scorecardresearch

मुंबईः इंद्राणी मुखर्जी ने कोर्ट में किया बेटी शीना के जिंदा होने का दावा, CBI को सौंपा गया जिम्मा

बेटी की हत्या के आरोप में जेल में बंद इंद्राणी ने सीबीआई के निदेशक को एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि शीना बोरा अभी जिंदा है और वह कश्मीर में है।

indrani-mukherjee
इंद्राणी मुखर्जी (फोटो- फाइल)

एक अनोखी मर्डर मिस्ट्री फिर से उलझती जा रही है। अपनी बेटी की हत्या के आरोप में जेल में बंद इंद्राणी मुखर्जी ने कोर्ट से कहा है कि शीना बोरा जिंदा है। उनके वकील ने सीबीआई की स्पेशल कोर्ट के सामने एक रिट दायर कर दावा किया है कि शीना बोरा जिंदा है। वकील का कहना है कि उसने आशा कोरके नाम की महिला से कश्मीर में मुलाकात की थी। स्पेशल कोर्ट ने इंद्राणी की तरफ से दायक ये याचिका स्वीकार कर ली है। कोर्ट ने सीबीआई को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। एजेंसी को चार फरवरी से पहले कोर्ट में जवाब दाखिल करना है।

इसके पहले, इंद्राणी मुखर्जी ने सीबीआई के निदेशक को एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि शीना बोरा अभी जिंदा है और वह कश्मीर में है। मुखर्जी ने अपने पत्र में लिखा था कि वह जेल में एक महिला से मिली थीं, जिसने बताया था कि कश्मीर में उसकी मुलाकात शीना बोरा से हुई थी। इसको लेकर मुखर्जी ने कहा था कि सीबीआई शीना बोरा की तलाश करे।

इंद्राणी के वकील ने भी इस बात की पुष्टि की थी कि मुखर्जी ने बायकुला महिला जेल से सीबीआई को पत्र भेजा है। खान ने कहा था कि इस मामले में वह अदालत के समक्ष एक याचिका दायर करेंगी।

24 अप्रैल, 2012 को अपनी बेटी शीना की हत्या करने के आरोप में मुखर्जी का ट्रायल चल रहा है। उन्हें खार पुलिस ने 25 अगस्त 2015 को गिरफ्तार किया था और वह सितंबर 2015 से बायकुला जेल में बंद है। उनके पूर्व पति पीटर मुखर्जी और संजीव खन्ना इस मामले में सह-आरोपी हैं। पीटर को पिछले साल जमानत मिली थी। शीना का कंकाल 25 अप्रैल 2015 को पेन खोपली से बरामद किया गया।

दरअसल, इस हत्याकांड का खुलासा तब हुआ जब इंद्राणी मुखर्जी के ड्राइवर श्यामवर राय को पकड़ा गया था। इस हत्या का आरोप इंद्राणी मुखर्जी और उनके पूर्व पति संजीव खन्ना पर लगा है। बाद में मीडिया मुगल के नाम से मशहूर पीटर मुखर्जी के दामन पर भी दाग लगे।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट