ताज़ा खबर
 

यूएन में भारत ने कहा- आतंक की फैक्ट्री बना हुआ है पाकिस्तान, अल्पसंख्यकों पर भी ढा रहा है जुल्म

भारत ने विश्व बिरादरी को बताया कि जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से आतंकवादियों को लगातार समर्थन, भारत के लिए अपने नागरिकों के मानवाधिकारों की रक्षा करने में मुख्य चुनौती बना हुआ है।'

यूएन में भारत ने कहा आतंक का गढ़ बन गया है पाकिस्तान (Source-ANI)

भारत ने संयुक्त राष्ट्र में एक बार फिर से पाकिस्तान को जोरदार फटकार लगाई है। भारत ने संयुक्त राष्ट्र में कहा कि, ‘पाकिस्तान ना सिर्फ दुनिया की आतंक की फैक्ट्री बन गया है, बल्कि यह देश अपने अल्पसंख्यकों पर भी जुल्म ढा रहा है, और अपने देश की आबादी के एक हिस्से को अलग-थलग करके रखा है। भारत ने संयुक्त राष्ट्र में पीओके का जिक्र करते हुए कहा कि, ‘हमारे राज्य के भूभाग का एक हिस्सा अभी भी पाकिस्तान के अवैध और जबरन कब्जे में हैं।’

पाकिस्तान अक्सर संयुक्त राष्ट्र में भारत के अंदरुनी मामलों को उठाता रहता है, इस बार भी पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर में कथित तौर पर मानवाधिकारों के उल्लंघन का मामला यूएन में उठाया था। भारत ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, ‘ एक बार फिर से पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल ने मानव अधिकार परिषद का गलत इस्तेमाल करने का विचार किया है, पाकिस्तान की कोशिश की है कि, जम्मू कश्मीर के आतंरिक मामलों की बेबुनियाद और झूठे संदर्भ दुनिया के सामने रखे जाएं।’ भारत ने विश्व बिरादरी को बताया कि जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से आतंकवादियों को लगातार समर्थन, भारत के लिए अपने नागरिकों के मानवाधिकारों की रक्षा करने में मुख्य चुनौती बना हुआ है।’ भारत ने मांग किया है कि पाकिस्तान को जम्मू-कश्मीर में अपनी आतंकी गतिविधियों पर जल्द से जल्द रोक लगानी चाहिए।

पाकिस्तान के मोर्चे पर भारत के लिए एक और परेशान करने वाली ख़बर है। पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में भारत की सीमा से सटे गिलगित बालिस्तान को अपने पांचवें राज्य का आधिकारिक दर्ज देने वाला है। अगर पाकिस्तान इस कोशिश में कामयाब हो जाता है तो सीमा पर आतंकी गतिविधियों में फिर से इजाफा हो सकता है।  पाकिस्तान सरकार के मंत्री रियाज हुसैन पीरजादा ने पाक मीडिया को बताया है कि विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज की अगुआई वाली एक समिति ने गिलगित-बाल्टिस्तान को प्रांत का दर्जा देने की सिफारिश की है। अब सरकार को इस सिफारिश पर जल्द से जल्द विचार करना है। मौजूदा हालत में पाकिस्तान में गिलगित-बाल्टिस्तान एक अलग भौगोलिक क्षेत्र है। और यहां का प्रशासन स्वायत्तशासी क्षेत्र के तहत आता है।

 

"बेगम जान" को सेंसर बोर्ड द्वारा "A" सर्टीफिकेट दिए जाने पर बोले महेश भट्ट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App