ताज़ा खबर
 

India-China Border: नरम पड़ा चीन, कहा- टकराव के हर मुद्दे पर बनाएंगे सहमति, लद्दाख में सीमांत इलाकों का दौरा करेंगे सेना प्रमुख

India-China Border Face-off: इससे पहले, भारतीय सैनिकों से झड़प में अपने 40 सैनिकों के मारे जाने की खबर को चीन ने गलत बताया है। केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने भी 40 चीनी सैनिकों के मारे जाने का दावा किया था। इस बीच सेना ने कहा है कि चीन के साथ सोमवार को चली लंबी बैठक सकारात्मक और रचनात्मक माहौल में संपन्न हुई है।

Author Edited By सूर्य प्रकाश नई दिल्ली | Updated: Jun 24, 2020 11:02:53 am
army chiefलद्दाख में आज सीमांत इलाकों का दौरा करेंगे सेना प्रमुख

India-China Border Face-off : पूर्वी लद्दाख में चीन से सीमा पर जारी तनाव के बीच बुधवार को सेना प्रमुख एम.एम नरवणे ने लद्दाख के सीमांत इलाकों का दौरा करेंगे। इससे पहले मंगलवार को उन्होंने गलवान घाटी में चीनी सैनिकों से झड़प के दौरान घायल सैनिकों से मुलाकात की थी। आज ही भारत और चीन Working Mechanism for Consultation and Coordination (WMCC) वर्चुअल मीट पर बातचीत कर सकते हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, यह डीजी, ज्वॉइंट सेक्रेट्री स्तर की वार्ता होगी, जिसमें भारत और चीन के बीच जारी विवाद को लेकर विस्तार से बात होगी।

इससे पहले, भारत और चीन के शीर्ष सैन्य कमांडरों के बीच सोमवार को हुई बैठक के दौरान दोनों देशों की सेनाएं पूर्वी लद्दाख में टकराव वाले स्थानों से हटने पर सहमत हुई हैं। आधिकारिक सूत्रों ने समाचार एजेंसी पीटीआई-भाषा को बताया कि यह बातचीत, ‘‘सौहार्दपूर्ण, सकारात्मक और रचनात्मक माहौल’’ में हुई और यह निर्णय लिया गया कि दोनों पक्ष पूर्वी लद्दाख में टकराव वाले सभी स्थानों से हटने के तौर तरीकों को अमल में लाएंगे।

सोमवार को भारतीय पक्ष नें 14वीं कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह की अगुवाई में और चीनी पक्ष ने तिब्बत सैन्य जिला कमांडर मेजर जनरल ल्यू लिन की अगुवाई में करीब 11घंटे तक बातचीत की। भारत और चीनी सेना के बीच 15 जून को गलवान घाटी में हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने के बाद चरम पर पहुंचे तनाव के बीच यह वार्ता हुई।

भारत ने इस घटना को चीनी सैनिकों की ‘‘सोची समझी और नियोजित कार्रवाई’’ करार दिया था। सूत्र ने बताया,‘‘ टकराव से पीछे हटने पर आपसी सहमति बनी है। पूर्वी लद्दाख में टकराव वाले सभी स्थानों से हटने के तौर तरीकों पर चर्चा की गई और दोनों पक्ष द्वारा इन्हें अमल में लाया जाएगा।’’ चीन ने जो किया, उसका कारण विदेश नीति की असफलता है। प्रधानमंत्री ने स्थापित कूटनीति की संस्थागत संरचना को ध्वस्त कर दिया हैः राहुल गांधी।

इससे पहले, भारतीय सैनिकों से झड़प में अपने 40 सैनिकों के मारे जाने की खबर को चीन ने गलत बताया है। केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने भी 40 चीनी सैनिकों के मारे जाने का दावा किया था। इस बीच सेना ने कहा है कि चीन के साथ सोमवार को चली लंबी बैठक सकारात्मक और रचनात्मक माहौल में संपन्न हुई है। दोनों ही पक्षों में विवाद से पीछे हटने पर सहमति दिखी। पूर्वी लद्दाख में तनाव को खत्म करने के उपायों को लेकर चर्चा हुई और दोनों ही पक्ष इस पर आगे बढ़ेंगे। इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लद्दाख में गतिरोध को लेकर मंगलवार को सवाल किया कि क्या चीन ने भारतीय जमीन पर कब्जा किया है।

