ताज़ा खबर
 

पूर्व विदेश मंत्री एसएम कृष्‍णा के दामाद और कैफे कॉफी डे के संस्‍थापक के ठिकानों पर इनकम टैक्‍स का छापा

सिद्धार्थ मशहूर कारोबारी होने के साथ-साथ पूर्व विदेश मंत्री व वरिष्‍ठ बीजेपी नेता एसएस कृष्‍णा के दामाद भी हैं।
मशहूर कॉफी चेन कैफे कॉफी डे के संस्‍थापक वीजी सिद्धार्थ, पूर्व विदेश मंत्री व वरिष्‍ठ बीजेपी नेता एसएस कृष्‍णा के दामाद हैं।

आयकर अधिकारियों ने गुरुवार को कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एस.एम. कृष्णा के दामाद व रिटेल चेन कैफे कॉफी डे के संस्थापक व मालिक वी.जी. सिद्धार्थ के व्यापारिक व आवासीय परिसरों की कर चोरी के मामले में तलाशी ली और अन्य ठिकानों पर भी छापा मारा। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। आयकर अधिकारी ने यहां आईएएनएस को बताया, “निदेशालय राजस्व (खुफिया) अधिकारियों ने आयकर अधिनियम 1961 की धारा 132 के तहत अनाधिकृत आय व कर चोरी, अगर कोई हो तो, के मामले की जांच के लिए देश भर में कॉफी डे रिटेल आउटलेट संचालित करने वाले व्यवसायी के कार्यालयों और आवास की एक साथ तलाशी ली है।” सुबह आठ बजे छापेमारी शुरू हुई। बेंगलुरु स्थित एक ट्रेडिंग कंपनी ‘अमैलगैमेटेड बीन ऑफिस’ (एबीसी) के कार्पोरेट कार्यालय की छानबीन अभी जारी है जो सेंट्रल बेंगलुरु में कॉफी चेन आउटलेट संचालित करती है। इसकी शाखाएं राज्य के चिक्कमगलुरु, मुदिगेर और साकेलेसपुर में हैं और इसके मालिक का घर बेंगलुरु के एक पॉश इलाके में है।

यह स्पष्ट करते हुए कि छापों का संबंध सिद्धार्थ के रिश्तेदारों के राजनीति से जुड़ाव से नहीं है, अधिकारी ने कहा कि यह संयोग है कि व्यवसायी राज्य के प्रमुख नेता का दामाद है। अधिकारी ने नाम न जाहिर करने की शर्त पर बताया कि व्यवसायी के ठिकानों पर छापे जांच के दौरान मिली जानकारियों के बाद मारे गए हैं और इनका कोई संबंध व्यवसायी के राजनीतिक संबंधों से नहीं है।

सिद्धार्थ 2009 से 2012 तक देश के पूर्व विदेश मंत्री और 1999 से 2004 तक राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके कृष्णा के सबसे बड़े दामाद है। वह (कृष्णा) 2004 से 2008 तक महाराष्ट्र के राज्यपाल भी रह चुके हैं।

कृष्णा (85) कांग्रेस से इस साल 29 जनवरी को इस्तीफा देने के बाद मार्च में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.