ताज़ा खबर
 

आंध्र प्रदेश ट्रेन हादसा: रेलवे को साजिश का शक, कहा – किसी ने ट्रैक से छेड़छाड़ की

आंध्रप्रदेश ट्रेन हादसा: रेलवे ने कहा कि उनको शक है कि किसी ने पटरी से छेड़छाड़ की थी जिसकी वजह से हादसा हुआ।

आंध्र प्रदेश ट्रेन हादसे के बाद की एक तस्वीर।

जगदलपुर-भुवनेश्वर एक्सप्रेस ट्रेन हादसे पर रेलवे का बयान आया है। बयान में रेलवे ने कहा कि उनको शक है कि किसी ने पटरी से छेड़छाड़ की थी जिसकी वजह से हादसा हुआ। सूत्रों ने जानकारी दी कि ट्रैक के साथ छेड़छाड़ के मजबूत संकेत मिल रहे हैं। जिस इलाके में ट्रेन हादसा हुआ वह नक्सल प्रभावित है। इसके अलावा गणतंत्र दिवस को देखते हुए किसी साजिश को नजरअंदाज नहीं किया जा रहा। अब रेलवे ने जांच के आदेश दे दिए हैं। कहा गया है कि हर एंगल से मामले की जांच की जाएगी।

कुछ देर पहले ही गुजरी थी मालगाड़ी: बताया गया कि जगदलपुर-भुवनेश्वर एक्सप्रेस के गुजरने से कुछ देर पहले ही उस ट्रैक पर से एक माल गाड़ी गुजरी थी। पेट्रोल मैन ने भी ट्रैक को चेक किया था। वहीं जब ड्राइवर से बात की गई तो उसने कहा कि ट्रेन के पटरी से उतरने के दौरान उसने किसी बड़े पटाखे जैसी आवाज सुनी थी।

जगदलपुर-भुवनेश्वर एक्सप्रेस ट्रेन शनिवार (21 जनवरी) को रात 11 बजे पटरी से उतरी थी। हादसे में 37 से ज्यादा लोगों के मरने की खबर है। इसके अलावा 100 के करीब लोग जख्मी बताए जा रहे हैं। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने मुआवजे का ऐलान कर दिया है। जान गंवाने वाले के परिवार को 2 लाख रुपए दिए जाएंगे। उसके अलावा गंभीर रूप से घायल को 50 हजार मिलेंगे। साथ ही घायल लोगों को भी 25 हजार रुपए दिए जाएंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी हादसे पर शोक जताया। मोदी ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘जगदलपुर-भुवनेश्वर एक्सप्रेस के पटरी से उतरने की घटना में जान गंवाने वालों के परिवारों के प्रति मैं संवेदना व्यक्त करता हूं ।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं ट्रेन हादसे में घायल हुए लोगों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं ।’’

रायगढ़ा में हेल्पलाइन नंबर इस प्रकार हैं…बीएसएनएल लैंडलाइन नंबर 06856..223400, 06856..223500, मोबाइल 09439741181, 09439741071, एयरटेल 07681878777 तथा विजयनगरम में हेल्पलाइन नंबर हैं..रेलवे नंबर 83331, 83333, 83334, बीएसएनएल लैंडलाइन 08922..221202।

इस वक्त की बाकी ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App