ताज़ा खबर
 

विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तानी उच्चायोग के अधिकारी को तलब किया, आतंकियों का समर्थन बंद करने की दी चेतावनी

भारतीय विदेश मंत्रालय का यह कदम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उच्च सुरक्षा अधिकारियों-मंत्रियों के साथ शुक्रवार को की गई समीक्षा बैठक के बाद आया।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: November 21, 2020 1:20 PM
Nagrota Encounter, Pakistanजम्मू-कश्मीर के नगरोटा में गुरुवार को हुआ था एनकाउंटर। (फोटो- PTI)

जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में चार आतंकियों का एनकाउंटर कर घातक हमला नाकाम करने के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय ने शनिवार को पाकिस्तान हाई कमीशन के प्रमुख को तलब किया। बताया गया है कि नगरोटा में ढेर किए गए आतंकी मुंबई में हुए 26/11 हमलों की बरसी पर एक बार फिर भारत को दहलाना चाहते थे। इसकी साजिश में पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के शामिल होने का शक है। ऐसे में भारत ने इस घटना पर कड़ा विरोध दर्ज कराया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत ने जम्मू-कश्मीर में जैश-ए-मोहम्मद की तरफ से रची जा रही आतंक फैलाने की साजिश पर पाकिस्तान को कड़ी फटकार लगाई। साथ ही अपनी जमीन पर पल रहे आतंकियों के समर्थन को बंद करने की बात कही। सूत्रों के मुताबिक, विदेश मंत्रालय ने साफ किया कि भारत अपनी सुरक्षा के लिए हर तरह के कदम उठाने के लिए तैयार है।

भारतीय विदेश मंत्रालय का यह कदम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उच्च सुरक्षा अधिकारियों-मंत्रियों के साथ शुक्रवार को की गई समीक्षा बैठक के बाद आया है। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और खुफिया एजेंसियों के टॉप अफसर मौजूद थे। पीएम ने इसमें नगरोटा में सैन्यबलों द्वारा आतंकियों के खिलाफ चलाए गए ऑपरेशन पर चर्चा की थी। इसके बाद एक ट्वीट में उन्होंने कहा था कि आतंकियों के मारे जाने से जम्मू-कश्मीर में लोकतंत्र को नुकसान पहुंचाने के मंसूबे नाकाम हो गए हैं।

पीएम ने अपने ट्वीट में सुरक्षाबलों की सतर्कता की तारीफ करते हुए कहा था कि पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकियों के मारे जाने से एक बड़ी साजिश नाकाम हुई। आतंकियों से बरामद हथियारों का जखीरा देखकर साफ है कि वे जम्मू-कश्मीर में जमीनी स्तर पर लोकतंत्र को नुकसान पहुंचाने के मंसूबे पाले हुए थे।

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में गुरुवार को सुरक्षाबलों ने चार आतंकियों को एक एनकाउंटर में मार गिराया था। वे किसी बड़ी आतंकी घटना को अंजाम देने निकले थे लेकिन कश्मीर घाटी जाते वक्त रास्ते में ही धरे गए। घिरने के बाद आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। बाद में सुरक्षाबलों ने चार आतंकियों को ढेर कर दिया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 जब नीता अंबानी ने मुकेश को बताया, BEST की बस में कौन सी सीट सबसे मजेदार, जानें सिटी बस से कहां जाते थे अरबपति अंबानी
2 रेस्त्रां मालिक का एक्सपेरिमेंट देखकर चौंके आनंद महिंद्रा, बोले- व्यापार में नयापन लाने के लिए इन्हें नहीं हार्वर्ड की पढ़ाई की जरूरत
3 अब ड्रोन से घुसपैठ कर रहा पाकिस्तान, जम्मू-कश्मीर के सांबा में घुसे दो ड्रोन, सुरक्षाबलों ने खदेड़ा
ये पढ़ा क्या?
X