राहुल गांधी ने पूर्व प्रधानमंत्री एवं अपने पिता राजीव गांधी द्वारा लद्दाख के पैंगोंग त्सो झील की ली गई एक तस्वीर ट्विटर पर शेयर करते हुए यह भी कहा कि ‘चीनी आक्रमण के खिलाफ हम एकजुट खड़े हैं।’ कांग्रेस नेता ने सवाल किया, ‘क्या भारतीय ज़मीन पर चीन ने कब्ज़ा किया है?’ भारत चीन सीमा पर जारी विवाद के बीच भारतीय वायुसेना के फाइटर जेट्स ने लेह में उड़ानें भरी हैं। चीन के साथ पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में सीमा पर बढ़े तनाव के बाद से वायुसेना ने एयर एक्टिविटी बढ़ा दी है।

गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद से वायुसेना ने भी अग्रिम चौकियों पर फाइटर जेट की तैनाती कर दी है और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। भारत और चीन के बीच सोमवार को सीमा पर हुई कॉर्प्स कमांडर लेवल की मीटिंग करीब 11 घंटे चली। यह बैठक सुबह करीब 11.30 बजे एलएसी पर चीनी सीमा में स्थित मोल्डो इलाके में शुरू हुई थी और देर शाम तक जारी रही। बता दें कि इससे पहले भी दोनों सेनाओं के बीच 6 जून को कमांडर लेवल की मीटिंग हो चुकी है।

इस बीच चर्चित इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने अपने एक लेख में कहा है की पीएम नरेंद्र मोदी ने लद्दाख में चीन से तनाव के मसले पर देश के पहले जवाहर लाल नेहरू जैसा रवैया अपनाया है। उन्होंने एक लेख में लिखा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने भी कम्युनिस्ट चीन के नेताओं से अपने निजी संबंधों के दम पर मसले को सुलझाने की कोशिश की है। पूर्व पीएम नेहरू ने भी ऐसा ही किया था।

 

Live Blog

Highlights

    10:11 (IST)24 Jun 2020
    कनाडा में चीनी दूतावास के बाहर विरोध प्रदर्शन

    कनाडा में चीनी दूतावास के बाहर भारतीय समुदाय के लोगों ने चीन के खिलाफ किया प्रदर्शन। पूर्वी लद्दाख में भारत से तनाव बढ़ाने का किया विरोध।

    09:49 (IST)24 Jun 2020
    नरम पड़ा चीन, कहा- तनाव के हर मुद्दे पर बनाएंगे सहमति

    पूर्वी लद्दाख में तनाव के बाद नरम पड़ा चीन। कहा टकराव वाले हर इलाके में तनाव खत्म करने पर सहमति।

    09:25 (IST)24 Jun 2020
    सीमांत इलाकों का दौरा करेंगे आर्मी चीफ नरवणे

    सेना प्रमुख एम.एम नरवणे आज लद्दाख के सीमांत इलाकों का दौरा करेंगे। इससे पहले मंगलवार को उन्होंने गलवान घाटी में चीनी सैनिकों से झड़प के दौरान घायल जवानों से मुलाकात की थी। इसके अलावा भारत-चीन संबंधों को लेकर वर्किंग मेकेनिज्म फॉर कंसल्टेशन ऐंड कोऑर्डिनेशन कमिटी (WMCC) मीटिंग भी आज ही होनी है।

    08:52 (IST)24 Jun 2020
    चरणबद्ध तरीके से तनाव से दूर होंगे भारत और चीन

    भारत और चीन ने धीरे-धीरे पूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनाव को कम करने पर सहमति जताई है।

    06:30 (IST)24 Jun 2020
    चीन-भारत सीमा के पास सिक्किम के गांवों में आईआरबी जवानों की तैनाती

