Indian Railways IRCTC: अब सस्ते में कर सकेंगे लखनऊ-दिल्ली के बीच सफर, लगने वाला है स्पेशल कोच

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज (पहले इलाहाबाद) से जयपुर (राजस्थान में) चलने वाले ट्रेन में भी इस तरह का कोच लगेगा।

Indian Rail, IRCTC, New Delhi, Lucknow
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः पार्था पॉल)

Indian Railways IRCTC News in Hindi: दिल्ली और लखनऊ के बीच का सफर आरामदायक होने के साथ अब सस्ते में भी हो सकेगा। ऐसा इसलिए, क्योंकि इन दोनों राजधानियों के बीच चलने वाली वातानुकूलित ट्रेन में स्पेशल कोच लगने वाले हैं।

बुकिंग भी हो चुकी है चालूः दरअसल, रेल मंत्रालय ने एसी एक्सप्रेस स्पेशल (दिल्ली-लखनऊ) में नए थ्री टियर एसी इकनॉमी कोच जोड़ने का निर्णय ले लिया है। ट्रेन में 10 सितंबर तक ये कोच लगने की उम्मीद है। रेल मंत्रालय के हवाले से एक हिंदी अखबार की रिपोर्ट में बताया गया, “02429 स्पेशल एसी एक्सप्रेस (दिल्ली से लखनऊ) में 10 सितंबर से एसी थ्री टियर इकनॉमी कोच जोड़ दिए जाएंगे। ट्रेन के लिए बुकिंग भी शुरू हो गई है।”

इस गाड़ी में भी लगेंगे ऐसे कोचः जानकारी के मुताबिक, दोनों शहरों के बीच चलने वाली ट्रेन लखनऊ मेल स्पेशल में भी कुछ ऐसे ही मिलती-जुलती बोगियों जोड़ी जाएंगी। इनकी संख्या दो होगी। गाड़ी में 15 सितंबर तक इन बोगियों के लगने जाने की संभावना है। अफसर ने समाचार पत्र को इस बाबत बताया, “02229 और 02230 लखनऊ मेल स्पेशल में भी इसी तरह की दो बोगियों को जोड़ा जाएगा।”

अधिक आरामदेह हैं नए कोचः नए एसी थ्री टियर इकनॉमी कोच अधिक आरामदेह बताए जा रहे हैं। रेलवे का दावा है कि इन्हें जर्मन तकनीक के एलएचबी प्लैटफॉर्म पर डेवलप किया गया है। इस कोच में खाना गर्म करने वाला बॉक्स नहीं है। यही वजह है कि 11 अतिरिक्त बर्थ लग पाई हैं। इतना ही नहीं, कोच के भीतर इलेक्ट्रॉनिक स्विच कंट्रोल बॉक्स बोगी के नीचे शिफ्ट किया गया है।

नई बोगियों का क्या होगा बेस फेयर?: बोगी का किराया रेलवे के हिसाब से सामान्स एसी थ्री टियर कोच की तुलना में आठ प्रतिशत कम रखा गया है। नई बोगियों का बेस फेयर, मेल और एक्सप्रेस गाड़ियों के स्लीपर क्लास के किराए का 2.4 गुणा होगा। वैसे, रिजर्वेशन शुल्क, सुपरफास्ट सरचार्ज और गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) सरीखे चार्ज थ्री टियर एसी कोच के बराबर ही होंगे।

बोगी को क्या चीजें बनाती हैं खास?:

  • सीटें और आरामदायक हैं।
  • हर बर्थ में साइड फोन स्टैंड दिया गया है।
  • लाइट की सुविधा भी दी गई है।
  • गिलास या मग स्टैंड भी है।
  • विंडो (खिड़की) में पर्दे नहीं है। अब फ्लिप सिस्टम वाली शीट है। इसे ऊपर कर के यात्री बाहर का नजारा देख सकेंगे, जबकि नीचे गिराकर उसे बंद कर सकेंगे। हालांकि, खिड़की इस दौरान बंद ही रहेगी।
  • किनारे की सीट्स भी आरामदायक है।
  • एक बर्थ में करीब 83 हैं।
  • कोच का गेट स्लाइडर वाला है। खिसका कर खुलेगा।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट