ताज़ा खबर
 

सर्जिकल स्ट्राइक में छुड़ाए थे दुश्मनों के छक्के, 3 आतंकी ढेर कर शहीद हुए लांस नायक संदीप सिंह

मुठभेड़ के दौरान संदीप सिंह ने आतंकियों की मूवमेंट नोटिस की और अपनी टीम के साथ आगे बढ़े। अचानक उनका सामना आतंकियों से हो गया। नजदीक से हुई मुठभेड़ में लांस नायक संदीप सिंह ने 3 आतंकियों को मौके पर ही ढेर कर दिया।

Author Published on: September 25, 2018 1:18 PM
लांस नायक संदीप सिंह की तस्वीर। (image source-ANI)

भारतीय सेना के जवान लांस नायक संदीप सिंह सोमवार को जम्मू कश्मीर में एक आतंकी हमले में शहीद हो गए। बता दें कि संदीप सिंह साल 2016 में पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक करने वाली फोर्स के सदस्य थे। लांस नायक संदीप सिंह ने जम्मू कश्मीर में  हुई मुठभेड़ के दौरान वीरता का अद्भुत परिचय देते हुए अपने साथियों की जान बचाते हुए 3 आतंकियों को ढेर कर दिया। हालांकि इस मुठभेड़ में वह बुरी तरह से घायल हो गए और बाद में अस्पताल ले जाते हुए उनकी मौत हो गई। लांस नायक संदीप सिंह पंजाब के गुरदासपुर जिले के निवासी थे। वह अपने पीछे अपनी पत्नी और 5 साल के बेटे को छोड़ गए हैं।

लांस नायक संदीप सिंह सोमवार को जम्मू कश्मीर के तंगधार सेक्टर में गंगाधरी नार इलाके में आतंकियों के खिलाफ मुठभेड़ में 4 पैरा कमांडो टीम का नेतृत्व कर रहे थे। मुठभेड़ के दौरान संदीप सिंह ने आतंकियों की मूवमेंट नोटिस की और अपनी टीम के साथ आगे बढ़े। अचानक उनका सामना आतंकियों से हो गया। नजदीक से हुई मुठभेड़ में लांस नायक संदीप सिंह ने 3 आतंकियों को मौके पर ही ढेर कर दिया। हालांकि इस दौरान एक गोली उनके सिर में लग गई। इसके बावजूद उन्होंने आतंकियों से लोहा लिया। मुठभेड़ के बाद जब उन्हें अस्पताल ले जाया जा रहा था, उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

jammu kashmir, sandeep singh (image source-ANI)

मिरर से बातचीत के दौरान सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि अपनी जान की परवाह किए बिना, जब संदीप सिंह ने देखा कि उनकी टीम खतरे में है तो उन्होंने अदम्य साहस का परिचय देते हुए आंतकियों को सफाया कर दिया। सुरक्षाबलों ने आतंकियों के ठिकानों से बड़ी मात्रा में हथियार और गोला बारूद बरामद किया है। बता दें कि लांस नायक संदीप सिंह पाकिस्तान के खिलाफ साल 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक करने वाली टीम का हिस्सा थे। इस दौरान भारतीय सेना की स्पेशन फोर्स ने पीओके में घुसकर आतंकियों के ठिकानों को तबाह कर कई आतंकियों को ढेर कर दिया था। सर्जिकल स्ट्राइक उरी में हुए आंतकी हमले के विरोध में की गई थी। उरी हमले में 18 भारतीय जवान शहीद हो गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पत्रकार ने बताया- मनमोहन सिंह रोका करते थे काम करने से, टीवी स्‍टूडियो में लगी फोटो तक ठीक करवाने के लिए नेता कर देते हैं फोन
2 नरेंद्र मोदी को नोबेल शांति पुरस्कार दिलाने की मुहिम में जुटीं तमिलनाडु बीजेपी अध्यक्ष, जनता से भी की अपील
3 दागियों पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला- दोषी करार हुए तभी चुनाव लड़ने पर बैन