ताज़ा खबर
 

Indian Railways ने चक्रवाती तूफान को लेकर ये ट्रेनें कीं कैंसल, देखें लिस्ट

Indian Railways: पश्चिमी रेलवे ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि वेरावल, ओखा, पोरबंदर, भावनगर, भुज और गांधीधाम को जाने वाली सभी ट्रेनें गुरुवार से लेकर शुक्रवार तक पूरी तरह से या फिर आंशिक रुप से कैंसिल कर दी गई हैं।

indian railwaysचक्रवाती तूफान वायु के चलते कई ट्रेनें हुईं रद्द।

Indian Railways: चक्रवाती तूफान आज गुरुवार को गुजरात के तटीय इलाकों से टकराएगा। इस दौरान 150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। तूफान के प्रभावों से निपटने के लिए प्रशासन ने काफी तैयारी की है। वहीं चक्रवाती तूफान (Cyclone Vayu) के चलते परिवहन व्यवस्था भी बुरी तरह से प्रभावित हुई है। दरअसल पश्चिमी रेलवे ने भी सावधानी बरतते हुए तूफान के चलते गुजरात में 15 ट्रेनों को कैंसिल कर दिया है, वहीं 16 अन्य ट्रेनों को आंशिक रुप से कैंसिल किया गया है। एनबीटी की एक खबर के अनुसार, ये ट्रेनें शुक्रवार तक कैंसिल रहेंगी। साथ ही रेलवे अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि राहतकार्यों के लिए कर्मचारियों के साथ-साथ मशीनों, जैसे जेसीबी, पेड़ काटने के उपकरण और पानी के टैंक भी तैयार रखें, ताकि जल्द से जल्द प्रभावित रेलमार्ग पर परिवहन शुरू किया जा सके।

पश्चिमी रेलवे ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि वेरावल, ओखा, पोरबंदर, भावनगर, भुज और गांधीधाम को जाने वाली सभी ट्रेनें गुरुवार से लेकर शुक्रवार तक पूरी तरह से या फिर आंशिक रुप से कैंसिल कर दी गई हैं। खबर के अनुसार, पश्चिमी रेलवे इस स्थिति से निपटने के लिए स्पेशल ट्रेनें चलाएगा, जिनसे लोगों को राजकोट डिविजन से बाहर निकाला जाएगा। ये स्पेशल ट्रेनें लोगों को प्रभावित क्षेत्रों से निकालकर सुरक्षित जगहों पर ले जाएंगी।

रेल परिवहन के साथ-साथ एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने पोरबंदर, दीव, भावनगर, केशोद एवं कांडला में बुधवार रात से ही विमानों के परिचालन पर रोक लगा दी है। यह रोक गुरुवार आधी रात तक जारी रहेगी। हालांकि मौसम विभाग ने बताया है कि चक्रवाती तूफान वायु ने अपना रास्ता बदल लिया है। जिसके बाद माना जा रहा है कि चक्रवाती तूफान गुजरात के तटीय इलाकों को छूकर ही निकल जाएगा। तूफान के चलते तेज आंधी और भारी बारिश होने की आशंका जतायी जा रही है। गुजरात सरकार ने राहत और बचाव कार्यों के लिए एनडीआरएफ की 52 टीमें तूफान संभावित इलाकों में तैनात की हैं। इसके अलावा केन्द्र सरकार भी स्थिति पर नजर बनाए हुए है। गृह मंत्रालय लगातार राज्य सरकार और केन्द्र शासित राज्यों के संपर्क में है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ऑडिटर ने दिया इस्तीफा, कहा- अनिल अंबानी की दो कंपनियों के खातों में गड़बड़, बताने पर भी ठोस कार्रवाई नहीं
2 कांग्रेस ने चार विधानसभा चुनावों पर की बड़ी बैठक, पर नहीं पहुंचे राहुल व सोनिया गांधी
3 CPM से छिन सकता है संसद भवन में मिला दफ्तर और राष्ट्रीय पार्टी का दर्जा, राज्य सभा में नहीं दिखेंगे दिग्गज सीताराम येचुरी
IPL 2020
X