Coronavirus: इंडिगो का बड़ा ऐलान, कोविड-19 के कारण रद्द हुई उड़ानों से नहीं कटेगी पायलट और क्रू की सैलरी

रोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए सरकार ने देश में मंगलवार (24 मार्च) से 31 मार्च तक के लिए सभी डॉमेस्टिक फ्लाइट रद्द करने को कहा है। इंडिगो के चीफ ने कहा, ''ऐसे में जिन कर्मचारियों को इस अस्थायी निलंबन की अवधि में काम नहीं करना पड़ रहा है। हम उनके वेतन में कोई कटौती नहीं करेंगे और ना ही उनकी छुट्टियां काटेंगे।''

इंडिगो के चीफ ने कहा, ”ऐसे में जिन कर्मचारियों को इस अस्थायी निलंबन की अवधि में काम नहीं करना पड़ रहा है। हम उनके वेतन में कोई कटौती नहीं करेंगे और ना ही उनकी छुट्टियां काटेंगे।”

INDIGO ने अपने कर्मचारियों को घरेलू उड़ानों के सस्पेंड रहने की अवधि में सैलरी और छुट्टी नहीं कटने का ऐलान किया है। इंडिगो ने अपने स्टाफ को भरोसा दिया है कि इन हालातों में वे किसी भी कर्मचारी की न ही सैलरी काटेंगे और न ही उनकी छुट्टियां कम होंगी। इंडिगो के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रंजय दत्ता ने कर्मचारियों को भेजे एक ई-मेल में कहा कि कंपनी के पास अप्रैल के लिए पहले से यात्रियों की आगे के लिए काफी बुकिंग है। इंडिगो कम क्षमता के साथ ही फिर से उड़ान भरने के लिए तैयार है।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए सरकार ने देश में मंगलवार (24 मार्च) से 31 मार्च तक के लिए सभी डॉमेस्टिक फ्लाइट रद्द करने को कहा है। इंडिगो के चीफ ने कहा, ”ऐसे में जिन कर्मचारियों को इस अस्थायी निलंबन की अवधि में काम नहीं करना पड़ रहा है। हम उनके वेतन में कोई कटौती नहीं करेंगे और ना ही उनकी छुट्टियां काटेंगे।” दत्ता ने कहा कि ”पिछले कुछ दिन विमानन कंपनी के लिए काफी चुनौती भरे रहे हैं और निश्चित तौर पर आने वाले कुछ हफ्तों में हमारी आय, हमारी लागत से कम रहेगी। ऐसे में हमें अपनी नकदी और पाई-पाई बचाने के प्रयास करने होंगे।”

उन्होंने कहा यह भी कहा कोविड-19 के चलते भले ही उड़ानें बंद हुई हों लेकिन किसी उनके सभी कर्मचारियों वेतन और छुट्टियों के अलावा सारी सुविधाएं मिलेंगी। दत्ता ने यह भी कहा कि वह सभी कर्मचारियों को सैलरी देंगे लेकिन खुद 25 प्रति कम वेतन लेंगे। इंडिगो के सीईओ ने वेतन कटौती की घोषणा करते हुए कहा कि कोराना वायरस महामारी के कारण आय में काफी कमी हुई है, इससे एयरलाइन उद्योग का अस्तित्व संकट में है।

वहीं इंडिगो के फ्लाइट ऑपरेशन के प्रमुख अशीम मित्रा ने बृहस्पतिवार सुबह पायलटों को भेजे एक ईमेल में कहा कि विमानन क्षेत्र में आर्थिक माहौल काफी बिगड़ गया है और अगले कुछ दिनों तथा हफ्तों में सख्त कदम उठाना आवश्यक हो गया है। मित्रा ने ईमेल में कहा, ”आर्थिक माहौल काफी बिगड़ गया है और कोई भी विमानन कंपनी इस गिरावट से बची नहीं है। एशिया की सबसे बड़ी एयरलाइंस इंडिगो के 30 फीसद टैफिक कम हो गया है। वहीं सिंगापुर एयरलाइंस लिमिटेड के भारतीय उपक्रम विस्तारा, बोइंग कंपनी 787 ड्रीमलाइनर्स के पहले बैच के वितरण में देरी करने पर विचार कर रही है।

Next Stories
1 एमपी: फूल ले पहुंचे कमलनाथ, इंतजार कर रहे शिवराज ने भी गाड़ी का दरवाजा खुलते ही पकड़ाया फूल
2 Covid-19 Coronavoirus: Air India के बाद Indigo के स्टाफ के साथ दुर्व्यवहार, वीडियो में सुनाई आपबीती
3 Hydroxychloroquine: क्या है कोरोना से लड़ने के लिए ICMR का सुझाया हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन ?
यह पढ़ा क्या?
X