ताज़ा खबर
 

SCO समिटः डिनर के बाद फोटो सेशन में भी PM नरेंद्र मोदी रहे इमरान खान से दूर, बैठक में आतंक पर घेरा पाकिस्तान को

इससे कुछ देर पहले, एससीओ सदस्य देशों के नेताओं की बैठक हुई थी, जिसमें पीएम भी शामिल रहे। खास बात है कि सम्मेलन के पहले दिन यानी कि गुरुवार (13 जून, 2019) को भी मोदी और इमरान के बीच दूरियां नजर आई थीं।

Author नई दिल्ली | June 14, 2019 2:02 PM
SCO सम्मेलन के दूसरे दिन संयुक्त फोटो सेशन के दौरान पीएम मोदी ने इमरान खान की तरफ देखा भी नहीं। (फोटोः टि्वटर/ @PMOIndia)

शंघाई कॉपरेशन ऑर्गनाइजेशन (एससीओ) समिट के दूसरे दिन भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने पाकिस्तानी समकक्ष इमरान खान से दूर नजर आए। शुक्रवार (14 जून, 2019) को किर्गिस्तान के बिश्केक में हुए कार्यक्रम में फोटो शूट के दौरान पीएम मोदी ने इमरान से दूरी बनाए रखी। एससीओ सदस्य देशों के राष्ट्राध्यक्षों को जब संयुक्त तौर पर फोटोग्राफ खिंचाने के लिए बुलाया गया, तब मोदी चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ-साथ चल रहे थे, जबकि इमरान उस दौरान बाकी नेताओं के साथ पीछे थे।

मोदी इसके बाद मंच पर सबसे किनारे खड़े हो गए, जबकि रूसी राष्ट्रपति व्लादीमिर पुतिन के बगल में खड़े हुए। तस्वीर खिंचाने के दौरान पीएम मोदी ने इमरान की तरफ देखा भी नहीं, जबकि फोटो सेशन के बाद वह अगल-बगल खड़े नेताओं के साथ आगे बढ़ गए। समाचार एजेंसी एएनआई ने घटना से जुड़ा एक वीडियो भी जारी किया है, जिसमें साफ-साफ नजर आया कि पीएम मोदी और इमरान खान कितने दूर थे। देखें, पूरी क्लिपः

एससीओ नेताओं को संबोधित करते हुए पीएम मोदी आगे बोले, “साहित्य और संस्कृति हमारे समाज को सकारात्मकता देती है। ऐसे में युवाओं के बीच कट्टरता फैलाना बंद किया जाना चाहिए। श्रीलंका दौरे पर मैंने आतंक का घिनौना रूप देखा था, जिसने मासूमों की जिंदगियां लील ली थीं। आतंक का सामना करने के लिए, सभी मानवतावादी ताकतों को आगे आना होगा। जो भी देश आतंक को बढ़ावा, सहयोग और आर्थिक मदद देंगे, उन्हें उसके लिए जिम्मेदार ठहराया जाएगा।” फोटो सेशन से कुछ देर पहले, एससीओ सदस्य देशों के नेताओं की बैठक हुई थी, जिसमें पीएम भी शामिल रहे।

रोचक बात है कि सम्मेलन के पहले दिन यानी कि गुरुवार (13 जून, 2019) को भी मोदी और इमरान के बीच दूरियां नजर आई थीं। दरअसल, बिश्केक में एससीओ सदस्य देशों के नेताओं के गुरुवार रात डिनर आयोजित किया गया था। पीएम मोदी व इमरान खान भी उसमें शामिल हुए, पर उन दोनों ने न तो हाथ मिलाए और न ही कोई बातचीत हुई। कुछ टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक, उन दोनों के बीच तब करीब चार कुर्सियों का फासला था।

पीएम मोदी ने सुबह एससीओ राष्ट्र प्रमुखों की बैठक से पहले किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव से भेंट की। जीनबेकोव, एससीओ शिखर सम्मेलन 2019 के मौजूदा अध्यक्ष भी हैं, जबकि पीएम मोदी एससीओ परिषद् के राष्ट्र प्रमुखों की बैठक से पहले ‘अला अरचा प्रेजीडेंशियल पैलेस’ पहुंचे, जहां किर्गिस्तानी राष्ट्रपति ने उनका स्वागत किया था।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, ‘‘पीएम मोदी सुबह एससीओ परिषद् के राष्ट्र प्रमुखों की बैठक से पहले अला अरचा प्रेंजीडेंशियल पैलेस पहुंचे, जहां किर्गिज गणराज्य के राष्ट्रपति एवं एससीओ शिखर सम्मेलन 2019 के मौजूदा अध्यक्ष सूरोनबे जीनबेकोव ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया।’’ बता दें कि बीजेपी को 2019 के आम चुनाव में मिली जीत के बाद मोदी के दोबारा पीएम के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली वार्ता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X