ताज़ा खबर
 

नई बाइडेन-हैरिस सरकार की खुशामदी न करे केंद्र, कमला हैं ‘हिंदू राष्ट्रवाद’ विरोधी, मोदी बनें आत्मनिर्भर- BJP सांसद ने किया आगाह

स्वामी ने पीएम मोदी को आत्मनिर्भर रहने को कहा है और अमेरिका की नई बाइडेन-हैरिस सरकार की खुशामदी न करने की सलाह दी है। स्वामी ने दावा किया है कि अमेरिकी उपराष्ट्रपति बनने जा रहीं कमला हैरिस 'हिंदू राष्ट्रवाद' विरोधी हैं।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: November 9, 2020 11:18 AM
ubramanian swamy, Narendra Modi, Donald Trump, narendra modiBJP नेता सुब्रमण्यम स्वामी (PTI Photo by Subhav Shukla)

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नसीहत दी है। स्वामी ने पीएम मोदी को आत्मनिर्भर रहने को कहा है और अमेरिका की नई बाइडेन-हैरिस सरकार की खुशामदी न करने की सलाह दी है। स्वामी ने दावा किया है कि अमेरिकी उपराष्ट्रपति बनने जा रहीं कमला हैरिस ‘हिंदू राष्ट्रवाद’ विरोधी हैं।

बीजेपी राज्यसभा सांसद ने सोमवार को ट्वीट कर लिखा “मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नई बाइडेन-हैरिस सरकार को भारत आमंत्रित किया जाएगा, केंद्र सरकार को उनकी खुशामदी नहीं करना चाहिए। भारत के मामलों में बाइडे हैरिस के माध्यम से आएंगे और ह वैचारिक रूप से “हिंदू राष्ट्रवाद” के खिलाफ हैं। जिसका मतलब बीजेपी है। ऐसे में मोदी को आत्मनिर्भर रहना चाहिए।”

बीजेपी नेता के इस ट्वीट पर यूजर ने भी अपनी प्रतिकृया दी है। एक यूजर ने लिखा “मुझे नहीं लगता कि वह हिंदू धर्म के खिलाफ है! वह लिबरल है! हर तरह से भारत एक ऐसी भूमि है जहाँ धर्म की स्वतंत्रता है। मुझे नहीं लगता कि हिंदू धर्म को सबसे महत्वपूर्ण धर्म माना जाना चाहिए! मैं कहता हूं कि हम जिसकी भी पूजा करते हैं, हम सब एक हैं।”

एक अन्य यूजर ने लिखा “बीजेपी और उसके ब्रेनवॉश समर्थकों को छोड़कर कोई भी हिंदू राष्ट्रवाद का समर्थन नहीं करता है, जो कि 133 करोड़ आबादी में मात्र 22 करोड़ हैं।” एक ने लिखा ” मोदीजी को आत्मनिर्भर के साथ साथ अपने आत्मसम्मान का भी ध्यान रखना चाहिए। अमेरिका को भी भारत की उतनी जरूरत है जितनी भारत को अमेरिका की।”

इससे पहले स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ट्वीट को लेकर कहा था कि यह अच्छा होगा कि पीएम मोदी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को ट्वीट कर उन्हें भारत का अच्छा दोस्त होने के लिए धन्यवाद देते। इसके साथ ही गणतंत्र दिवस के मौके पर उन्हें परेड के साथ-साथ बीटिंग द रिट्रीट में विशेष मेहमान के रूप में भारत आने का न्योता दें।

सुब्रमण्यम स्वामी ने यह भी कहा थे कि मैंने भारतीय जनता पार्टी की सरकार को संवैधानिक रास्ता दिखाया है। मैं एक घोड़े के लिए पानी तो ला सकता हूं लेकिन उसे पिला नहीं सकता।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Indian Railways, IRCTC: भारतीय रेलवे ने ऑनलाइन टिकट बुकिंग में किया बदलाव, यात्रियों को मिलेगा बड़ा फायदा
2 कृषि क़ानून: मोदी सरकार के फ़ैसले के विरोध में BJP में बग़ावत के बाद दलबदल, SAD में गए तरणतारण ज़िला पूर्व अध्यक्ष
3 भारत में चीनी निवेश वाले बिग बास्केट के दो करोड़ ग्राहकों का डेटा लीक
ये पढ़ा क्या ?
X