J-K: Ceasefire violation by Pakistan in Naushera sector - Jansatta
ताज़ा खबर
 

J-K: नौशेरा में PAK ने किया संघर्ष विराम का उल्लंघन, भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद छठी घटना

जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर के कलसियान में मंगलवार को सुबह पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन किया गया। भारत की ओर से 28 सितंबर को सरहद पार किए सर्जिकल स्ट्राइक के बाद छठवीं बार पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन किया गया है।

Author श्रीनगर | October 4, 2016 11:20 AM
कश्मीर में भारत-पाक सीमा पर तैनात जवान। (File Photo)

जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर के कलसियान में मंगलवार को सुबह पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन किया गया। भारत की ओर से 28 सितंबर को सरहद पार किए सर्जिकल स्ट्राइक के बाद छठवीं बार पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन किया गया है। इससे पहले सोमवार को पाकिस्तानी सेना की ओर से पुंछ जिले के शाहपुर में मोर्टार सेलिंग की गई थी। गौरतलब है कि सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव लगातार गहराता जा रहा है।

वहीं, राज्य के कुलगाम में आंतकियों द्वारा पुलिस से पांच सेल्‍फ लोडिंग राइफल्स छीनने की घटना सामने आई है। इससे पहले रविवार रात को आतंकियों ने बारामुला में राष्‍ट्रीय राइफल के बटालियन मुख्‍यालय पर आतंकियों ने हमला किया था। इसमें बीएसएफ का जवान शहीद हो गया था वहीं दो आतंकी भी ढेर किए गए थे।

वीडियो देखें- उरी हमले, सर्जिकल स्ट्राइक और बारामूला आतंकी हमले के कारण भारत और पाकिस्तान के बीच लगातार बढ़ता तनाव

बता दें कि 18 सितंबर को उरी में पाकिस्तानी आतंकियों द्वारा किए गए हमले में 18 भारतीय जवानों की मौत हो गई थी। दो घायल जवानों की बाद में अस्पातल में मृत्यु हो गई थी। सेना की जवाबी कार्रवाई में चार आतंकी मारे गए थे। उरी हमले 10 दिन बाद भारतीय सेना ने 28-29 सितंबर को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक करके कई आतंकियों को मार गिराया था। सेना ने आतंकियों के 7-8 कैंपों को ध्वस्त कर दिया था। इस हमले में आतंकियों को बचाने की कोशिश में पाकिस्तान सेना के दो जवान भी मारे गए थे। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने आतंकियों की ओर से हमले होने की आशंका जताई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App