scorecardresearch

Electric Double Dekar Bus: मुंबई को मिली पहली इलेक्ट्रिक डबल डेकर बस, नितिन गडकरी ने दिखाई हरी झंडी, जानें क्या है खास

First EV Double Dekar Bus Launched: अभी तक इसके पहले स्विच मोबिलिटी व्हीकल सिर्फ यूनाइटेड किंगडम में अपनी ट्विन-फ्लोर इलेक्ट्रिक एसी बसों का संचालन कर रहा था। ये भारत की पहली ऐसी बस है जिसकी रेंज 250 किलोमीटर है।

Electric Double Dekar Bus: मुंबई को मिली पहली इलेक्ट्रिक डबल डेकर बस, नितिन गडकरी ने दिखाई हरी झंडी, जानें क्या है खास
First EV Double Dekar Bus: नितिन गडकरी ने दिखाई हरी झंडी (Photo- Twitter/ @nitin_gadkari)

First Electric Double Dekar Bus: आज पेट्रोल, डीजल की बढ़ती महंगाई को देखते हुए हमने ईंधन का नया विकल्प सोचना शुरू कर दिया है। इलेक्ट्रिक व्हीकल ऐसा ही एक बड़ा उदाहरण है। पहले इलेक्ट्रिक व्हीकल में टू व्हीलर्स आए फिर कारें आई और अब अशोक लीलैंड के ईवी डिवीजन ने देश की पहली डेबल डेकर बस भी लांच कर दी है। ये बस सभी तरह की सुविधाओं से लैस है। ये दो फ्लोर में है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार (18 अगस्त) को इस बस को हरी झंडी दिखाकर लांच किया।

अशोक लीलैंड ने भारत की पहली स्विच मोबिलिटी इलेक्ट्रिक डबल-डेकर एसी बस का आज उद्घाटन कर दिया है। इस बस के आने से एक बार फिर फ्यूल की बढ़ती कीमतों से राहत पाने का विकल्प दिखाई देने लगा है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने इस बस का उद्घाटन करते हुए कहा, देश की पहली डबल डेकर इलेक्ट्रिक बस को लांच करने में आज मुझे काफी खुशी महसूस हो रही है।

250 किलोमीटर होगी एक बार चार्ज करने पर रेंज

अभी तक इसके पहले स्विच मोबिलिटी व्हीकल सिर्फ यूनाइटेड किंगडम में अपनी ट्विन-फ्लोर इलेक्ट्रिक एसी बसों का संचालन कर रहा था। ये भारत की पहली ऐसी बस है जिसकी रेंज 250 किलोमीटर है। इस इलेक्ट्रिक डबल-डेकर एसी बस EiV22 में 231 kWh किलोवाट की बैटरी लगाई गई है और इसे चार्ज करने के लिए एक ड्यूल गन चार्जिंग सिस्टम है और इसे चार्ज करने के लिए डुअल गन चार्जिंग सिस्टम है।

300 मिलियन पाउंड के निवेश का ऐलान

इसके पहले इसी साल के अप्रैल महीने में स्विच मोबिलिटी ने यूके और भारत में इलेक्ट्रिक बसों और हल्के कॉमर्शियल वाहनों की एक सीरीज को विकसित करने के लिए 300 मिलियन पाउंड निवेश करने का ऐलान किया था। स्विच EiV 22 मॉडल को विशेष तौर पर भारत के लिए विकसित किया गया है। इस बस की डिजाइन और इसकी बॉडी को ऐसे विकसित किया गया कि वो भारत की सड़कों के अनुकूल रहे। इसके साथ ही कंपनी को इस बात का भरोसा भी है कि ये आने वाले समय में भारत में पब्लिक ट्रांसपोर्ट के रूप में इस्तेमाल किए जाने पर सफलता की इबारत लिखने में कामयाब रहेगी।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट