ताज़ा खबर
 

CAG का अहम खुलासा- सियाचीन, लद्दाख में जवानों को नहीं मिल रहा पोषक खाना, कैलरी इनटेक में भी कमी, 98% स्नोगॉगल्स की कमी

रिपोर्ट में कहा गया है कि ऊंचाई वाले क्षेत्रों में तैनात जवानों को दिए जाने वाले खाने की दैनिक खपत में कमी देखने को मिली है।

Author Edited By मोहित नई दिल्ली | Updated: December 14, 2019 6:47 PM
कैग रिपोर्ट में हुए अहम खुलासे। फोटो: इंडियन एक्सप्रेस

सियाचीन और लद्दाख के माइनस डिग्री तापमान में जवानों को न तो पोषक खाना मिल रहा है और न ही स्नोगॉगल्स। इसके अलावा जवानों को जो खाना मिल रहा है उसके कैलरी इनटेक में भी कमी है। नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (कैग) की रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। केंद्र सरकार (रक्षा सेवा) पर कैग की रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘ऊंचाई वाले क्षेत्रों में तैनात जवानों को दिए जाने वाले खाने की दैनिक खपत में कमी देखने को मिली है। जवानों को जो खाना मिल रहा है उसमें कैलरी इनटेक 82 प्रतिशत है। इसके अलावा स्नो गॉगल्स की कमी 62 फीसदी से 98 फीसदी है।’

इस रिपोर्ट को राज्यसभा में पेश किया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि उंचे क्षेत्रों में स्नोगॉगल्स सबसे अहम सामान में से एक है लेकिन इसकी 62 से 98 फीसदी तक कमी है। इसके अलावा जवानों को पुराने जूतों, फेस मास्क, जैकेट्स और स्लीपिंग बैग से काम चलाना पड़ रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सैनिकों को बेहतर टेक्नॉलजी वाले उत्पादों का उपयोग करने के लाभों से वंचित किया जा रहा है। रिपोर्ट में इस कमी के पीछे डिफेंस लेबोरेटरीज द्वारा रिसर्च और डेवलेपमेंट की कमी के की वजह से आयात पर लगातार निरंतर निर्भरता बनी हुई है।

इसके अलावा ऊंचाई पर तैनात जवानों के लिए उनकी दैनिक ऊर्जा को पूरा करने के लिए विशेष राशन की व्यवस्था की जरूरत है। सियाचिन में भारत और पाकिस्तान के सैनिक 13 साल से एक-दूसरे के सामने डटे हुए हैं। यह दुनिया का सबसे खर्चीला युद्ध क्षेत्र भी माना जाता है।

यहां पर जवानों को जीवन यापन के लिए माइनल डिग्री तापमान में कड़े संघर्ष करने पड़ते हैं। सियाचिन में दुश्मन के मंसूबों को नाकाम बनाने के लिए सेना हर स्थिति में डटी रहती है। हालांकि रिपोर्ट दर्शाती है कि मोदी सरकार सेना की रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करने सक्षम नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Namami Gange: गंगा नदी की सैर करते एक साथ दिखे पीएम मोदी और सीएम योगी, नाव पर बैठकर सफाई का लिया जायजा, देखें Video
2 करगिल युद्ध में विदेशियों ने वसूले थे मनमाने पैसे, दिए थे 1970 के हथियार, तीन साल पुरानी सैटेलाइट इमेजरी; पूर्व सेनाध्यक्ष का खुलासा
3 ‘मैंने कोर्ट में तीन बार माफी मांगी, मेरा नाम राहुल गांधी’, सावरकर पर बयान दिया तो ट्रोल्स के निशाने पर आए कांग्रेस नेता
ये पढ़ा क्‍या!
X