ताज़ा खबर
 

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले- जब भी देश में हिंदुओं की आबादी घटी है, सांप्रदायिक सौहार्द्र प्रभावित हुआ है

गिरिराज ने यह भी कहा कि अल्पसंख्यक को फिर से परिभाषित किए जाने की जरूरत है।

Author June 24, 2017 8:48 PM
बिहार के नवादा से बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल में केंद्रीय राज्य मंत्री हैं।

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने की मांग उठाई है और उनका कहना है कि इसके बिना ‘सांप्रदायिक सौहार्द्र नाकाम रहेगा’। गिरिराज सिंह ने साथ ही देश में हिंदू समुदाय की आबादी कम होने के लिए ‘तुष्टिकरण की राजनीति’ का आरोप भी लगाया। अपने विवादित बयानों के लिए अक्सर चर्चा में रहने वाले केंद्रीय मंत्री ने कहा कि तुष्टिकरण की राजनीति के चलते हिंदुओं की आबादी 1947 में 90 फीसदी से घटकर अब 72 फीसदी ही रह गई है। टेलीविजन नेटवर्क जी समूह के एक क्षेत्रीय चैनल को दिए साक्षात्कार में गिरिराज सिंह ने शनिवार को कहा, “अगर भारत में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू नहीं किया गया तो सांप्रदायिक सौहार्द्र कायम नहीं हो सकेगा। जब भी देश में हिंदुओं की आबादी घटी है, सांप्रदायिक सौहार्द्र प्रभावित हुआ है।” हालांकि जनगणना-2011 के आंकड़े केंद्रीय मंत्री के बयान से मेल नहीं खाते। 1951 की जनगणना के अनुसार देश में तब हिंदुओं की आबादी कुल आबादी का 84.1 फीसदी थी, वहीं 2011 में यह 79.8 फीसदी दर्ज की गई।

HOT DEALS
  • MICROMAX Q4001 VDEO 1 Grey
    ₹ 4000 MRP ₹ 5499 -27%
    ₹400 Cashback
  • ARYA Z4 SSP5, 8 GB (Gold)
    ₹ 3799 MRP ₹ 5699 -33%
    ₹380 Cashback

गिरिराज ने यह भी कहा कि अल्पसंख्यक को फिर से परिभाषित किए जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा, “इसके लिए मैं कुछ भी कर सकता हूं। मैं सबसे पहले हिंदू हूं और उसके बाद भाजपा का सदस्य।” गिरिराज सिंह ने कहा कि वह चाहते हैं कि पूरे देश के विद्यालयों में योग को अनिवार्य किया जाए, क्योंकि यह स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है।

पिछले दिनों केरल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा बीफ फेस्‍ट आयोजित किए जाने केा लेकर गिरिराज ने कांग्रेस पर तीखा प्रहार किया था। उन्‍होंने लिखा, ”कश्मीर में आतंकी से मिलना, केरल में गौमाता को काटना। कांग्रेस देश की आजादी एवं संस्कृति के लिए खतरा है। कांग्रेस बताए की हिंदू अब कहां जाए?”

इससे पहले, बिहार में रामनवमी का जुलूस निकालने के दौरान दो समुदायों के बीच तनाव पर गिरिराज ने नीतीश पर हिंदुओं को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया था। तब उन्‍होंने अपने फायरब्रांड अंदाज में कहा था कि ” रामनवमी पर जुलूस हिन्दुस्तान में नहीं तो क्या पाकिस्तान में निकलेगा?”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App