ताज़ा खबर
 

चीन ने किया मीटिंग से इनकार, रवानगी से ऐन पहले ममता बनर्जी ने रद्द किया बीजिंग दौरा

ममता बनर्जी एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत चीन जाने वाली थीं, लेकिन बीजिंग ने मुलाकात से इनकार कर दिया। इसे देखते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने दौरा ऐन वक्त पर रद्द कर दिया।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो- पीटीआई)

भारत और चीन के बीच एक बार फिर से खटास आने की आशंका बढ़ गई है। चीन के राजनीतिक नेतृत्व ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात करने से इनकार कर दिया, जिसके कारण अंतिम क्षणों में उन्हें अपना बीजिंग दौरा रद्द करना पड़ा। सीएम ममता भारत सरकार और चीन में सत्तारूढ़ कम्यूनिस्ट पार्टी के अंतरराष्ट्रीय विभाग के एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत 22 जून को एक सप्ताह के लिए चीन की यात्रा पर जाने वाली थीं। ‘न्यूज 18’ के अनुसार, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस साल मार्च में ममता बनर्जी को इस कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया था, जिसे उन्होंने अप्रैल में स्वीकार कर लिया था। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री राजनीतिक और व्यावसायिक प्रतिनिधिमंडल के साथ चीन जाने वाली थीं। वहां चीन के राजनीतिक नेतृत्व से भी मुलाकात का कार्यक्रम था, लेकिन बीजिंग की ओर से इस पर स्थिति स्पष्ट नहीं की गई। ममता एक प्रतिनिधिमंडल के साथ रवाना होने वाली थीं, लेकिन उसके कुछ घंटे पहले बीजिंग में स्थित भारतीय दूतावास ने चीन द्वारा राजनीतिक मुलाकात की पुष्टि न करने की सूचना दी। इसके बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने बीजिंग दौरे को रद्द करने की घोषणा कर दी।

भारतीय राजदूत ने 12 बजे तक का मांगा था वक्त: चीन दौरे को अचानक रद्द करने को लेकर पश्चिम बंगाल राज्य सचिवालय ने एक बयान जारी कर इसकी वजहों को स्पष्ट किया। ममता बनर्जी ने बयान में कहा, ‘चीन में मौजूद भारतीय राजदूत ने हमें सूचित किया कि बीजिंग ने उचित स्तर पर राजनीतिक मुलाकात की पुष्टि नहीं की है। इसके कारण हमें यह दौरा रद्द करना पड़ा। हमारे राजदूत ने राजनीतिक मुलाकात की पुष्टि के लिए दोपहर 12 बजे (चीनी समय के अनुसार दोपहर बाद 2.30 बजे) तक का वक्त मांगा था। भारतीय राजदूत ने बाद में राजनीतिक मुलाकात तय न हो पाने की जानकारी दी। ऐसे में एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत प्रतिनिधिमंडल के साथ चीन जाने का कोई मतलब नहीं बचा था। हालांकि, चीन में मौजूद हमारे राजदूत ने इस कार्यक्रम को सफल बनाने की पूरी कोशिश की थी, लेकिन दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हो सका और मुझे इस दौरे को रद्द करना पड़ा।’

चीन के रवैये से ममता नाखुश: राज्य सचिवालय नबन्ना के सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी चीन के तौर-तरीकों से नाखुश हैं। इस व्यक्ति ने कहा, ‘न तो चीन सरकार और न ही कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना भारतीय प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाकात तय कर पाई। प्रतिनिधिमंडल के रवाना होने से ठीक 48 घंटे पहले अचानक से कार्यक्रम में लगातार बदलाव किए जाने लगे। ऐसे में मुख्यमंत्री को छुट्टियां बिताने के लिए चीन जाने का विचार उचित नहीं लगा।’ पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा भी प्रतिनिधिमंडल के साथ चीन जाने वाले थे। उन्होंने कहा, ‘हमारी भी अपनी गरिमा है। यात्रा से यदि देश के लिए कुछ बेहतर नतीजे नहीं आएंगे तो दौरे पर जाने का कोई मतलब नहीं है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App