ताज़ा खबर
 

IRCTC Indian Railways: पटरियों की मरम्मत की वजह से ट्रेनें रद्द, कई का रूट हुआ डायवर्ट, देखें पूरी LIST

IRCTC Indian Railways: ट्रैक की मरम्मत के चलते रविवार (25 अगस्त) से मंगलवार (27 अगस्त) तक कई ट्रेनों के रूट भी बदले गए हैं।

Author नई दिल्ली | Published on: August 25, 2019 12:28 PM
IRCTC Railways : तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

IRCTC Indian Railways: उत्तर प्रदेश के रायबरेली में ट्रैक की मरम्मत के चलते कानपुर-बाराबंकी से लखनऊ के बीच चलने वाली सात मेमू ट्रेनें शुक्रवार (30 अगस्त, 2019) तक रद्द रहेंगी। ट्रैक की मरम्मत के चलते रविवार (25 अगस्त) से मंगलवार (27 अगस्त) तक कई ट्रेनों के रूट भी बदले गए हैं। उत्तर रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी जगतोष शुक्ला के मुताबिक, ‘लखनऊ-कानपुर मेमू (4207), कानपुर-लखनऊ मेमू (64212), लखनऊ जंक्शन-कानपुर मेमू (64213), कानपुर-लखनऊ मेमू (64254 ), कानपुर-लखनऊ मेमू (64208), बाराबंकी कानपुर मेमू (64235), कानपुर-बाराबंकी मेमू (64236) 30 अगस्त तक नहीं चलेंगी।’

दूसरी तरफ अमृतसर-हावड़ा (13006) के बीच चलने वाली पंजाब मेल रविवार से सोमवार तक प्रतापगढ़ के बजाय उतरेटिया-सुलतानपुर-जफराबाद होकर चलेगी। इसके अलावा अर्चना एक्सप्रेस (12356 ) 26 अगस्त को बाराबंकी-फैजाबाद-जफराबाद होकर और नीलांचल एक्सप्रेस (12875) सोमवार को सुलतानपुर होकर चारबाग पहुंचेगी। इसी तरह 14219/14220 लखनऊ-वाराणसी इंटरसिटी एक्सप्रेस 26 और 27 अगस्त को लखनऊ से रायबरेली के बीच रद्द रहेगी। इससे पहले रेलवे ने शनिवार को चलने वाली करीब 400 ट्रेनों को रद्द कर दिया था। इसके अलावा 141 ट्रेनों के रूट बदले गए।

इसी बीच रेलवे ने एक ऐतिहासिक कदम उठाने का फैसला लिया है। खबर के मुताबिक तेजस ट्रेनें दूसरी ट्रेनों से अलग होंगी। रेलवे से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक रेलवे ने तेजस की टाइमिंग में भी बदलाव किया है। इसके अलावा इसके खानपान सेवाओं, किराया, लीज चार्ज सहित सिक्यॉरिटी पर विचार विमर्श किया जा रहा है। दरअसल रेलवे अधिकारी तेजस के संचालन से ही नहीं बल्कि कोचों पर विज्ञापन के जरिए भी कमाई करना चाहते हैं।

इसके चलते दिल्ली से आई एक टीम ने शुक्रवार को गोमतीनगर स्टेशन यार्ड में खड़ी तेजस ट्रेन के कोचों का जायजा लिया। ट्रेनें सितंबर महीने के आखिरी सप्ताह में चलाई जानी है। अधिकारियों ने इस दौरान कोचों के नाम ऐतिहासिक स्थलों पर रखने का भी विचार किया। कोचों पर सरकारी विज्ञापन लगाए जाने की भी चर्चा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Assam: ‘मेरी 70 साल की मां को वे जेल भेजेंगे? अच्छा है कि जहर दे दूं’, NRC की डेडलाइन नजदीक, खौफ में जी रहे लोग
2 PM Modi Mann Ki Baat: बापू की 150वीं जयंती पर प्लास्टिक के खिलाफ होगा नया जन आंदोलन
3 अरुण जेटली: रामनाथ गोयनका ने बनाया था इंडियन एक्सप्रेस का लीगल एडवाइजर, वीपी सिंह ने दिया था पहला बड़ा ब्रेक