,130 हो गए हैं। देश में कोरोना से मरने वालों की संख्य 1,82,553 है।

फिलहाल इस समय देश में कोरोना के 21,57,538 एक्टिव मामले हैं। बुधवार को, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने कहा कि वह कोविशिल्ड की खुराक को 400 रुपये में राज्य सरकारों को और 600 रुपये में निजी अस्पतालों को बेचेगा।

संस्थान वर्तमान में केंद्र सरकार को अपना टीका 150 रुपये में बेच रहा है। कंपनी ने यह भी कहा कि वह अपनी क्षमता का 50 प्रतिशत केंद्र के टीकाकरण कार्यक्रम को आवंटित करेगा।

Next Stories
1 कोरोना ने छीन लिया मां का प्यार, 10 दिन की मासूम को दूध पिलाने आगे आईं 60 महिलाएं
2 कोरोना से बचाने को लाठी लेकर सड़क पर उतर पड़ीं प्रेग्नेंट डीएसपी, लोगों ने दिए ऐसे रिएक्शन
3 कोरोना से मौत, अपनों ने किया इनकार तो दो मुस्लिम भाइयों ने किया अंतिम संस्कार
यह पढ़ा क्या?
X