    सिक्किम सरकार ने चीन और भारत के बीच गतिरोध के मद्देनजर दोनों देशों की सीमाओं के पास पूर्व और उत्तर सिक्किम में स्थित गांवों में भारतीय रिजर्व बटालियन (आईआरबी) के जवानों की तैनाती की है। यह जानकारी पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को दी। उप महानिरीक्षक (डीआईजी), रेंज, प्रवीण गुरुंग ने संवाददाताओं को बताया कि राज्य सरकार के निर्देश पर पिछले हफ्ते से सशस्त्र आईआरबी जवानों को तैनात किया गया है।

    06:01 (IST)24 Jun 2020
    चीनी दूतावास के बाहर हिन्दू सेना के कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

    दक्षिणपंथी संगठन हिन्दू सेना के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को राजधानी दिल्ली स्थित चीनी दूतावास के बाहर प्रदर्शन किया और वहां लगे एक नामपट्ट पर काला पोस्टर चस्पा कर दिया। पिछले सप्ताह पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में चीन के सैनिकों के आक्रामक रवैये और वहां हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैंनिकों की शहादत के खिलाफ हिन्दू सेना के कार्यकर्ताओं ने यह प्रदर्शन किया। हिन्दू सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता ने कहा, ‘’वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीनी सैनिकों के आक्रामक रुख के विरोध में हिन्दू सेना के कार्यकर्ताओं ने चीनी दूतावास के नामपट्ट पर ‘चीन गद्दार है, हिन्दी चीनी बाय-बाय’ लिखा पोस्टर चस्पा किया।’’ हालांकि, पुलिस का कहना है कि इस संबंध में अभी तक कोई आधिकारिक शिकायत प्राप्त नहीं हुई है।

    05:28 (IST)24 Jun 2020
    दूसरे देशों के लिये दरवाजे बंद करने का फायदा नहीं, हां सीमा पर गड़बड़ी करने वाले अपवाद: सीईए

    भारत-चीन के बीच बढ़ते तनाव तथा वहां से आने वाले सामान पर पाबंदी लगाने की चर्चा के बीच मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति वी सुब्रमणियम ने मंगलवार को कहा कि अन्य देशों के लिये दरवाजे बंद करने से भारत को कोई फायदा नहीं होगा। उन्होंने कहा कि भारत ने आयात पर रोक लगाने और घरेलू उत्पादन पर जोर की नीति का अनुसरण 1991 तक किया और उसके बाद इस रुख को महत्व नहीं दिया गया।

    05:12 (IST)24 Jun 2020
    गलवान झड़प में पीएलए के 40 सैनिकों के मारे जाने को चीन ने ‘फर्जी सूचना’ करार दिया 

    चीन ने भारत और चीनी सैनिकों के बीच 15 जून को गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प में अपने सैनिकों के हताहत होने पर मंगलवार को पहली बार चुप्पी तोड़ी और पूर्वी लद्दाख में हुए टकराव में अपने 40 से ज्यादा सैनिकों के मारे जाने को ‘‘फर्जी सूचना’’ करार दिया। झड़प के बाद से ही पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के हताहतों की संख्या के सवाल पर बचते रहे चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लीजियान ने पूर्व सेना प्रमुख और सड़क व परिवहन मंत्री जनरल (अवकाश प्राप्त) वीके.सिंह की उस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया दी, जिसमें उन्होंने कहा था, ‘‘अगर हमारे 20 जवान शहीद हुए हैं तो उनकी (चीनी) तरफ दोगुने सैनिक मारे गए हैं।’’

    22:43 (IST)23 Jun 2020
    सेना प्रमुख ने लद्दाख का दौरा किया, तैयारियों का जायजा लिया

    सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने मंगलवार को पूर्वी लद्दाख में सेना की तैयारियों का जायजा लिया। वह क्षेत्र के दो दिवसीय दौरे पर हैं, जहां पिछले हफ्ते चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के साथ हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे। सेना के अधिकारियों ने बताया कि लेह पहुंचने के तुरंत बाद जनरल नरवणे ने सेना के अस्पताल का दौरा किया जहां 15 जून को गलवान घाटी में घायल हुए 18 सैनिकों का उपचार चल रहा है। उन्होंने कहा कि सेना प्रमुख ने लगभग सभी घायल सैनिकों से बातचीत की और बहादुरी के लिए उनकी प्रशंसा की। एक संकरी घाटी में समझौते का उल्लंघन करते हुए चीन की सेना द्वारा निगरानी पोस्ट बनाए जाने को लेकर गलवान घाटी में संघर्ष हुआ जिसमें 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए।

