ताज़ा खबर
 

IRCTC का स्‍पेशल मेन्‍यू: गांधी जयंती पर ट्रेनों में सिर्फ शाकाहारी खाना, नॉनवेज के लिए रखी शर्त

इस साल जनवरी में रेलवे बोर्ड ने फैसला किया था कि गांधी जयंती के अवसर पर ट्रेनों में मांसाहारी खाना नहीं परोसा जाएगा। अब बीते हफ्ते रेलवे ने इस योजना को लागू कर दिया है।

भारतीय रेलवे गांधी जयंती पर मांसाहारी खाना नहीं परोसेगा। (file pic)

यदि आप 2 अक्टूबर को ट्रेन से यात्रा करने वाले हैं तो बता दें कि उस दिन आपको ट्रेन में सिर्फ शाकाहारी खाना मिलेगा। दरअसल महात्मा गांधी की 150वीं जयंती को सेलिब्रेट करने के लिए IRCTC स्पेशल शाकाहारी मेन्यू पेश करने जा रहा है और इस दिन IRCTC की तरफ से मांसाहारी खाना नहीं परोसा जाएगा। आईआरसीटीसी के प्रवक्ता के अनुसार, सभी जोनल रेलवे में आईआरसीटीसी ऑपरेटर को निर्देश दिए गए हैं कि वह गांधी जयंती के अवसर पर ट्रेनों में सिर्फ शाकाहारी खाना ही परोसे। हालांकि जो यात्री 1 अक्टूबर से अपनी यात्रा शुरु करेंगे उनके लिए शाकाहारी और मांसाहारी दोनों तरह के खाने का ऑप्शन होगा। 2 अक्टूबर को बापू की जयंती मनाने के लिए रेलवे ने व्यापक योजना बनाई है। इस दिन

लेकिन यदि ये यात्री 2 अक्टूबर को भी यात्रा करेंगे तो उन्हें मांसाहारी खाना नहीं मिल सकेगा। इसी तरह यदि यात्री 3 अक्टूबर को भी यात्रा पर रहेंगे तो उन्हें फिर से मांसाहारी खाना मिलना शुरु हो जाएगा। इस साल जनवरी में रेलवे बोर्ड ने फैसला किया था कि गांधी जयंती के अवसर पर ट्रेनों में मांसाहारी खाना नहीं परोसा जाएगा। अब बीते हफ्ते रेलवे ने इस योजना को लागू कर दिया है। गांधी जयंती पर आईआरसीटीसी यात्रियों को स्पेशनल मेन्यू ऑफर करेगी। स्पेशल मेन्यू के तहत यात्रियों को गांधी जयंती पर विभिन्न तरह के परांठे, कुल्चे, पनीर की डिशेस और विभिन्न तरह की मिठाईंया मिलेंगी।

HOT DEALS
  • Honor 9I 64GB Blue
    ₹ 14784 MRP ₹ 19990 -26%
    ₹2000 Cashback
  • Coolpad Cool C1 C103 64 GB (Gold)
    ₹ 11290 MRP ₹ 15999 -29%
    ₹1129 Cashback

सेंट्रल रेलवे और वेस्टर्न रेलवे गांधी जयंती के अवसर पर डिजिटल म्यूजियम लॉन्च करेंगे। इसके साथ ही रेलवे स्वच्छता पखवाडा़ का आयोजन भी करेगा। यह स्वच्छता पखवाड़ा 15 सितंबर से शुरु होकर 2 अक्टूबर तक चलेगा। इस दौरान रेलवे परिसरों, स्टेशन पर स्थित टॉयलेट्स आदि की साफ-सफाई के लिए अभियान चलाए जाएंगे।

डिजिटल म्यूजियम मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस, थाने और लोनावाला रेलवे स्टेशन पर स्थापित किया जाएगा। इस म्यूजियम में देश की आजादी में महात्मा गांधी के योगदान द्वारा रेलवे के इतिहास के बारे में जानकारी दी जाएगी। पहली यात्री ट्रेन महाराष्ट्र के बोरी बंदर रेलवे स्टेशन और थाने रेलवे स्टेशन के बीच चलायी गई थी। डिजिटल म्यूजियम में पहली यात्री ट्रेन के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। सेंट्रल रेलवे तो महात्मा गांधी के जीवन पर एक वृत्तचित्र का भी आयोजन करने की योजना बना रहा है। इस वृत्तचित्र में महात्मा गांधी की छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस की यात्राओं की कहानी का उल्लेख किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App