ताज़ा खबर
 

लद्दाख: अब भी जारी है चीन का निर्माण, PLA सैनिकों के लिए बना रहा कैम्प

सुरक्षा बलों को आशंका है कि चीन बातचीत के बहाने विवादित स्थलों पर अपनी स्थिति को मजबूत करने में जुटा है।

India China Military Standoff, indian army, china, pla, ladakhचीनी सेना लगातार सीमा पर निर्माण कार्य में जुटी है। (AP Photo/ File)

चीन के साथ सीमा पर जारी तनाव कम होता नहीं दिखाई दे रहा है। दरअसल खबर आ रही है कि चीन की सेना पूर्वी लद्दाख में लगातार विवादित जगहों पर निर्माण कार्य कर रही है। इसके तहत पीएलए सैनिकों के लिए सर्दियों में ठहरने लायक कैंप बना रही है। एक तरफ जहां भारत और चीन के बीच तनाव को कम करने के लिए बातचीत जारी है, वहीं दूसरी तरफ चीनी सेना की तरफ से लगातार सीमा पर निर्माण कार्य किया जा रहा है।

सुरक्षा बलों को आशंका है कि चीन बातचीत के बहाने विवादित स्थलों पर अपनी स्थिति को मजबूत करने में जुटा है। रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों के मुताबिक ‘यह बेहद परेशान करने वाला है कि चीनी सैनिक अपने शब्दों पर कायम नहीं हैं और लगातार भारतीय इलाके में निर्माण कार्य कर रहे हैं और विंटर कैंप बना रहे हैं।’ टेलीग्राफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, खूफिया विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक ‘चीनी सैनिकों द्वारा ऐसी कोई कोशिश नहीं दिखाई दे रही है कि वह भारतीय इलाके से वापस जाने की कोशिश कर रहे हैं और भारत और चीन के बीच हुए समझौते के खिलाफ काम कर रहे हैं।’

बता दें कि चीन के आक्रामक रवैये को देखते हुए भारतीय सेना ने भी पहाड़ी इलाके में अपने मिलिट्री पोस्ट बनाने शुरू कर दिए हैं। भारतीय सेना ने भी अपने सैनिकों के लिए 100 के करीब नए शेल्टर बना लिए हैं। साथ ही विवादित पाइंट पर सैनिकों की तैनाती भी बढ़ायी जा रही है।

सुरक्षा बलों का कहना है कि मुख्य चिंता पैंगोंग त्सो इलाके को लेकर है, जहां चीनी सेना भारतीय इलाके में कई किलोमीटर अंदर तक घुस आयी है और फिंगर 4 इलाके में अपने सैनिक तैनात कर दिए हैं। इसके चलते भारतीय सेना फिंगर 8 इलाके तक पेट्रोलिंग नहीं कर पा रही है।

पेंगोंगे त्सो के अलावा देपसांग इलाके में भी दोनों देशों की सेनाओं के बीच तनाव काफी ज्यादा है। दोनों ही तरफ से इस इलाके में भारी संख्या में सैनिकों की तैनाती की गई है। चीन और भारत के बीच कई राउंड की मिलिट्री और कूटनीतिक बैठके हो चुकी हैं लेकिन अभी तक सीमा पर जारी तनाव में खास कमी नहीं आयी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हर जिले में RSS के बड़े नेता नरेंद्र मोदी के हाथ में हैं, पर…बोले पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी
2 Unlock 6.0 Guidelines Live Updates: कोरोना के चलते राजस्थान में पटाखों पर बैन, नाराज हुए पटाखा विक्रेता, सरकार से की ये अपील
3 ‘Baba Ka Dhaba’ के कांता प्रसाद की पुलिस से शिकायत- YouTuber ने अपना खाता नंबर दे डकार लिया मेरे नाम पर आया पैसा
ये पढ़ा क्या ?
X