    22:32 (IST)23 Jun 2020
    मॉस्को में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उनके चीनी समकक्ष के बीच बैठक नहीं होगी : अधिकारी

    मॉस्को में सैन्य परेड के इतर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उनके चीनी समकक्ष वेई फेंगे के बीच द्विपक्षीय बैठक नहीं होगी। एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को इस बारे में बताया । सिंह द्वितीय विश्व युद्ध में जर्मनी पर सोवियत जीत की 75 वीं वर्षगांठ के मौके पर बुधवार को सैन्य परेड में शिरकत करने के लिए तीन दिवसीय दौरे पर मॉस्को गए हैं । चीनी के रक्षा मंत्री वेई फेंगे के भी परेड में हिस्सा लेने की संभावना है। चीनी मीडिया की एक खबर में कहा गया है कि वेई और सिंह मॉस्को में समारोह में हिस्सा ले रहे हैं और पूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनाव को लेकर दोनों के बीच मुलाकात की संभावना है। चीनी मीडिया की खबर के बारे में पूछे जाने पर रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता भारत भूषण बाबू ने कहा, ‘‘हमारे रक्षा मंत्री चीनी रक्षा मंत्री के साथ बैठक नहीं करेंगे । ’’ रक्षा मंत्री का रूस का दौरा ऐसे वक्त हो रहा है जब भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव बढ़ गया है । 

    21:22 (IST)23 Jun 2020
    चीन से साइबर हमले बढ़े, पांच दिनों में 40 हजार से अधिक मामले

    चीन के हैकरों ने भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संरचना और बैकिंग सेक्टर पर पिछले पांच दिनों में 40 हजार से अधिक साइबर हमले किए। यह जानकारी मंगलवार को महाराष्ट्र पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी। राज्य पुलिस की साइबर शाखा ‘महाराष्ट्र साइबर’ के अधिकारियों ने बताया कि इंटरनेट का उपयोग करने वाले लोगों को इस तरह के हमले से सतर्क रहना चाहिए और अपने आईटी सिस्टम का साइबर सुरक्षा ऑडिट कराना चाहिए। साइबर शाखा के विशेष पुलिस महानिरीक्षक यशस्वी यादव ने कहा कि पूर्वी लद्दाख में दोनों देशों की सेनाओं के बीच तनाव के बाद ऑनलाइन हमले बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र साइबर ने इन प्रयासों की सूचना जुटाई और उनमें से अधिकतर चीन के चेंगदु इलाके से पाए गए। उन्होंने कहा, ‘‘हमारी सूचना के मुताबिक, पिछले चार-पांच दिनों में भारतीय साइबर स्पेस के संसाधनों पर साइबर हमले के, कम से कम 40,300 प्रयास हुए।’’ यादव ने कहा कि हमले का उद्देश्य सेवा देने से मनाही, इंटरनेट प्रोटोकॉल को हाईजैक करना और जाल में फंसाना शामिल है।

    20:54 (IST)23 Jun 2020
    सैन्य नेतृत्व के बीच बैठक में दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने को लेकर बात

    भारत-चीन के सैन्य नेतृत्व के बीच बैठक में दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने को लेकर बात हुई। भारत ने चीन से यथास्थिति बहाल करने की मांग की है और पीछे हटने को कहा है। 6 जून को हुई बातचीत के बाद भी चीनी सेना कई इलाकों में थोड़ी पीछे हटी थी लेकिन अभी भी कई जगहों पर तनाव की स्थिति बनी हुई है। वहीं सीमा पर तनाव के बीच आर्मी चीफ एमएम नरवाने आज लेह का दौरा करेंगे। आर्मी चीफ सीमा की अग्रिम चौकियों पर भी जाएंगे और जवानों का हौंसला बढ़ाएंगे। साथ ही आर्मी चीफ नरवाने सेना के कमांडरों से हालात पर चर्चा करेंगे। इससे पहले सोमवार को नई दिल्ली में भारतीय सेना के शीर्ष कमांडरों के बीच अहम बैठक हुई, जिसमें सीमा पर चीन के साथ जारी तनाव पर चर्चा की गई।

