ताज़ा खबर
 

ग्राहक को तरसा सोना: कीमत 5000 रुपए कम होने और छूट के बावजूद ख़रीददारों का टोटा

शुक्रवार को 51,452 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार कर रहा था, जो पिछले महीने 56,191 रुपये के उच्च स्तर पर पहुंच गया था। आमतौर पर अक्टूबर-नवंबर के त्यौहारों के मौसम में सोने की मांग में तेजी होती है।

Gold Prices, India, Market, Gold Rateसोने के दाम में गिरावट और ऑफर के बावजूद ग्राहक नहीं मिल रहे हैं।

कोरोना संकट के बीच सोने के दाम कम होने और छूट के बाद भी व्यापारियों के हाथ मायूसी लगी है। लगातार चौथे सप्ताह में छूट के बाद भी सोना ग्राहकों के लिए तरसता रहा। चीन के बाद भारत में सोने के खरीदार सबसे अधिक हैं। श्राद्ध के महीने में सोने की खरीदारी पर असर दिखा। इस महीने में सोने की खरीदारी अपशकुन मानी जाती है।

शुक्रवार को 51,452 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार कर रहा था, जो पिछले महीने 56,191 रुपये के उच्च स्तर पर पहुंच गया था। आमतौर पर अक्टूबर-नवंबर के त्यौहारों के मौसम में सोने की मांग में तेजी होती है। लेकिन कोरोना वायरस संक्रमण के कारण आभूषण बाजार को तगड़ा झटका लगा है जिससे भारत की अर्थव्यवस्था अप्रैल-जून में लगभग एक चौथाई कम हो गई है।

बता दें कि शुक्रवार को सोना 0.62 प्रतिशत की गिरावट के साथ 51,452 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में अक्टूबर महीने में डिलीवरी सोना अनुबंध की कीमत 322 रुपये यानी 0.62 प्रतिशत की गिरावट के साथ 51,452 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गई।

इसमें 12,181 लॉट के लिये कारोबार हुआ। सोना के दिसंबर महीने में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 302 रुपये यानी 0.58 प्रतिशत की गिरावट के साथ 51,660 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गई। इसमें 6,286 लॉट के लिये कारोबार हुआ।अंतरराष्ट्रीय बाजार, न्यूयॉर्क में सोना 0.72 प्रतिशत की नरमी के साथ 1,950.20 डॉलर प्रति औंस चल रहा था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Swami Agnivesh Death News: नहीं रहे स्वामी अग्निवेश, लिवर सिरोसिस से हारे, हृदयाघात ने रोक दी सांस
2 सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली, वेस्ट बंगाल समेत इन राज्यों को थमाया नोटिस, 2 हफ्ते बाद सुनवाई
3 कंगना केसः संतों से उद्धव ठाकरे को धमकी- अयोध्या न आएं; NCP बोली- बंगला ढहाने से सरकार का कनेक्शन नहीं
यह पढ़ा क्या?
X