ताज़ा खबर
 

अबकी बार, कोहरे पर वारः Train Late हुई तो प्लेटफॉर्म पर नहीं करना पड़ेगा इंतजार, रेल मंत्री ने किया यह ऐलान

रेलमंत्री पीयूष गोयल ने इस बारे में ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में एसएमएस सेवा सुविधा को दिखाने के लिए एक वीडियो भी शेयर किया है। उसमें उन्होंने बताया है कि रेल यात्रियों को रेलवे जल्दी ही एसएमएस भेजना शुरू करेगा।

Author नई दिल्ली | Published on: November 18, 2019 4:22 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर, (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

ठंड बढ़ते ही ट्रेनों पर कोहरे की मार शुरू हो जाती है। इस वजह से रेल यातायात पर बुरा असर पड़ता है। ट्रेनें घंटों लेट होने लगती हैं। इससे यात्रियों को तो दिक्कतें झेलनी ही पड़ती हैं, रेलवे को भी काफी नुकसान का सामना करना पड़ता है। इसको लेकर रेलवे ने यात्रियों को ट्रेनों के बारे में रियल टाइम अपडेट्स उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है।

रेलमंत्री ने ट्वीट से दी जानकारी : रेलमंत्री पीयूष गोयल ने इस बारे में ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में एसएमएस सेवा सुविधा को दिखाने के लिए एक वीडियो भी शेयर किया है। उसमें उन्होंने बताया है कि रेल यात्रियों को रेलवे जल्दी ही एसएमएस भेजना शुरू करेगा। इससे यात्रियों को काफी फायदा होगा। एसएमएस सुविधा से यात्रियों को उनके मोबाइल नंबर पर ट्रेन के लेट होने की जानकारी दी जाएगी। इसके साथ ही ट्रेन की लोकेशन, उसके स्टेशन पर पहुंचने का अनुमानित समय भी एसएमएस से बताया जाएगा।

Hindi News Today, 18 November 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की बड़ी खबरों के लिए क्लिक करें

सुविधाओं से रेलयात्रियों की सहूलियत : रेलवे ने तय किया है कि रात 11 बजे से लेकर सुबह 7 बजे तक स्पेशल पेट्रोलिंग टीमों को तैनात किया जाएगा। साथ ही ट्रेनों में फॉग सेफ्टी डिवाइसेज लगाए जाएंगे, जिससे ड्राइवर को सिग्नल पोस्ट पर ऑडियो-विजुअल क्यू मिलेगा। रेलवे को उम्मीद है इन सुविधाओं से रेलयात्रियों की यात्रा में सहूलियत होगी और रेल विभाग को भी ट्रेनों के आवागमन को दुरुस्त रखने में सुविधा होगी।

रेलवे का होता है आर्थिक नुकसान : दरअसल ठंड और कोहरे की वजह से ट्रेनें कई-कई घंटे लेट हो जाती हैं। कई बार तो स्थिति इतनी खराब हो जाती है कि ट्रेनें कैंसल तक करने की नौबत आ जाती है। इससे लंबी दूरी के यात्रियों को अपनी यात्री कैंसल करनी पड़ती है और अपनी योजना टालनी पड़ती है तो दूसरी तरफ रेलवे को भी काफी आर्थिक नुकसान झेलने को विवश होना पड़ता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 1300 चीनी सैनिकों को 120 भारतीय रणबांकुरों ने मारा, बर्फीली चोटी पर हुई वो लड़ाई जिसके बारे में कोई ना जान सका
2 शिवसेना नेता संजय राउत बोले: अरुण जेटली का जाना श‍िवसेना का नुकसान, उनसे सीखा- कैसे न‍िभाते हैं र‍िश्‍ते
3 ‘आडवाणी को बाबरी मस्जिद विध्वंस का पछतावा था’, अटल के साथी नेता बोले- ‘Ayodhya Verdict में कई खामियां, फिर भी मुस्लिम स्वीकार करें’
ये पढ़ा क्‍या!
X