ताज़ा खबर
 

गलवान घाटी में भारतीय सेना ने तैनात किए टी-90 टैंक, चीन को मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी

सेना ने सीमा पर होवित्जर तोपों के अलावा दो टैंक रेजीमेंट भी चुसुल सेक्टर में तैनात कर दी है। चीनी सेना द्वारा भारत के साथ डील करने की कोशिश की जा रही है लेकिन भारतीय सेना यथास्थिति बहाल करने की मांग पर अड़ी है।

india china tension, T90 Tank, indian armyभारत चीन तनाव के बीच सेना ने एलएसी पर टी90 टैंक तैनात किए हैं।

भारत और चीन के बीच सीमा पर जारी विवाद को कम करने के लिए दोनों देशों के बीच बातचीत जारी है। हालांकि बातचीत के साथ ही भारतीय सेना ने चीन की किसी भी गलत हरकत का मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी भी की हुई है। बता दें कि भारतीय सेना ने पूर्वी लद्दाख सीमा पर 6 टी-90 टैंक तैनात किए हैं। इनके अलावा गलवान घाटी सेक्टर में एंटी टैंक मिसाइल सिस्टम भी तैनात किए गए हैं।

भारतीय सेना का यह कदम, चीन द्वारा पूर्वी लद्दाख सीमा पर बड़ी संख्या में सैनिक और हथियार तैनात करने के बाद सामने आया है। सेना ने सीमा पर होवित्जर तोपों के अलावा दो टैंक रेजीमेंट भी चुसुल सेक्टर में तैनात कर दी है। चीनी सेना द्वारा भारत के साथ डील करने की कोशिश की जा रही है लेकिन भारतीय सेना यथास्थिति बहाल करने की मांग पर अड़ी है।

एचटी की रिपोर्ट के अनुसार, भारतीय सेना के कमांडर्स का कहना है कि गलवान घाटी में तापमान बेहद कम रहता है। इस वक्त ही गलवान नदी का तापमान माइनस 10 डिग्री के आसपास है। ऐसे में जब सर्दियों का मौसम आएगा, चीनी सेना के लिए यहां रुकना बेहद मुश्किल हो जाएगा। चीन द्वारा सीमा पर मार्शल आर्ट में पारंगत जवानों की तैनाती करने की खबरें आयीं थी लेकिन बता दें कि चीनी पैदल सैनिक आमतौर पर सेना में सिर्फ 2 साल के लिए भर्ती होते हैं, जबकि इसकी तुलना में भारतीय सैनिक करीब 17 साल तक सेना में अपनी सेवाएं देते हैं।

ऐसे में सैन्य अनुभव के मामले में भारतीय सेना आगे हैं। साथ ही भारत को पाकिस्तान के साथ सियाचिन और कारगिल में लड़ाई लड़ने के कारण ऊंचे इलाकों में युद्ध लड़ने का अभ्यास भी है। बहरहाल सीमा पर तनाव बना हुआ हैं। दोनों तरफ से बातचीत की कोशिश हो रही है लेकिन साथ ही सैनिकों की तैनाती भी बढ़ायी जा रही है।

बता दें कि भारत और चीन दोनों की वायुसेनाएं अलर्ट पर हैं। तिब्बत स्थित एयरबेस बीते कुछ दिनों से एक्टिव हो गए हैं। इसके जवाब में भारतीय वायुसेना ने भी लद्दाख में अपने फाइटर जेट की तैनाती कर दी है और सीमा पर कड़ी निगरानी की जा रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 सीएम होकर भी अपने चहेते को मंत्री नहीं बना पा रहे शिवराज सिंह, ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया कर रहे कड़ी सौदेबाजी, बड़े नेतााओं ने भी खड़े किए हाथ
2 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बताएं कि हमारे क्षेत्र से चीन की सेना को कब और कैसे निकालेंगे- राहुल गांधी
3 कैसे लागू होगा चीनी ऐप्स पर लगा प्रतिबंध, जानें क्या पड़ेगा प्रभाव