ताज़ा खबर
 

Independence Day Speech 2017: स्वतंत्रता दिवस पर देना है आपको भाषण? जानिए पीएम ने क्या कहा है

Independence Day Speech 2017: 15 अगस्‍त, 2017 को भारत की आजादी की 70वीं सालग‍िरह है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चौथी बार लाल क‍िले की प्राचीर पर झंडारोहण करेंगे और देश को संबोध‍ित करेंगे।
स्वतंत्रता दिवस

15 अगस्‍त, 2017 को भारत की आजादी की 70वीं सालग‍िरह है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चौथी बार लाल क‍िले की प्राचीर पर झंडारोहण करेंगे और देश को संबोध‍ित करेंगे। 15 अगस्त 2014 को प्रधानमंत्री मोदी ने पहली बार लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित क‍िया था। मोदी ने खुद को प्रधान सेवक बताते हुए करीब एक घंटे का भाषण दिया, जिसमें पीएम मोदी ने देश का विकास, बलात्कार, देश में हुई साम्प्रदायिक हिंसाओं जैसे मुद्दों पर बात की। अपने भाषण में पीएम मोदी ने कन्या भ्रूण हत्या का मुद्दा उठाते हुए कहा- ‘बेटों की आस में बेटियों की बलि मच चढ़ाइए।’ राष्ट्रीय खेलों का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा- हमारे देश की बेटियों ने खेलों में देश का गौरव बढ़ाया है। साम्प्रदायिक हिंसा पर बोलते हुए पीएम ने कहा कि खून से देश की धरती लाल ही होगी। इससे किसी को कुछ नहीं मिलेगा। हम दस सालों में देश को विकसित समाज की ओर ले जाना चाहते हैं। अपने पहले भाषण में पीएम ने ई गवर्नेंस, मोबाइल गवर्नेंस, टूरिज़्म, स्किल इंडिया जैसे मुद्दों पर बात की। मोदी ने इसी भाषण में संसद ग्राम योजना की घोषणा की थी। इस योजना के तहत हर सासंद को अपने इलाके का एक गांव को आदर्श गांव बनाने का लक्ष्य रखा गया। सुने पीएम मोदी का पहला स्‍वतंत्रा द‍िवस भाषण-

15 अगस्त 2015 को पीपएम मोदी ने दूसरी बार स्‍वतंत्रता द‍िवस पर देश को संबोधित क‍िया। इसमें उन्‍होंने कई बार टीम इंडिया शब्द का इस्तेमाल किया। मोदी ने कहा- अगर 125 करोड़ देशवासी एक टीम बन जाते हैं तो देश एक नई ऊंचाइयों पर पहुंच जाता है। प्रधानमंत्री ने इस भाषण में एकता और भाईचारे की बात करते हुए कहा कि अगर देश की एकता बिखर जाती है तो सारे सपने चूरचूर हो जाते हैं। जातिवाद का जहर देश के लिए खतरनाक है। इस भाषण में मोदी ने अपनी सरकार की तारीफ करते हुए वन रैंक वन पेंशन, जनधन योजना, बीमा योजना और पेंशन योजना, भ्रष्टाचार कम करने जैसी उपलब्‍ध‍ियां ग‍िनाई थीं। ये है उनके भाषण का वीडियो:

2016 में पीएम मोदी का यह भाषण करीब 1.35 घंटे तक चला। इस भाषण में पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश का हजारों सालों का इतिहास है। वेद से विवेकानंद तक, उपनिषेदक से उपग्रह तक, महाभारत के भीम से लेकर भीमराव तक हमारा इतिहास बहुत बड़ा है। देश की आजादी के लिए अनेक पीढियों ने संघर्ष किया है। मोदी ने कहा कि मैं गरीब की थाली को महंगा नहीं होने दूंगा। साल 2022 तक मैंने किसान की कमाई को दुगना करने का सपना देखा है। मोदी ने कहा कि हमारी सरकार की नीति और नीयत साफ है। हमारी सरकार ने आखिरी पायदान पर खड़े लोगों को लाभ पहुंचाया है। सुनें पीएम मोदी का ये भाषण-

बता दें क‍ि भारत की स्‍वतंत्रता की घोषणा के मौके पर 1947 में 14-15 अगस्‍त की मध्‍य रात्रि को देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने देश को संबोधित करते हुए पहला भाषण दिया था, जिसे ‘ट्रिस्ट विद डेस्टिनी’ के नाम से जाना जाता है। पंडित नेहरू ने कहा था- ‘आज रात 12 बजे जब सारी दुनिया सो रही होगी तो भारत स्वतंत्रता की नई सुबह के साथ उठेगा। एक ऐसा पल जो इतिहास में बहुत ही कम आता है। जब हम पुराने को छोड़ नए की और जाते हैं। जब एक युग का अंत होता है और वर्षों से शोषित एक देश की आत्मा एक बात कह सकती है।’ नेहरू ने कहा, ” कोई भी राष्ट्र तब तक महान नहीं बन सकता जब तक उसके लोगों की सोच या कर्म संकीर्ण है।” भारत की सेवा का अर्थ है लाखों-करोड़ों पीड़ितों की सेवा करना। इसका अर्थ है गरीबी, अज्ञानता, और अवसर की असमानता को मिटाना। हमारी पीढ़ी के सबसे महान व्यक्ति की यही इच्छा है कि हर आँख से आंसू मिटे। शायद ये हमारे लिए संभव न हो पर जब तक लोगों कि आंखों में आंसू हैं और वो पीड़ित हैं तब तक हमारा काम खत्म नहीं होगा। इसलिए हमें मेहनत करनी होगी। आज कोई भी अपने आप को अलग नहीं सोच सकता। हमे स्वतंत्र भारत का निर्माण करना है, जहां उसके सारे बच्चे रह सकें। हमारे लिए एक नया इतिहास शुरू हो चुका है, जिस पर हम काम करेंगे और दूसरे लोग लिखेंगे। पूर्व में स्वतंत्रता का नया तारा उगा है। काश ये तारा कभी अस्त न हो। एक नई आशा का जन्म हुआ है। भविष्य हमें बुला रहा है। हमें किधर जाना चाहिए और हमारे क्या प्रयास होने चाहिए। जिससे हम आम लोगों ने लिए अवसर ला सकें। सुनें पंडित नेहरू का ये भाषण-

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.