ताज़ा खबर
 

कपिल सिब्बल समेत 3 कांग्रेसी दिग्गज कर रहे चिदंबरम की पैरवी, CBI की तरफ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता

पी चिदंबरम की पैरवी करने के लिए कांग्रेस के दो बड़े दिग्गज नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल, अभिषेक मनु सिंघवी समेत वरिष्ठ वकील विवेक तन्खा कोर्ट में मौजूद रहे।

Author नई दिल्ली | Updated: August 22, 2019 6:24 PM
वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी और कपिल सिब्बल पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम के साथ। फोटो: इंडियन एक्सप्रेस

INX media case: पूर्व केंद्रीय गृह और वित्त मंत्री पी चिदंबरम को सीबीआई नई दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया। थोड़ी देर में स्पेशल जज अजय के कुहर की अदालत में सुनवाई हुई। पी चिदंबरम की पैरवी करने के लिए कांग्रेस के दो बड़े दिग्गज नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल, अभिषेक मनु सिंघवी समेत वरिष्ठ वकील विवेक तन्खा कोर्ट में मौजूद रहे, जबकि सीबीआई की तरफ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता और वरिष्ठ वकील सोनिया माथुर ने बहस की।

चिदंबरम की पत्नी और वरिष्ठ वकील नलिनी चिदंबरम और बेटे कार्ति चिदंबरम भी कोर्ट नंबर 502 में मौजूद थे, जहां मामले की सुनवाई हुई। माना जा रहा है कि सीबीआई चिदंबरम को रिमांड पर लेकर पूछताछ करना चाहती है। वहीं चिदंबरम के वकीलों ने इसका विरोध किया और उनके लिए जमानत की मांग की। बता दें कि बुधवार (21 अगस्त) को देर रात सीबीआई ने काफी मशक्कत के बाद हाई वोल्टेज ड्रामे में चिदंबरम को उनके जोरबाग स्थित घर से गिरफ्तार किया था और मुख्यालय ले जाकर पूछताछ की थी। चिदंबरम को रातभर सीबीआई दफ्तर में ही रखा गया था।

चिदंबरम पर आरोप है कि उन्होंने वित्त मंत्री रहते हुए आईएनएक्स मीडिया को फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रोमोशन बोर्ड (FIPB) से गैर कानूनी तरीके से विदेशी निवेश लेने की मंजूरी दिलवाई। आईएनएक्स मीडिया ग्रुप ने साल 2007 में करीब 305 करोड़ का विदेशी निवेश हासिल किया था। पी चिदंबरम उस दौरान यूपीए-2 सरकार में वित्त मंत्री थे।

इस मामले में 15 मई 2017 को सीबीआई ने FIPB मंजूरी देने में हुई अनियमिताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। इसके बाद 2018 में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने भी मनी लॉन्ड्रिंग के तहत केस दर्ज किया था। आरोप है कि आईएनएक्स मीडिया ने इसके बदले पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम की कंपनी को कैशबैक दिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 IRCTC INDIAN RAILWAYS: नवंबर से शुरू होने जा रहा श्री रामायण एक्सप्रेस टूर, क्या है किराया और बाकी डिटेल्स; जानें
2 झारखंड में लेबर रिफॉर्म करके चर्चा में आए थे नए कैबिनेट सचिव, जानिए कौन हैं राजीव गाबा
3 मीडिया रिपोर्ट में दावा: मनोज तिवारी की कार्यशैली से खुश नहीं आरएसएस, दिल्ली में हार की आशंका