ताज़ा खबर
 

डोकलाम की तरह लद्दाख में भी लंबा खिंच सकता है भारत-चीन विवाद, दोनों तरफ की सेनाओं ने बनाए बंकर

भारत और चीन की सेनाओं के बीच फिलहाल विवाद लद्दाख के पैगोंग शो और गल्वान घाटी में तनाव बना हुआ है। इस दौरान सैनिकों के बीच झड़प की भी खबरें आयी हैं, जिसमें दोनों देशों के सैनिक घायल हुए हैं।

India Chinaभारत-चीन के बीच सीमा विवाद से उपजे तनाव को लेकर अब तक दो बार कमांडर स्तर की बातचीत हो चुकी है।

भारत चीन की सेनाओं के बीच लद्दाख में जारी विवाद लंबा खिंचता दिखाई दे रहा है। दरअसल दोनों सेनाओं ने अपनी अपनी सीमा में बंकरों का निर्माण कर लिया है और सैनिकों की भी आमने-सामने की तैनाती कर दी गई है। दोनों देशों के बीच बातचीत के जरिए तनाव कम करने की कोशिशें भी लगातार हो रही हैं, लेकिन अभी तक उनका कोई नतीजा नहीं निकलता दिखाई दे रहा है। बता दें कि इससे पहले साल 2017 में सिक्किम से लगते डोकलाम इलाके में दोनों देशों की सेनाओं के बीच 70 से ज्यादा दिनों तक तनातनी रही थी।

भारत और चीन की सेनाओं के बीच फिलहाल विवाद लद्दाख के पैगोंग शो और गल्वान घाटी में तनाव बना हुआ है। इस दौरान सैनिकों के बीच झड़प की भी खबरें आयी हैं, जिसमें दोनों देशों के सैनिक घायल हुए हैं। भारतीय सेना से जुड़े सूत्रों के अनुसार, भारत अपने बॉर्डर पर जारी विकास कार्यों को रोकने के मूड में नहीं है।

माना जा रहा है कि शुक्रवार से बीजिंग में चाइनीज नेशनल पीपल्स कांग्रेस की शुरुआत होने जा रही है। ऐसे में इसके खत्म होने तक इस मामले का कोई समाधान होने की कम ही उम्मीद है।

गलवान घाटी में विवाद का कारण भारत की तरफ से किया जा रहा कंस्ट्रक्शन कार्य है। दरअसल भारत धारचुक से दौलतबेग ओल्डी तक सड़क का निर्माण किया जा रहा है। इसे भारत द्वारा एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड की तरह इस्तेमाल किया जाएगा। जिस पर भारतीय सेना की तरफ से सी-130 जे एयरक्राफ्ट की लैंडिंग करायी जा सकेगी। इसके साथ ही यह सड़क आगे जाकर कराकोरम हाइवे से भी जुड़ेगी। इसी सड़क के निर्माण पर चीन की आपत्ति है।

विशेष रूप से चीनी पक्ष की तरफ से गलवां घाटी में अपनी उपस्थिति को मजबूत किया जा रहा है। पिछले दो हफ्तों में चीनी सेना यहां करीब 100 तंबू गाड़ चुकी है और बंकरों के निर्माण के लिए भारी उपकरण लगाए गए हैं। इसी बीच भारतीय सेना ने रविवार को उन मीडिया रिपोर्ट्स को खारिज कर दिया, जिनमें दावा किया गया था कि पूर्वी लद्दाख में चीनी सैनिकों ने भारतीय गश्ती दल को हिरासत में लिया था। भारतीय सेना ने बयान जारी कर कहा कि भारतीय सैनिकों को हिरासत में लेने की कोई घटना नहीं हुई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कानून सिर्फ आम के लिए? फ्लाइट से बेंगलुरू पहुंचे केंद्रीय मंत्री, क्वारंटीन प्रक्रिया से ‘बच’ निकल गए कार से
2 Lockdown 4.0: बिना हमारी इजाजत अब कोई राज्‍य नहीं रख सकता यूपी के मजदूर- योगी आदित्‍यनाथ का ऐलान
3 लॉकडाउन में मर गया गरीब, भीख में भी नहीं मिले अंतिम संस्‍कार के पैसे तो घर में ही कर दिया दफन
IPL 2020 LIVE
X