ताज़ा खबर
 

‘पाकिस्तानी सेना ने दो लाख महिलाओं का रेप किया, लाखों लोग मार दिए गए’ नरसंहार पीड़ितों के अंतरराष्ट्रीय दिवस पर बोला भारत

अपने संदेश में संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंटोनियों गुटारेस ने कहा कि "नरसंहार सबसे ज्यादा नृशंस अपराध है तथा नफरत और विनाश से भरा है। यह हमारे सबसे अधिक बुनियादी मूल्यों पर हमला है।"

1971 के युद्ध के हत्यारों को फांसी की सजा की मांग करते लोग।

योशिता सिंह

संयुक्त राष्ट्र संघ बुधवार को अंतरराष्ट्रीय नरसंहार पीड़ित दिवस मना रहा है। भारत ने इस अवसर पर दुनिया से उन लोगों को श्रद्धांजलि देने की अपील की है जिन्हें 1971 के मुक्ति युद्ध में मार डाला गया था। भारत ने कहा कि इस दौरान 3 मिलियन लोगों की हत्या कर दी गई थी और दो लाख महिलाओं का पाकिस्तानी सेना और मजहबी आतंकियों ने रेप किया था। सरकार ने इसे “मानव इतिहास में सबसे भयानक प्रकरण” बताते हुए कहा कि यह अक्षम्य अपराध है।

युद्ध की शुरुआत पाकिस्तानी सेना ने बांग्लादेश (जिसे पहले पूर्वी पाकिस्तान कहा जाता था) में 25 मार्च 1971 को आधी रात को अचानक की थी। नौ महीने बाद 16 दिसंबर को ढाका में बंगाली स्वतंत्रता सेनानियों और भारतीय सेना के सामने पाकिस्तानी सेना के अपनी हार स्वीकार करते हुए बिना शर्त आत्मसमर्पण करने के साथ समाप्त हुई थी।

नौ महीने लंबे चले युद्ध में अधिकृत रूप से 30 लाख लोगों के मारे जाने की बात बताई गई थी। संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत के स्थायी राजदूत टीएस तिरुमुर्ति ने ट्वीट करके नरसंहार रोकिए के हैशटैग के साथ कहा कि “संयुक्त राष्ट्र संघ के 9 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय नरसंहार दिवस पर हमें 1971 के युद्ध के 30 लाख मृतकों तथा पाकिस्तानी सेना और मजहबी आतंकियों द्वारा पहले के पूर्वी पाकिस्तान में यौन शोषित की गईं दो लाख महिलाओं को श्रद्धांजलि देनी चाहिए। यह मानव इतिहास का सबसे भयावह प्रकरण था।”

अपने संदेश में संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव एंटोनियों गुटारेस ने कहा कि “नरसंहार सबसे ज्यादा नृशंस अपराध है तथा नफरत और विनाश से भरा है। यह हमारे सबसे अधिक बुनियादी मूल्यों पर हमला है।”

Next Stories
1 किसान आंदोलन: अन्नदाताओं ने ठुकराया केंद्र का प्रस्ताव, जानिए 20 पन्नों में क्या थे सरकार के सुझाव
2 पश्‍च‍िम बंगाल में चुनाव से पहले बीजेपी ने शुरू क‍िए नौ दफ्तर, जेपी नड्डा बोले- 38 और खुलेंगे
3 राजदीप सरदेसाई ने पूछा गौरव भाट‍िया से सवाल तो बीजेपी प्रवक्‍ता ने कहा- आप एक्‍ट के नाम भी गूगल क‍िए ब‍िना नहींं बता सकते
यह पढ़ा क्या?
X