ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तान ने एलओसी पर उड़ाए थे सुपरसोनिक जेट, अब भारतीय वायुसेना ने किया अभ्‍यास

भारतीय वायुसेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक के बाद से पाकिस्तान संग भारतीय रिश्ते और तल्ख हो गए हैं। पाकिस्तान की किसी भी नापाक हरकत से लोहा लेने के लिए भारतीय सेना तैयार है।

भारतीय वायुसेना के फाइटरजेट्स ने पाकिस्तान से सटे इलाकों में सुपरसोनिक स्पीड से उड़ान भरी।(प्रतीकात्मक तस्वीर)।

भारतीय वायुसेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक के बाद से पाकिस्तान संग भारतीय रिश्ते और तल्ख हो गए हैं। पाकिस्तान की किसी भी नापाक हरकत से लोहा लेने के लिए भारतीय सेना तैयार है। पाकिस्तान से सटे पंजाब और जम्मू-कश्मीर में गुरुवार रात भारतीय सेना ने लड़ाकू विमान उड़ाए और  जमकर अभ्यास किया। भारतीय वायुसेना की इस गतिविधि को तैनाती और जवाबी दोनों के तौर पर देखा जा रहा है।

दरअसल दो दिन पहले पाकिस्तान ने भी एलओसी में ऐसा ही अभ्यास किया था।भारतीय वायुसेना के जेट विमानों ने अमृतसर सहित सीमावर्ती जिलों में सुपरसोनिक गति से उड़ान भरकर अपनी तैयारियों का जायजा लिया।पंजाब के अमृतसर इलाके में कई बार लोगों ने धमाके जैसी आवाज सुनी। इसके बाद अमृतसर में धमाके की खबरें आने लगी। हालांकि इसके बाद अमृतसर के एडीसीपी ने बयान जारी कर कहा कि यह अफवाह है ऐसा कोई धमाका नहीं हुआ है। इसपर ध्यान ना दें।

पाकिस्तान की किसी भी नापाक हरकत से लोहा लेने के लिए भारतीय सेना तैयार है। (फोटो सोर्स- ANI/Twitter) IAF, Pakistan सूत्रों की मानें तो वायुसेना का यह अभ्यास पाकिस्तान को चेतावनी देने के लिए था।

गौरतलब है कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में  सीआरपीएफ के जवानों के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था। जिसमें 40 जवान  शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश ए मुहम्मद ने ली थी। इस हमले के 12 दिन बाद भारतीय कड़ी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान के बालाकोट में जैश ए मुहम्मद के आंतकी ठिकानों को ध्वस्त कर दिया था।दावा किया गया था कि इसमें कम कम 300 आतंकी मारे गए थे। 26 फरवरी को हुए इस एयर स्ट्राइक के बाद दोनों देशों के बीच तल्खियां काफी बढ़ गई। 27 फरवरी को पाक के लड़ाकू विमान एफ-16 ने भारतीय सीमा में घुसपैठ की थी। इसके बाद से दोनों देशों के बीच तनाव बना हुआ है, सीजफायर की भी कई खबरें आ चुकी हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App