    भारत चीन के बीच जारी तनाव को कम करने के लिए रूस की तरफ से भी कोशिशें हो रही हैं। खबर के अनुसार, रूस पीछे के रास्ते से दोनों देशों के बीच जारी तनाव को कम करने में जुटा है। भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी इन दिनों रूस के दौरे पर हैं।

    20:14 (IST)23 Jun 2020
    उत्तरी चीन में ‘महान दीवार’ के एक हिस्से की मरम्मत का काम जारी

    उत्तरी चीन के हेबेई प्रांत में चीन की महान दीवार के एक खंड की मरम्मत का काम जारी है। स्थानीय सांस्कृतिक और पर्यटन प्राधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। नीक्यू काउंटी के होउजिझुआंग इलाके में स्थित महान दीवार का हेडुलिंग खंड करीब 500 साल पुराने मिंग वंश (1368-1644) के समय का है। काउंटी के संस्कृति, रेडियो, टेलीविजन और पर्यटन ब्यूरो के सांस्कृतिक स्मारक संरक्षण अधिकारी जिया चेंघुई ने बताया कि सालों से बिना मरम्मत के मौसम की मार झेल रही इस दीवार के प्रवेशद्वार, सीढ़ियों और कंगूरों को नुकसान पहुंचा और इसके साथ ही पौधों की जड़ों से भी दीवार खराब हुई है। सरकारी संवाद समिति शिन्हुआ की मंगलवार को जारी खबर के मुताबिक स्थानीय सांस्कृतिक अवशेष संरक्षण विभाग ने इसके बाद प्रांतीय प्रशासन से महान दीवार के 150 मीटर खंड की मरम्मत के लिये करीब 1.41 लाख अमेरिकी डॉलर की मांग की।

    19:27 (IST)23 Jun 2020
    कांग्रेस भारतीय सेना का मनोबल कम करने की साजिश रच रही: भाजपा

    भाजपा ने मंगलवार को कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वह यह ''प्रदर्शित'' कर कि लद्दाख में जारी सैन्य गतिरोध में भारत ने चीन के हाथों अपनी जमीन गंवा दी है, इस संकट के समय में ''परपीड़ा सुख'' ले रही है। साथ ही दावा किया कि वर्तमान गतिरोध के दौरान पड़ोसी देश ने भारतीय क्षेत्र की एक इंच जमीन पर भी कब्जा नहीं किया है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके बेटे राहुल गांधी पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि वे भारतीय सेना के मनोबल को कम करने के लिए ''साजिश'' कर रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक और मोदी सरकार की आलोचना उसी दिन करने को लेकर आपत्ति जतायी, जिस दिन सेना प्रमुख लद्दाख का दौरा कर रहे थे।

    19:27 (IST)23 Jun 2020
    गलवान झड़प में पीएलए के 40 सैनिकों के मारे जाने को चीन ने ‘फर्जी खबर’ करार दिया

    चीन ने भारत और चीनी सैनिकों के बीच 15 जून को गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प में अपने सैनिकों के हताहत होने पर मंगलवार को पहली बार चुप्पी तोड़ी और पूर्वी लद्दाख में हुए टकराव में अपने 40 से ज्यादा सैनिकों के मारे जाने को “फर्जी खबर” करार दिया। झड़प के बाद से ही पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के हताहतों की संख्या के सवाल पर बचते रहे चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लीजियान ने पूर्व सेना प्रमुख और सड़क व परिवहन मंत्री जनरल (अवकाश प्राप्त) वी के सिंह की उस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया दी जिसमें उन्होंने कहा था, “अगर हमारे 20 जवान शहीद हुए हैं तो उनकी (चीनी) तरफ दोगुने सैनिक मारे गए हैं।” मीडिया ब्रीफिंग के दौरान प्रतिक्रिया मांगे जाने पर झाओ ने मंगलवार को कहा, “कूटनीतिक और सैन्य माध्यमों से इस मामले को सुलझाने के लिये चीन और भारत एक दूसरे से बात कर रहे हैं।” 

