ISIS ने कहा- मुसलमानों के खिलाफ जंग की तैयारी कर रहे मोदी, भारत के खिलाफ तेज करेंगे अभियान

धमकी इस्‍लामिक स्‍टेट की ओर से जारी नए दस्‍तावेज ‘ब्‍लैक फ्लैग’ में दी गई है। सबसे खास बात यह है कि इस्‍लामिक स्‍टेट के किसी दस्‍तावेज में पहली बार भारत के राजनीतिक हालात की समीक्षा करने की कोशिश की गई है।

ISIS news, isis latest news, isis russia, isis india
फाइल फोटो

आतंकी संगठन इस्‍लामिक स्‍टेट (आईएसआईएस) ने भारत के खिलाफ जंग तेज करने का एलान किया है। यह धमकी इस्‍लामिक स्‍टेट की ओर से जारी नए दस्‍तावेज ‘ब्‍लैक फ्लैग्स’ में दी गई है। यह दस्‍तावेज आतंकियों की ओर से मंगलवार को जारी किया गया। इसमें लिखा है, ”इस्‍लामिक स्‍टेट अब अपना विस्‍तार इराक और सीरिया के बाहर करेगा। अब यह भारत, पाकिस्‍तान, बांग्‍लादेश, अफगानिस्‍तान और दूसरे देशों तक पहुंचेगा।” सबसे खास बात यह है कि इस्‍लामिक स्‍टेट के किसी दस्‍तावेज में पहली बार भारत के राजनीतिक हालात की समीक्षा करने की कोशिश की गई है। इसमें लिखा है, ”हिंदुओं के आंदोलन में इजाफा हो रहा है, जो बीफ खाने वाले मुसलमानों की हत्‍या करते हैं। प्रेसिडेंट नरेंदर मोदी एक दक्षिणपंथी हिंदू राष्‍ट्रवादी हैं जो हथियारों की पूजा करते हैं और अपने लोगों को भविष्‍य में मुसलमानों के खिलाफ जंग के लिए तैयार कर रहे हैं। उनके पास अपना संख्‍याबल बढ़ाने के लिए एक राजनीतिक विंग है। इसके अलावा, हथियारबंद सेना भी, जो अपने दुश्‍मन नंबर वन मुसलमानों के खिलाफ आतंकी अभियान शुरू कर सकते हैं।

और क्‍या लिखा है किताब में
दस्‍तावेज का दावा है, ”भविष्‍य में हर देश में इस्‍लामिक स्‍टेट की जंग लड़ी जाएगी। पूरी दुनिया में डेढ़ अरब से ज्‍यादा मुसलमान हैं। वे हर जगह नई दुनिया की व्‍यवस्‍था से लड़ेंगे। तुम सब अगर अपने कम्‍फर्ट जोन से बाहर न निकले तो नई वैश्‍विक व्‍यवस्‍था की भेंट चढ़ जाओगे और दबाने वाले लोगों की अधीनता स्‍वीकार कर लोगे। या फिर बाहर निकलोगे और अपने मजहब और जिंदगी को बचाने के लिए लड़ोगे।” इस किताब में इस्‍लामिक स्‍टेट ने बताया है कि कैसे हुकुमतों के खिलाफ विद्रोह पैदा किया जा सकता है। इसके अलावा, छिपने, विस्‍फोटक तैयार करने और सुरक्षा एजेंसियों की नजरों से बचने के तरीके के बारे में भी जिक्र है। बुक के मुताबिक, ”इस्‍लामिक स्‍टेट की रणनीति है, मारो और भागो। इससे दुनिया आपको ढूंढने के लिए करोड़ों डॉलर खर्च करेगी और लाखों पुलिसवाले और जांचककर्ताओं को आपके पीछे लगाएगी। इससे वे न केवल पैसे गंवाएंगे, बल्‍क‍ि उनके बड़े शहरों पर ताला भी लग सकता है।”

Read also

इस्‍लामिक स्‍टेट से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें 

अपडेट