ताज़ा खबर
 

VIDEO: इस्लाम कबूल कर की शादी, असम से भाग बांग्लादेश गई मौसमी बोली- भारत नहीं आना

मौसमी जो अब धर्म बदलकर हिंदू से मुस्लिम बन गई है, वीडियो में बुर्का पहने दिखाई दे रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक बांग्लादेश पहुंचने के बाद मौसमी ने इस्लाम कबूल कर लिया और नूमन नाम के लड़के से शादी कर ली।

मौसमी दास (फोटो सोर्स- ट्विटर/@NANDANPRATIM)

असम से गायब हुई 21 वर्षीय मौसमी का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें उसने जानकारी दी है कि वह अपनी मर्जी से बांग्लादेश आई है और अब वह भारत वापस नहीं आना चाहती। दरअसल, 12 मार्च को मौसमी अपने घर से गायब हो गई थी, जिसके बाद उसके परिवार वालों ने उसके गायब होने की शिकायत करीमगंज पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई थी। इस शिकायत में मौसमी के परिजनों ने अपहरण की बात कही थी। 27 मार्च को वॉट्सऐप में एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें मौसमी ढाका पुलिस स्टेशन में बैठी हुई दिखाई दी थी। इसके बाद अब एक अन्य वीडियो सामने आया है जिसमें मौसमी यह बोलते हुए दिखाई दे रही है कि वह बांग्लादेश में खुश है और भारत वापस नहीं आना चाहती।

वीडियो में मौसमी ने जानकारी दी, ‘मैं मौसमी दास हूं। मैं भारत से यहां भागकर आई हूं और अपनी मर्जी से आई हूं, मैं वापस नहीं जाना चाहती, मैं अपने पति के साथ रहने चाहती हूं। बांग्लादेश बहुत अच्छा है, मुझे यहां रहना बहुत अच्छा लगता है और मैं यहीं रहना चाहती हूं। मैं 21 साल की हूं, कोई छोटी बच्ची नहीं हूं कि कोई भी मुझे उठाकर ले आएगा। मेरे पति का नाम नुमन बादशा है और मैं उनके साथ असम करीमगंज से आई हूं।’ मौसमी जो अब धर्म बदलकर हिंदू से मुस्लिम बन गई है, वीडियो में बुर्का पहने दिखाई दे रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक बांग्लादेश पहुंचने के बाद मौसमी ने इस्लाम कबूल कर लिया और नूमन नाम के लड़के से शादी कर ली। टीओआई के मुताबिक मौसमी के पास कोई वीजा या पासपोर्ट नहीं है, वह गैरकानूनी तरीके से अगरतला के रास्ते बांग्लादेश पहुंची है।

सरकारी सूत्रों के मुताबिक भारत सरकार ने इस मामले में बांग्लादेश दूतावास से बात की है और मामले पर नजर बनाए हुए है। सरकारी सूत्रों का कहना है, ‘बांग्लादेश दूतावास से हम संपर्क में हैं और उम्मीद है कि मौसमी के गैरकानूनी प्रवेश पर जरूर ध्यान दिया जाएगा।’ वहीं करीमगंज के डीएसपी गौरव उपाध्याय ने कहा,  ‘ढाका में मौसमी को भारतीय दूतावास के पहले सचिव के सामने पेश किया जा चुका है। जहां उसने कहा है कि वह अपनी मर्जी से बांग्लादेश आई है और अपनी मर्जी से ही उसने इस्लाम कबूल किया है।’ रिपोर्ट्स के मुताबिक नुमन बादशा व्यापार के मकसद से असम आया था, जहां उसकी मुलाकात मौसमी से हुई। दोनों में प्रेम संबंध बना और मौसमी उसके साथ भागकर बांग्लादेश पहुंच गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App