ताज़ा खबर
 

रेलवे ने किया 40 क्लोन ट्रेनें चलाने का ऐलान, देखें पूरी लिस्ट, जानें- कैसे मिलेगा फायदा

मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि कुछ विशेष रूट्स पर यात्रा की भारी मांग के चलते 20 जोड़ी (40 ट्रेनें) क्लोन स्पेशल ट्रेन चलाई जाएंगी।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: September 16, 2020 8:45 AM
Indian Railway, Clone Trainsभारतीय रेल नेटवर्क में पहली बार दौड़ेंगी क्लोन ट्रेनें।

रेल मंत्रालय ने ऐलान किया है कि देश में 21 सितंबर से 20 जोड़ी क्लोन ट्रेनें चलाई जाएंगी। यह ट्रेनें उन 310 स्पेशल ट्रेनों से अलग होंगी, जो अनलॉक के ऐलान के बाद से ही यात्रियों को लाने-ले जाने के काम में जुटी हैं। यह पहली बार है, जब भारत के रेल नेटवर्क में क्लोन ट्रेनें शामिल की जाएंगी। इन ट्रेनों के लिए रिजर्वेशन 19 सितंबर से शुरू होगा।

बता दें कि रेल मंत्रालय ने इस महीने की शुरुआत में ही कहा था कि वह उन रूटों पर क्लोन ट्रेन उतारेगा, जहां सीटें तेजी से भर रही हैं और इस लिए वेटलिस्ट के आधार पर क्लोन ट्रेनें चलाई जाएंगी। क्लोन ट्रेन स्पेशल ट्रेन की तरह ही ऑपरेशन में शामिल रहेंगी। लेकिन इनके स्टॉपेज और सफर का समय विशेष ट्रेनों से अलग होगा।

10 दिन पहले ही शुरू होगा इन ट्रेनों का रिजर्वेशन: मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया, “कुछ विशेष रूट्स पर यात्रा की भारी मांग के चलते 20 जोड़ी (40 ट्रेनें) क्लोन स्पेशल ट्रेन चलाई जाएंगी। यह ट्रेनें नोटिफाइड टाइमिंग पर चलाई जाएंगी और यह पूरी तरह रिजर्व ट्रेनें होंगी। इनके स्टॉप सीमित होंगे। साथ ही इन ट्रेनों का रिजर्वेशन भी 10 दिन पहले से ही मिलना शुरू होगा।”

स्पेशल ट्रेन से तेज रफ्तार होंगी क्लोन ट्रेनें: मंत्रालय ने आगे कहा, “क्लोन ट्रेनें उन रूट्स पर चलाई जाएंगी, जहां यात्रा की मांग ज्यादा है। भारतीय रेलवे के इतिहास में कभी भी क्लोन ट्रेनें नहीं चलाई गईं। यह क्लोन ट्रेनें मुख्यतः एसी ट्रेनें होंगी और पहले से चल रही स्पेशल ट्रेनों से आगे चलेंगी। इन क्लोन ट्रेनों के संचालन को प्रत्याशित यात्रियों के लिए बड़े स्तर पर प्रचारित किया जाएगा। यह ट्रेनें पहले से चल रही स्पेशल ट्रेनों के मुकाबले ज्यादा तेज रफ्तार से चलेंगी।”

हमसफर ट्रेनों के बराबर होगा किराया: रेलवे के मुताबिक, 20 में से 19 जोड़ी क्लोन ट्रेनों का किराया हमसफर एक्सप्रेस के बराबर होगा, जबकि एक लखनऊ-दिल्ली क्लोन स्पेशल का किराया जन-शताब्दी एक्सप्रेस के बराबर रखा जाएगा। इसके अलावा इनके संचालन के लिए भी हमसफर और जनशताब्दी ट्रेनों का ही इस्तेमाल किया जाएगा।

लॉकडाउन के बाद से ही देश में बंद हैं सामान्य ट्रेन सेवाएं: भारत में लॉकडाउन के ऐलान के बाद से ही सामान्य ट्रेन सेवाएं बंद हैं। जहां पहले प्रवासी मजदूरों को लाने-ले जाने के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई गई थीं, वहीं मई से 30 एसी ट्रेनें चलाई गईं। इसके बाद जून में अनलॉक के ऐलान के बाद 200 स्पेशल ट्रेनें भी चलाई गईं। इस 12 सितंबर से 80 और स्पेशल ट्रेनें चलाई गई हैं, जिससे कुल स्पेशल ट्रेनों की संख्या 310 पहुंच चुकी है। अब 40 क्लोन ट्रेनों के जुड़ने से देश में कुल 350 यात्री ट्रेनें संचालित हो रही हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 खुलासा: भारत-चीन के मंत्रियों की बातचीत से पहले भी हुई LAC पर गोलीबारी की घटना, पैंगोंग सो में हुई थी 200 राउंड फायरिंग
2 दिल्ली में 10 दिनों में कंटेनमेंट जोन की संख्या 45 प्रतिशत बढ़ी, संक्रमितों का आंकड़ा दो लाख के पार
3 दिल्ली सरकार ने सचिवों की शक्तियां वापस लीं, बड़ी योजनाओं पर मंत्रिमंडल लगाएगा आखिरी मुहर
IPL 2020: LIVE
X