ताज़ा खबर
 

स्वास्थ्य पर खर्च बढ़ाएगा भारत : प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री ने कहा कि मां के स्वास्थ्य से बच्चे का स्वास्थ्य जुड़ा होता है और बच्चे के स्वास्थ्य पर हमारे आने वाले कल का स्वास्थ्य निर्भर करता है। उन्होंने कहा कि हम यहां मां एवं बच्चों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के विषय पर चर्चा के लिए एकत्र हुए हैं और उम्मीद है कि इन चर्चाओं का प्रभाव हमारे कल पर पड़ेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (पीटीआई फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि भारत 2025 तक स्वास्थ्य क्षेत्र में खर्च को बढ़ा कर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 2.5 फीसद करने के लिए प्रतिबद्ध है। भारत उन पहले देशों में शामिल है जिन्होंने शिशुओं पर पूरा ध्यान देने और शिशुओं के लिए पूर्ण स्वास्थ्य संवर्द्धन एवं रोकथाम कार्यक्रम को लागू किया है। नारी शक्ति, युवा शक्ति का कल्याण विषय पर पार्टनर फोरम सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार सार्वजनिक स्वास्थ्य पर अपना खर्च बढ़ा कर उसे जीडीपी का 2.5 फीसद करने के लिए प्रतिबद्ध है। अभी स्वास्थ्य क्षेत्र पर देश का खर्च जीडीपी का 1.15 फीसद है। इस साल पार्टनर फोरम सम्मेलन में मुख्य रूप से स्वास्थ्य एवं उससे जुड़े क्षेत्रों में उपायों और समाधान को बेहतर बनाने पर जोर दिया जाएगा। प्रधानमंत्री ने स्वास्थ्य क्षेत्र में सरकार के कार्यों का उल्लेख करते हुए कहा कि वृहद टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत पिछले तीन बरसों में मिशन इंद्रधनुष के तहत देश में 3.28 करोड़ बच्चों और 84 लाख गर्भवती महिलाओं तक पहुंच बनाई गई।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले कुछ बरसों में हमने काफी प्रगति की है, हालांकि अभी भी बहुत कुछ किया जाना शेष है। उन्होंने कहा कि हमारा जोर बड़े बजट से बेहतर परिणाम हासिल करने, मानसिकता बदलने से लेकर निगरानी करने पर है और इसके लिए बहुत कुछ करने की जरूरत है। प्रधानमंत्री ने कहा कि मां के स्वास्थ्य से बच्चे का स्वास्थ्य जुड़ा होता है और बच्चे के स्वास्थ्य पर हमारे आने वाले कल का स्वास्थ्य निर्भर करता है। उन्होंने कहा कि हम यहां मां एवं बच्चों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के विषय पर चर्चा के लिए एकत्र हुए हैं और उम्मीद है कि इन चर्चाओं का प्रभाव हमारे कल पर पड़ेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App