ताज़ा खबर
 

देसी गायों के वजूद पर खतरा! केंद्र सरकार सहित 90 को मिला सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में केन्द्र सरकार, राज्य सरकारों, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और विभिन्न जैव विविधता बोर्ड समेत 90 को नोटिस जारी किया है।

Author नई दिल्ली | July 22, 2019 10:25 PM
देसी गायों के अस्तित्व पर संकट बढ़ गया है।

देश में देसी गायों के वजूद पर खतरा उत्पन्न हो गया है! दरअसल विदेशी सांडों के आयात और क्रॉस-ब्रीडिंग के चलते यह हालात पैदा हो गए हैं कि देसी गायों के अस्तित्व पर संकट खड़ा हो गया है। इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। इस याचिका में विदेशी सांडों के आयात पर रोक लगाने और अनाधिकृत बूचड़खानों को तत्काल बंद किए जाने की मांग की है। जस्टिस अरुण मिश्रा और जस्टिस एमआर शाह की पीठ ने इस याचिका के आधार पर केन्द्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

बता दें कि मताला चंद्रपति राव नामक एक व्यक्ति ने सुप्रीम कोर्ट में उक्त याचिका दाखिल की है। याचिका में देसी गायों के संरक्षण की मांग की गई है। वहीं सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में केन्द्र सरकार, राज्य सरकारों, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड और विभिन्न जैव विविधता बोर्ड समेत 90 को नोटिस जारी किया है। याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में कहा है कि राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) ने इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं की है। द हिंदू की एक खबर के अनुसार, याचिका में कहा गया है कि ‘भारतीय गायें, जो कि पिछले 35,000 सालों से यहां हैं, वह दिन प्रतिदिन क्रॉस ब्रीडिंग और अवैध बूचड़खानों के चलते यहां से समाप्त हो रही हैं।’

याचिका में आरोप लगाया गया है कि सरकार इस दिशा में कोई कदम नहीं उठा रही है। याचिका में मांग की गई है कि विदेशी सांडों के आयात पर रोक लगे और साथ ही यहां मौजूद विदेशी सांडों की नसबंदी करायी जाए। याचिका के अनुसार, गायों की अवैध बूचड़खानों में हत्या से पर्यावरण, भूमि और लोगों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App