ताज़ा खबर
 

शीना बोरा हत्याकांड : ‘शर्तों’ के साथ एक दिन के लिए जेल से बाहर आईं इंद्राणी मुखर्जी, पिता के अंतिम संस्कार में हुईं शामिल

सीबीआई कोर्ट ने कहा, इंद्राणी मीडिया से बात नहीं करेंगी और सिर्फ पुलिस के साथ ही बाहर निकलेंगी।
25 अगस्‍त 2015 को खार पुलिस ने इंद्राणी को शीना बोरा की हत्‍या के मामले में वर्ली स्थित घर से गिरफ्तार किया और खार ले जाए। तब तक दुनिया को यही पता था कि शीना, इंद्राणी की बहन है। (EXPRESS ARCHIVE)

चर्चित शीना बोरा हत्या कांड की आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को सीबीआई की विशेष अदालत ने एक दिन के लिए रिहाई दी है।  सूत्रों की मानें तो इंद्राणी की ये रिहाई उसके पिता के अंतिम संस्कार में जाने के लिए दी है। अदालत ने इंद्राणी की जमानत के साथ-साथ कई तरह के अंकुश भी लगाए हैं। कोर्ट ने कहा कि इंद्राणी मीडिया से बातचीत नहीं करेंगी। इसके अलावा वह सिर्फ अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए जेल से बाहर निकलेंगी। पुलिस की जमात के साथ ही बाहर जा सकेंगी।

इंद्राणी के पिता उपेंद्र बोरा की मौत 15 दिसंबर को गुवाहाटी में हुई थी। खबरें थीं कि इंद्राणी का बेटा मिखाइल मीडिया के जमावड़े के डर से यह बिल्कुल नहीं चाहता था कि नाना उपेंद्र के अंतिम संस्कार में मां इंद्राणी शामिल हों, लेकिन सीबीआई ने उन्हें एक दिन के लिए जेल से बाहर आने की इजाजत दे दी।

बता दें कि शीना बोरा मर्डर केस का खुलासा पूरी तरह नहीं हो पाया है। साल 2012 में इंद्राणी मुखर्जी की बेटी शीना बोरा लापता हो गई थी, लेकिन उसकी गुमशुदगी की कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई गई थी। गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने गुपचुप तरीके से मामले की छानबीन शुरू की थी और इंद्राणी के ड्राइवर श्याम मनोहर से लंबी पूछताछ के बाद पुलिस ने इंद्राणी को गिरफ्तार कर लिया था। इंद्राणी पर ही बेटी शीना बोरा के कत्ल का आरोप है। पुलिस ने इंद्राणी के पहले पति संजीव खन्ना को कोलकाता से गिरफ्तार किया था। बाद में इंद्राणी के पति और स्टार इंडिया के पूर्व सीईओ पीटर मुखर्जी को भी इस केस में आरोपी बनाया गया और उनकी गिरफ्तारी हुई। पुलिस के मुताबिक इंद्राणी मुखर्जी ने अपने ड्राइवर श्याम मनोहर राय और एक अन्य व्यक्ति की मदद से शीना की हत्या को अंजाम दिया था।

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.