ताज़ा खबर
 

INX media case: सुप्रीम कोर्ट से पी.चिदंबरम को मिली जमानत, बिना अनुमति देश से बाहर नहीं जाएंगे

सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाने से पहले माना कि आर्थिक अपराध काफी गंभीर होते हैं और जमानत का फैसला केस की मेरिट पर निर्भर करता है। कोर्ट ने कहा कि अदालत से अनुमति लिए बिना चिदंबरम देश से बाहर नहीं जाएंगे।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: December 4, 2019 11:58 AM
वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी.चिदंबरम

INX media case: आईएनएक्स मीडिया धन शोधन मामले में जेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को उच्चतम न्यायालय से बुधवार को जमानत मिल गई। उच्चतम न्यायालय ने दो लाख रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की दो जमानती पर पी.चिदंबरम को जमानत दी। न्यायालय ने पी.चिदंबरम की जमानत याचिका खारिज करने के दिल्ली उच्च न्यायालय के 15 नवंबर के आदेश को निरस्त किया।  न्यायमूर्ति आर भानुमति की अध्यक्षता वाली तीन न्यायाधीशों की एक पीठ ने 28 नवंबर को जमानत याचिका पर सुनवाई पूरी की थी।

सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाने से पहले माना कि आर्थिक अपराध काफी गंभीर होते हैं और जमानत का फैसला केस की मेरिट पर निर्भर करता है। कोर्ट ने कहा कि अदालत से अनुमति लिए बिना चिदंबरम देश से बाहर नहीं जाएंगे। 74 वर्षीय पूर्व वित्त मंत्री बीते 105 दिन से जेल में बंद थे। उन्हें सीबीआई ने आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में 21 अगस्त को गिरफ्तार किया था। वहीं प्रवर्तन निदेशालय ने उन्हें धनशोधन मामले में 16 अक्टूबर को गिरफ्तार किया था।

उच्चतम न्यायालय ने चिदंबरम के इस मामले के संबंध में मीडिया में साक्षात्कार देने या किसी तरह का बयान देने पर रोक लगाई है। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा है कि चिदंबरम को मिली जमानत का लाभ इस मामले का कोई अन्य आरोपी नहीं ले पाएगा। कांग्रेस ने चिदंबरम को जमानत देने के उच्चतम न्यायालय के इस फैसले का स्वागत किया है। पार्टी ने कहा कि सच की आखिरकार जीत हुई। हालांकि, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने कहा, ‘‘न्याय में देरी, अन्याय है। यह काफी पहले ही मिलना चाहिए था।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 झारखंड चुनाव: बागी पड़ेगा BJP पर भारी? जानें सीएम रघुबर दास की सीट समेत दो क्षेत्रों में क्यों बदल गए समीकरण
2 गवर्नर आनंदीबेन पटेल को धमकी- 10 दिन में खाली नहीं किया राजभवन तो डायनामाइट से उड़ा देंगे
3 Noida और Greater Noida के बीच नई मेट्रो लाइन को मिली मंजूरी, गौर सिटी समेत इन इलाकों से कनेक्ट होंगे 9 स्टेशन
जस्‍ट नाउ
X