ताज़ा खबर
 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दावा- हर भारतीय के दिल में थी 370 की बात, पर शुरू कौन करे, इसका था इंतजार

पीएम ने कहा आज लाल किले से मैं जब देश को संबोधित कर रहा हूं, मैं यह गर्व के साथ कहता हूं कि आज हर भारतीय 'वन नेशन, वनकंस्टीटूशन' कह सकता है।

independence day, India Independence Day 2019, independence day 2019, independence day live, independence day flag hoisting, independence day flag hoisting live, independence day flag hoisting live streaming, independence day celebration, independence day celebration live, India independence day flag hoisting time, India independence day flag hoisting ceremony, satrya pal malik, bjp, pdp, modi, article 370, article 35A, red fort, pm modi speechपीएम मोदी। फोटो: PTI

India Independence Day 2019: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि हर भारतीय के दिल में आर्टिकल 370 की बात थी पर शुरू कौन करे सिर्फ इसी का इंतजार था। लाल किला से संबोधन के दौरान पीएम ने आर्टिकल 370 पर सालों से होती आई राजनीति को लेकर भी विपक्ष पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि आज जो लोग आर्टिकल 370 का समर्थन कर रहे हैं, उनके पास प्रचंड बहुमत रहा था, लेकिन उन्होंने इस आर्टिकल को स्थायी नहीं बनाया। क्यों? उन्हें इस बात का जवाब देना चाहिए।

पीएम ने कहा ‘370 को हटाने के लिए राजनीति के गलियारों में चुनाव के तराजू से तौलने वाले जो लोग 370 के पक्ष में वकालत करते हैं उनसे देश पूछ रहा है कि अगर यह इतना महत्वपूर्ण है तो 70 साल तक आप लोगों ने इससे अस्थायी क्यों बनाए रखा। इसे स्थायी क्यों नहीं बनाया जा सका। सच तो यह है कि  हर भारतीय के दिल में आर्टिकल 370 की बात थी पर शुरू कौन करे सिर्फ इसी का इंतजार था।’

पीएम ने अपने संबोधन में कहा ‘दस हफ्ते के अंदर ही आर्टिकल 370 का हटना, 35 ए का हटना सरदार वल्‍लभ भाई पटेल के सपनों को साकार करने की दिशा में एक अहम कदम है। जो काम पिछले 70 साल में नहीं हुआ, नई सरकार बनने के बाद, 70 दिन में कर दिया गया। आर्टिकल 370 और 35ए को हटाने का काम राज्यसभा और लोकसभा ने दो-तिहाई बहुमत से पारित कर किया। आज लाल किले से मैं जब देश को संबोधित कर रहा हूं, मैं यह गर्व के साथ कहता हूं कि आज हर भारतीय ‘वन नेशन, वनकंस्टीटूशन’ कह सकता है।

पीएम ने कहा कि पिछले सत्तर सालों में जम्मू-कश्मीर को आतंकवाद के अलावा कुछ नहीं मिल सका। यहां सिर्फ कुछ परिवारों द्वारा वंशवाद को पाला-पोषा गया। देशवासी भी जानते थे कि जम्मू-कश्मीर में जो हो रहा है वह सही नहीं था लेकिन किसी में सुधार करने की हिम्मत नहीं थी। लेकिन मेरी लिए देश का भविष्य ही सब कुछ है राजनीतिक भविष्य कुछ भी नहीं था। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख भारत के लिए प्रेरक बन सकता है।

Next Stories
1 AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी को जान का खतरा? बोले- नाथूराम गोडसे के समर्थक कर सकते हैं हत्या
2 पहलू खान मॉब लिंचिंग केस में सभी आरोपी बरी, राज्य सरकार फैसले के खिलाफ करेगी अपील
ये पढ़ा क्या?
X