ताज़ा खबर
 

भारत ने लद्दाख में तैनात किए 100 टैंक, चीनी घुसपैठ का दिया जाएगा जवाब

टीपू सुल्तान, महाराणा प्रताप और औरंगजेब नाम वाली टैंक रेजिमेंट को करीब 6 महीने पहले यहां तैनात किया गया।

चीन से लगी सीमा पर भारतीय सेना ने 100 टैंक तैनात किए हैं।

चीन से लगी सीमा पर भारतीय सेना ने 100 टैंक तैनात किए हैं। ये टैंक चीनी घुसपैठ के खतरे को नजर में रखते हुए तैनात किए गए हैं। इन टैंकों की संख्‍या बढ़ाई जाएगी। एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन सीमा से कुछ किलोमीटर दूर इनकी तैनाती की गई है। टीपू सुल्तान, महाराणा प्रताप और औरंगजेब नाम वाली टैंक रेजिमेंट को करीब 6 महीने पहले यहां तैनात किया गया।

मथुरा: पहली बार सेना ने शहर में किया युद्धाभ्यास, नदी पार कर दुश्मन का इलाका कब्जाने की प्रैक्टिस

रिपोर्ट के अनुसार, इस टैंकों की लद्दाख में तैनाती आसान नहीं है। यहां पर तापमान काफी ठं‍डा रहता है। इस बारे में कर्नल विजय दलाल ने बताया, ”तापमान माइनस 45 डिग्री तक चला जाता है। इससे टैंकों की क्षमता पर असर पड़ता है। इसलिए ये टैंक विशेष फ्यूल से चलेंगे। मशीन जाम न हो जाए, इसके लिए टैंक के इंजन को रात में भी दो बार चालू किया जाता है। निश्चित रूप से ये मुश्किल काम है लेकिन हम इसे बेहतर तरीके से कर लेते हैं।”

भारत में तीन महिला फायटर पायलटों को मिला वायु सेना में कमीशन, रचा इतिहास

एक अन्‍य अधिकारी के अनुसार, ”इस इलाके में ऊंचे पहाड़ और घाटियां हैं। दुश्मन यहां आसानी से मूवमेंट कर सकता है। इसके चलते जरूरी है कि ज्यादा फोर्स रखी जाए।” गौरतलब है कि भारत ने 1962 युद्ध के दौरान भी 5 टैंक उतारे थे लेकिन जब तक ये टैंक पहुंचे थे, तब तक भारत की हार हो चुकी थी। चीन सीमा पर तनाव बना रहता है। चीनी सैनिक कई बार भारतीय सीमा के अंदर तक घुस आते हैं। हालांकि पिछले दो सालों में इस तरह की घटनाओं में कमी आई है।

भारतीय वायुसेना की नजर स्वीडन के Gripen D फाइटर प्लेन पर, एयरचीफ ने खुद उड़ाकर लिया जायजा 

gripen-e-main

एक मिनट में 600 फायर, 2.5 सेकंड में रिलोड, क्‍यों सेनाओं से लेकर आतंकियों की पहली पंसद बना AK 47

Next Stories
1 RTI के तहत PMO से पूछा- क्‍या प्रधानमंत्री मोदी राजनीति में आने से पहले रामलीला में काम करते थे
2 मंत्री रामदास अठावले की जैकेट देख PM बोले- आप तो चमक रहे हैं, जवाब मिला- आपने मुझे चमका दिया
3 सरकार जीएसटी विधेयक के लिए सर्वसम्मति बनाने पर काम करेगी : प्रधानमंत्री
यह पढ़ा क्या?
X