ताज़ा खबर
 

क्या 2019 बीजेपी की लास्ट इनिंग है? अमित शाह ने ये दिया जवाब

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का दावा है कि पार्टी 2019 में 2014 के मुकाबले कहीं ज्यादा सीटें प्राप्त करेगी। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 2024 तक मजबूत सरकार चलेगी। यह बातें शाह ने जी न्यूज को दिए इंटरव्यू के दौरान कही, जब उनसे सरकार की लॉस्ट इनिंग को लेकर सवाल पूछा गया।

Author नई दिल्ली | Published on: March 18, 2018 6:27 PM
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (PTI फोटो)

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का दावा है कि पार्टी 2019 में 2014 के मुकाबले कहीं ज्यादा सीटें प्राप्त करेगी। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 2024 तक मजबूत सरकार चलेगी। यह बातें शाह ने जी न्यूज को दिए इंटरव्यू के दौरान कही, जब उनसे सरकार की लॉस्ट इनिंग को लेकर सवाल पूछा गया। अमित शाह से एंकर सुधीर चौधरी ने पूछा क्या 2014 की तरह आज 2018 में भी मोदी लहर बरकरार है। इस पर जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा-2019 में 2014 से ज्यादा सीट प्राप्त कर नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 2024 तक मजबूत सरकार बनेगी। लास्ट इनिंग के सवाल पर बोले कि यह कोई लास्ट इनिंग नहीं है और न ही 2019 भी लास्ट इनिंग है। देश को बहुत आगे जाना है , लोकतंत्र को बहुत आगे जाना है। भारतीय जनता पार्टी को भी बहुत आगे जाना है।

इंटरव्यू के दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कई सवालों के जवाब दिए। उन्होंने फुलपुर और गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव में हार पर भी प्रतिक्रिया दी। कहा कि उपचुनाव के परिणाम को पार्टी ने गंभीरता से लिया है। जब एंकर ने योगी आदित्यनाथ का नाम लिया तो अमित शाह ने योगी सरकार की जमकर सराहना की। कहा कि योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में बीजेपी सरकार अच्छा काम कर रही है। कानून-व्यवस्था से लेकर किसानों की बेहतरी के लिए काम हुआ।

शाह ने कहा कि उन्हें उपचुनाव का परिणाम योगी सरकार के खिलाफ जनादेश कतई नहीं लगता। हार के कारणों पर बोलते हुए कहा कि इसके पीछे कई बातें हैं। समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच गठबंधन के साथ मत प्रतिशत कम होना। और मत प्रतिशत कम होना। शाह ने इंटरव्यू के दौरान यह भी दावा किया कि अगर 2019 में भी सपा-बसपा का गठबंधन होता है तो उनकी पार्टी मुकाबला करने के लिए तैयार है। कांग्रेस की चर्चा के दौरान अमित शाह ने तंज कसते हुए कहा कि जिस पार्टी के उम्मीदवारों की दोनों सीटों पर जमानत जब्त हो गई वह जश्न मना रही है तो इसमें वह क्या कर सकते हैं। अविश्वास प्रस्ताव को लेकर पूछे सवाल का भी अमित शाह ने जवाब दिया। कहा कि विपक्ष सदन नहीं चलने दे रहा है, जिससे यह बात साबित होती है कि वे कमजोर हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 चिदंबरम बोले- नोटबंदी-जीएसटी लागू कर मोदी ने खाई युवाओं की नौकरियां, कांग्रेस ही करेगी इलाज
2 बीजेपी पर राहुल गांधी का हल्ला बोल, बताया क्या होता है ‘MODI’ का मतलब
3 सेबी ने NDTV पर लगाया 10 लाख रुपये का जुर्माना, प्रणव रॉय समेत 4 एक्‍जीक्‍यूटिव्‍स पर 3-3 लाख का फाइन