    18:55 (IST)23 Jun 2020
    भारत-चीन सेनाओं के बीच सीमा पर तनाव कम करने पर सहमति बनने से सेंसेक्स 519 अंक उछला

    शेयर बाजारों में मंगलवार को लगातार चौथे कारोबारी दिवस तेजी रही और बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी में 1.5 प्रतिशत से अधिक की मजबूती रही। भारत और चीन की सेनाओं के बीच सीमा पर तनाव कम करने पर सहमति की रिपोर्ट का बाजार पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 519.11 अंक यानी 1.49 प्रतिशत छलांग लगाकर 35,430.43 अंक पर पहुंच गया। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 159.80 अंक यानी 1.55 प्रतिशत मजबूत होकर 10,471 पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में एल एंड टी रहा। कंपनी का शेयर करीब 7 प्रतिशत मजबूत हुआ। इसके अलावा बजाज फाइनेंस, इंडसइंड बैंक, एनटीपीसी, पावरग्रिड, महिंद्रा एंड महिंद्रा और एक्सिस बैंक में भी अच्छी बढ़त दर्ज की गयी।

    18:31 (IST)23 Jun 2020
    चीनी घुसपैठ पर प्रधानमंत्री के बयान के दूरगामी प्रभाव : सीडब्ल्यूसी

    कांग्रेस की शीर्ष नीति निर्धारण इकाई कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) ने भारत-चीन गतिरोध पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया टिप्पणी को चीनी रुख को बल देने वाला बयान करार देते हुए मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री की बातों का ‘‘दूरगामी प्रभाव’’ होगा। सीडब्ल्यूसी ने एक बयान में यह सवाल भी किया कि सरकार लद्दाख में चीनी कब्जे से भारतीय जमीन के मुक्त कराने और पूर्व यथास्थिति बहाल करने के लिए क्या कदम उठाएगी ? कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अगुवाई में वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से सीडब्ल्यूसी की बैठक हुई जिसमें भारत-चीन गतिरोध, कोविड संकट, अर्थव्यवस्था की स्थिति और पेट्रोल-डीजल के दाम में लगातार हो रही बढ़ोतरी पर चर्चा की गई।

    17:25 (IST)23 Jun 2020
    नेता कहलाने के लायक नहीं हैं राहुल गांधी : मुख्यमंत्री चौहान

    मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर भारतीय सेना का मनोबल तोड़ने का प्रयास करने का आरोप लगाते हुए कहा कि ‘ऐसे लोग नेता कहलाने लायक नहीं हैं।’ चौहान ने यहां प्रदेश भाजपा कार्यालय में एक सवाल के जवाब में मीडिया से कहा, ''एक ओर जहां हमारे सैनिक सर्वोच्च बलिदान दे रहे हैं, भारत मां का माथा गौरव से उन्नत कर रहे है। वहीं दूसरी ओ, मुझे तो कहते हुए भी शर्म आ रही है, दशकों तक देश में शासन करने वाली एक राष्ट्रीय पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी जी उनको हतोत्साहित कर रहे हैं।'' उन्होंने कहा, ''वह :राहुल गांधी: सेना का अपमान कर रहे हैं। वह जिस तरह के कमेंट :टिप्पणी: कर रहे हैं, कहते हुए लज्जा भी आती है और तकलीफ भी होती है कि वो भारत के नागरिक हैं।''

    17:16 (IST)23 Jun 2020
    मिलिट्री हॉस्पिटल में जवानों से मिले सेना प्रमुख
    16:37 (IST)23 Jun 2020
    सीडब्ल्यूसी बैठक में सोनिया ने कहा-एलएसी पर गतिरोध का मुख्य कारण सरकार का कुप्रबंधन

    कांग्रेस की शीर्ष नीति निर्धारण इकाई सीडब्ल्यूसी ने मंगलवार को बैठक कर लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चल रहे गतिरोध समेत कई मुद्दों पर चर्चा की और इसमें पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आरोप लगाया कि चीन के साथ सीमा पर संकट तथा कोरोना महामारी एवं अर्थव्यवस्था से जुड़े संकट का मुख्य कारण नरेंद्र मोदी सरकार का कुप्रबंधन एवं उसके द्वारा अपनाई गई नीतियां हैं। सोनिया ने यह दावा भी किया कि कोरोना संकट और इसके बाद की स्थिति से निपटने में सरकार पूरी तरह विफल रही है और इन सबके बीच पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि कर लोगों की पीड़ा बढ़ा रही है। कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने एलएसी पर गतिरोध को लेकर सोनिया का समर्थन करते हुए कहा कि सीमा पर जो संकट है, उससे अगर मजबूती से नहीं निपटा गया तो गम्भीर हालात पैदा हो सकते हैं।

