ताज़ा खबर
 

चीनी एयरलाइन ने भारतीय यात्रियों के साथ की बदतमीजी, सुषमा स्‍वराज तक पहुंचा मामला

यात्री ने इसकी शिकायत भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से की जिसके बाद उन्होंने इस मामले को चीन विदेश मंत्रालय के समक्ष उठाया है।
Author नई दिल्ली | August 13, 2017 17:18 pm
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज

भारत-चीन के बीच विवाद इतना बढ़ चुका है कि अब चीनी एयरलाइन्स द्वारा भारतीय यात्रियों के साथ अभद्र व्यवहार किया जा रहा है। यह मामला शांघाई पुडुंग अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का है जहां पर एक भारतीय यात्री ने चीनी एयरलाइन के स्टाफ पर अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगाया है। यह घटना रविवार की है। यात्री ने इसकी शिकायत भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से की जिसके बाद उन्होंने इस मामले को चीन विदेश मंत्रालय के समक्ष उठाया है। सूत्रों द्वारा पीटीआई को दी गई जानकारी के अनुसार इस मामले की सूचना चीन विदेश मंत्रालय के शांघाई विदेश ऑफिस और पुडुंग एयरपोर्ट ऑथोरिटी को दी गई है।

इसी बीच चीन इस्टर्न एयरलाइन्स ने खुद पर लगे सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है। एयरलाइन का कहना है कि इस घटना के सामने आने के बाद एयरपोर्ट के सीसीटीवी फुटेज लेकिन उनमें ऐसा कुछ भी नहीं है जिससे की स्टाफ द्वारा अभद्रता किए जाने की बात सामने आए। सुषमा स्वराज से इस मामले की शिकायत करने वाले व्यक्ति का नाम सतनाम सिंह चहल है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि नई दिल्ली से उन्होंने अमेरिका के सैन फरांसिस्को जाने के लिए अगस्त 6 को चाइनीज़ ईस्टर्न एयरलाइन्स से ट्रेवल कर रहे थे। उनका बीच में शांघाई पुडुंग एयरपोर्ट पर स्टॉप था। यहां से उन्हें इसी एयरलाइन की दूसरी फ्लाइट से सैन फ्रांसिस्को जाना था।

शांघाई पर प्लेन से उतरते समय उन्होंने देखा कि जिस निकासी गेट से प्लेन में व्हीलचेयर वाले यात्रियों की निकलने की जगह थी, वहां पर ग्राउंड स्टाफ गेट से निकलते भारतीय यात्रियों का अपमान कर रहा था। इसकी शिकायत जब चहल ने एयरलाइन अधिकारियों से करनी चाही तो वे उन पर चिल्लाने लगे। चहल ने अपने पत्र में कहा कि मैंने स्टाप के बॉडी लैंग्वेज से जाना कि वे भारत और चीन के बीच बॉर्डर को लेकर चल रहे तनाव को लेकर काफी निराश थे। इसी के साथ चहल ने सुषमा स्वराज से यह मांग भी की है कि किसी भारतीय यात्री को चीन से होते हुए दूसरे देश न जाने के लिए एक एड्वाइजरी जारी की जाए।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.