scorecardresearch

कोरोना का कहर: सऊदी में ओमीक्रॉन वैरियंट की एंट्री, अलर्ट मोड में भारत सख्त, इंटरनेशनल फ्लाइट्स फिर चालू करने का प्लान टाला

डीजीसीए ने बुधवार को 15 दिसंबर से इंटरनेशनल उड़ानों को बहाल किये जाने के फैसले को स्थगित कर दिया है। पिछले महीने ही सरकार ने उड़ानों के सामान्य परिचालन का फैसला किया था।

कोरोना का कहर: सऊदी में ओमीक्रॉन वैरियंट की एंट्री, अलर्ट मोड में भारत सख्त, इंटरनेशनल फ्लाइट्स फिर चालू करने का प्लान टाला
अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर जारी रहेगा निलंबन (फाइल फोटो)

कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रॉन का सऊदी अरब में पहला मामला सामने आया है। वहीं भारत भी इसे लेकर अलर्ट मोड पर दिख रहा है। सरकार ने इंटरनेशल फ्लाइट्स को फिर से टालने का फैसला किया है।

सऊदी अरब ने कोरोना के नए वैरिएंट के बारे में जानकारी देते हुए बुधवार को कहा कि देश में इसका पहला मामला सामने आया है। सऊदी अरब की सरकारी सऊदी प्रेस एजेंसी ने कहा कि एक नागरिक संक्रमित मिला है। जो एक उत्तरी अफ्रीकी देश से आया था। खबर में कहा गया है कि संक्रमित व्यक्ति और उसके करीबी लोगों को क्वारंटीन कर दिया गया है।

खाड़ी के देशों में इस नए वैरिएंट का शायद यह पहला मामला है। अभी तक इस वैरिएंट के 20 से अधिक देशों में मामले सामने आये हैं। यह वायरस अफ्रीका में सबसे पहली बार मिला था, और धीरे-धीरे कई देशों में फैल गया है। कई देशों ने इसके खौफ से अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है।

वहीं DGCA ने भी बुधवार को 15 दिसंबर से इंटरनेशनल उड़ानों को बहाल किये जाने के फैसले को स्थगित कर दिया है। डीजीसीए (Directorate General of Civil Aviation) ने कोरोना वायरस के नए वैरियंट ‘ओमीक्रोन’ के सामने आने के मद्देनजर यह कदम उठाया है।

पिछले महीने, सरकार ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के सामान्य परिचालन का फैसला किया था। जिसे अब एक बार फिर से कैंसिल कर दिया गया है। डीजीसीए ने कहा- “नियमित अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को बहाल करने की प्रभावी तारीख को लेकर उचित फैसले की जानकारी सही समय पर बताई जाएगी।’’

डीजीसीए का यह फैसला 27 नवंबर को पीएम मोदी की तरफ से अधिकारियों को दिए निर्देश के बाद आया है। पीएम मोदी ने ओमीक्रोन को लेकर बढ़ी चिंता के बाद अंतरराष्ट्रीय उड़ानों में राहत देने की योजना की समीक्षा करने को कहा था।

बता दें कि कोरोना महामारी के चलते भारत आने-जाने वाली सामान्य इंटरनेशनल उड़ानों का परिचालन मार्च 2020 से ही बंद है। वर्तमान समय में कई देशों के साथ द्विपक्षीय समझौते के तहत सीमित संख्या में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन किया जा रहा है। पिछले महीने की 24 तारीख तक भारत ने 31 देशों से उड़ानों के लिए औपचारिक द्विपक्षीय समझौता किया था।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

First published on: 01-12-2021 at 04:40:13 pm
अपडेट