    14:46 (IST)23 Jun 2020
    राहुल को चीन पर अटैक करना चाहिए, लेकिन वह सेना का अपमान कर रहे: शिवराज सिंह चौहान

    मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने चीन को लेकर राहुल गांधी के स्टैंड पर निशाना साधा है। उन्होंने राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि वह सेना का अपमान कर रहे हैं और उसका मनोबल गिरा रहे हैं। उन्होंने कहा, 'बीजेपी कठिन समय में कांग्रेस का सपोर्ट करती रही है, लेकिन राहुल गांधी गंदी राजनीति कर रहे हैं। उन्हें चीन पर अटैक करना चाहिए, लेकिन वह पीएम नरेंद्र मोदी के अलावा किसी को नहीं देख पा रहे।'

    14:42 (IST)23 Jun 2020
    चीन ने सीमा पर शांति कायम करने पर जताई सहमति

    चीन ने पूर्वी लद्दाख में सीमा पर जारी तनाव को कम करने पर सहमति जताई है। चीन के विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि दोनों देशों के बीच सभी मसलों पर आपसी सहमति से विवाद सुलाझने को लेकर सहमति बनी है। सोमवार को करीब 11 घंटे तक भारतीय सैन्य कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह और कमांडर लेवल की मीटिंग में चीन के सैन्य दल का नेतृत्व करने वाले मेजर जनरल लिउ लिन इन के बीच वार्ता हुई थी।

    13:52 (IST)23 Jun 2020
    झड़प में 40 चीनी सैनिकों के मारे जाने की खबर गलत: चीन

    भारतीय सैनिकों से झड़प में चीन के 20 सैनिकों के जाने की खबरें गलत। केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने भी 40 चीनी सैनिकों के मारे जाने की कही थी बात।

    12:49 (IST)23 Jun 2020
    तिब्बती नेता ने कहा, लद्दाख में झड़प चीन की विस्तारवादी नीति का हिस्सा

    तिब्बत की निर्वासित सरकार के अध्यक्ष लोबसांग सांगेय ने हाल ही में गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिकों की मौत की घटना की निंदा करते हुए सोमवार को कहा कि यह चीन की ''विस्तारवादी रणनीति'' का हिस्सा है। सांगेय दलाई लामा के उत्तराधिकारी भी हैं। सांगेय ने कहा कि चीन की यह 'बड़ी चाल' जारी है और भारत को उसकी सरकार पर दवाब डालने के लिए सभी लोकतांत्रिक देशों का गठबंधन बनाना चाहिए।

    12:47 (IST)23 Jun 2020
    सेना ने बताया, चीन के साथ सकारात्मक माहौल में हुई बैठक

    चीन के साथ सोमवार को चली लंबी बैठक सकारात्मक और रचनात्मक माहौल में संपन्न हुई है। दोनों ही पक्षों में विवाद से पीछे हटने पर सहमति दिखी। पूर्वी लद्दाख में तनाव को खत्म करने के उपायों को लेकर चर्चा हुई और दोनों ही पक्ष इस पर आगे बढ़ेंगे।: सेना

    12:37 (IST)23 Jun 2020
    नेपाल की कब्जाई जमीन पर चौकियां बना सकता है चीन

    नेपाल सरकार का कहना है कि आने वाले समय में चीन सरकार की ओर से कब्जाई गई भूमि पर आने वाले समय में चौकियां भी स्थापित की जा सकती हैं। चीन के साथ नेपाल अपने उत्तरी क्षेत्र में बड़ी सीमा साझा करता है। नेपाल और चीन के बीच 43 हिमालय चोटियां हैं, जो दोनों देशों के बीच एक-तरह से प्राकृतिक सीमा का काम करती हैं। दोनों देशों के बीच सीमा पर कुछ 6 चौकियां हैं, जिनके जरिए कारोबार किया जाता रहा है।

