ताज़ा खबर
 

JK में स्कूल बंदी पर पैनलिस्ट ने कहा- कहां सब चंगा है? भड़कीं एंकर का जवाब- संख्या जानते नहीं और UT पर बात कर रहे आप?

100 से भी ज्यादा दिन हो चुके हैं, जम्मू कश्मीर में हालत समान्य है या नहीं ये अब भी चर्चा का विषय है। रोज़ कई टीवी चैनल इस पर प्राइम टाइम बहस करते हैं। ऐसी ही एक बहस एबीपी न्यूज़ में चल रही थी। इस बहस के दौरान कश्मीर को लेकर एक पैनलिस्ट के जवाब पर महिला एंकर भड़क गईं।

Author नई दिल्ली | Published on: November 20, 2019 9:14 PM
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फाइल फोटोः ANI)

केंद्रीय सरकार ने पांच अगस्त को संविधान के अनुच्छेद 370 और 35 ए को हटाकर जम्मू एवं कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस ले लिया था। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को दो अलग केंद्र शासित प्रदेश बन दिया गया। इस फैसले के बाद जम्मू-कश्मीर में कई तरह की पाबंदियां लगाई गई। प्रदेश में मोबाइल फोन, इंटरनेट, टीवी पर बैन लगाया गया, कई क्षेत्रों में धारा 144 लगाई गई। हालांकि, कुछ दिनों के बाद समय-समय पर घाटी से पाबंदियां हटती चली गईं। लेकिन अब भी वहां के हालत समान्य नहीं हुए हैं इस बात का अंदाज़ा वहां नज़रबंद नेताओं से लगाया जा सकता है।

फैसले को लागू करने के दौरान किसी तरह की दिक्कत ना हो, कोई राजनीतिक प्रदर्शन ना हो इसके लिए प्रशासन की ओर से राज्य में कई नेताओं को हिरासत में लिया गया या फिर उन्हें नज़रबंद कर दिया गया था। इनमें पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती, उमर अब्दुल्ला, फारुक अब्दुल्ला समेत अन्य कुछ बड़े नेताओं को नज़रबंद किया गया। 100 से भी ज्यादा दिन हो चुके हैं, जम्मू कश्मीर में हालत समान्य है या नहीं ये अब भी चर्चा का विषय है। रोज़ कई टीवी चैनल इस पर प्राइम टाइम बहस करते हैं। ऐसी ही एक बहस एबीपी न्यूज़ में चल रही थी। इस बहस के दौरान कश्मीर को लेकर एक पैनलिस्ट के जवाब पर महिला एंकर भड़क गईं।

दरअसल ABP न्यूज़ पर इस बात को लेकर बहस हो रही थी कि 100 दिन बाद क्या कश्मीर आबाद है? क्या 370 हटने से आतंकवाद घाटा है। इस बहस के दौरान एंकर ने पैनलिस्ट से पूछा “कश्मीर में सब चंगा सी?” इसपर जेकेएमपीएल के सचिव अहमद आयज ने जवाब देते हुए कहा “अगर सब चंगा सी तो नेताओं की नज़रबंदी क्यों? इसको चंगा सी नहीं कहा जा सकता।” आयज ने कहा कि जब आप आम कश्मीरी से पूछोगे तो वह कहेगा चंगा सी कुछ नहीं है। वहां हालत दिन ब दिन खराब हो रहे हैं। इसपर एंकर ने कहा “आप बढ़ा-चढ़ा कर बोल रहे हैं।”

इसपर एंकर ने कहा कि आप जैसे लोग कह रहे हैं कि स्कूल कॉलेज बंद हैं। आपको पता है कितने कॉलेज हैं? जम्मू कश्मीर में कितने स्कूल है? आंकड़ा पता है? इसपर आयज ने कहा कि सारे स्कूल, कॉलेज खुले हैं लेकिन उनमें कोई जाता नहीं है। इसपर एंकर ने कहा कि कितने स्कूल और कॉलेज हैं संख्या बताइये। ये आपको पता नहीं है और कश्मीर पर बात करेंगे आप।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 केंद्रीय मंत्री ने संसद में किया साफ- सोशल मीडिया से Aadhaar Card को जोड़ने का नहीं कोई प्रस्ताव
2 भारत ने दो पृथ्वी मिसाइलों का रात के वक्त किया सफल परीक्षण
3 कंपनी ने किया छंटनी का ऐलान, नौकरी जाने के डर से लड़की ने दे दी जान
जस्‍ट नाउ
X