    12:34 (IST)23 Jun 2020
    चीन ने नेपाल की सैकड़ों हेक्टयेर जमीन कब्जाई

    लद्दाख में भारतीय सीमा में अतिक्रमण की कोशिश करने वाले चीन ने नेपाल में बड़े इलाके पर कब्जा जमा लिया है। नेपाल के कृषि विभाग के सर्वे के मुताबिक चीन ने तिब्बत में बड़े पैमाने पर सड़कों का विकास कर नदियों का रुख बदल दिया है। इसके बाद नदियों का रुख बदलने से खाली हुई जमीन को कब्जा लिया है, जो नेपाल की थी। नेपाल सरकार के दस्तावेजों के मुताबिक चीन ने सैकड़ों हेक्टेयर भूमि दबा ली है।

    12:20 (IST)23 Jun 2020
    दिल्ली से लद्दाख के लिए रवाना हुए आर्मी चीफ

    दिल्ली से लद्दाख के लिए रवाना हुए आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवाणे। सेना के अधिकारियों के साथ वह लद्दाख में चीन सीमा पर मौजूदा हालात का जायजा लेंगे।

    10:39 (IST)23 Jun 2020
    लद्दाख में उड़ान भर रहे भारतीय वायुसेना के फाइटर जेट

    सीमा पर जारी तनाव को देखते हुए भारतीय वायुसेना ने भी अपनी तैयारी पूरी की हुई है। वायुसेना के फाइटर जेट लद्दाख में लगातार उड़ान भर रहे हैं। वायुसेना ने अग्रिम चौकियों पर अपने लड़ाकू विमान तैनात किए हैं।

    10:29 (IST)23 Jun 2020
    मॉस्को पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

    रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह रूस पहुंच गए हैं। तीन दिवसीय दौरे पर राजनाथ सिंह दूसरे विश्व युद्ध में रूस की जर्मनी पर जीत की 75वीं सालगिरह के मौके पर आयोजित समारोह में हिस्सा लेंगे। इस दौरान चीन के मंत्री भी मौजूद रहेंगे। माना जा रहा है कि रूस दोनों देशों के बीच पैदा हुए तनाव को खत्म करने की कोशिश कर सकता है।

    10:28 (IST)23 Jun 2020
    अमेरिकी सांसद ने सीमा पर चीन के आक्रामक रुख की आलोचना की

    भारतीय सीमा में चीन के अतिक्रमण की अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति ने निंदा की है। उन्होंने कहा कि भारत-चीन सीमा को लेकर चीन सरकार के रवैये और चीनी सेना की घुसपैठ की वजह से सैनिकों की मौत दुखद है। मैं इसे लेकर चिंतित हूं। 

    10:24 (IST)23 Jun 2020
    भारतीय सेना को मिली पूरी छूट, वायुसेना ने अग्रिम चौकियों पर तैनात किए फाइटर जेट

    रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को शीर्ष सैन्य अधिकारियों के साथ बैठक कर पूर्वी लद्दाख में स्थिति की समीक्षा की थी। इस बैठक के बाद सरकार ने चीन के साथ लगने वाली 3500 किलोमीटर की सीमा पर चीन के किसी भी दुस्साहस का मुंहतोड़ जवाब देने के लिये सशस्त्र बलों को 'पूरी छूट' दे दी है। सेना ने बीते एक हफ्ते में सीमा से लगे अग्रिम ठिकानों पर हजारों अतिरिक्त जवानों को भेजा है। वायुसेना ने भी अग्रिम चौकियों पर अपने फाइटर जेट की तैनाती की है। 

    Next Stories
    1 विपक्ष में रहते हुए चीन सीमा पर बीजेपी ने भेजा था डेलिगेशन, अब कांग्रेस पर लगा रही राजनीति का आरोप
    2 जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में दो आतंकी ढेर, एक-47 राइफलें हुईं बरामद, सीआरपीएफ का एक जवान शहीद
    3 भारत को UN में आतंकवाद का पोषक क़रार करवाना चाहता था पाकिस्तान, US ने दिया झटका