ताज़ा खबर
 

साझा मंच से बुद्धदेव व राहुल ने किया ममता सरकार को हटाने का आह्वान

पश्चिम बंगाल की राजनीति में एक ऐतिहासिक रैली को संबोधित करते हुए राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री व माकपा के नेता बुद्धदेव भट्टाचार्य व कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने साझा मंच से ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार को हटाने का आह्वान किया।

Author कोलकाता | April 28, 2016 4:13 PM
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी

पश्चिम बंगाल की राजनीति में एक ऐतिहासिक रैली को संबोधित करते हुए राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री व माकपा के नेता बुद्धदेव भट्टाचार्य व कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने साझा मंच से ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस सरकार को हटाने का आह्वान किया। बड़ी बात यह कि इस मंच पर एक तरफ जहां अधीर रंजन चौधरी, मानस भुइयां, दीपा दासमुंशी समेत प्रदेश कांग्रेस के कई बड़े नेता उपस्थित थे, वहीं वाममोर्चा के भी कई दिग्गज नेता यहां मौजूद थे।

उनकी मौजूदगी में बुद्धदेव भट्टाचार्य व राहुल गांधी ने कड़े शब्दों में ममता बनर्जी पर हमला किया। यही नहीं, दोनों नेताओं ने एक साथ नारे भी लगाए- ‘तृणमूल हटाओ बंगाल बचाओ।’ बुधवार को कोलकाता के पार्क सर्कस में वाम-कांग्रेस गठजोड़ के उम्मीदवारों के समर्थन में आयोजित इस सभा को संबोधित करते हुए बुद्धदेव भट्टाचार्य ने अपने संबोधन में राहुल गांधी को दो बार ‘प्रिय राहुल’ कहा। उन्होंने कहा कि बंगाल के लोगों ने कई रैलियां देखीं, लेकिन इस तरह की रैली कभी नहीं देखी थी। इस रैली में मैं जहां राहुल गांधी के साथ खड़ा हूं, इतिहास की एक अद्भुद रैली है। आज वाममोर्चा व कांग्रेस के नेता यहां इकट्ठा हुए हैं। हम यहां एक मंच साझा कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यह वाम-कांग्रेस गठजोड़ की यह एकजुटता पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस को हटाना है। हम एक साथ तृणमूल के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं। इसका मकसद बंगाल से ममता बनर्जी के कुशासन को दूर हटाना है। उन्होंने कहा कि राज्य को बचाने के लिए तृणमूल कांग्रेस को सत्ता से हटाना समय की जरूरत है। माकपा के नेता ने कहा कि जब तक ममता बनर्जी को सत्ता से हटा नहीं दिया जाता, तब तक बंगाल में एक भी उद्योग नहीं आने वाला। वयोवृद्ध माकपा नेता ने कहा कि तृणमूल के शासन में राज्य में शिक्षा की दशा बेहद खराब है। महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। आए दिन महिलाओं के साथ बलात्कार व उन पर जुल्म की घटनाएं घटती हैं।

सभा स्थल पर वाममोर्चा व कांग्रेस के समर्थक जब एक साथ तृणमूल सरकार के खिलाफ नारे लगा रहे थे, तब मंच पर बुद्धदेव भट्टाचार्य व राहुल गांधी को एक-दूसरे के हाथों में हाथ डाले देखा गया। दोनों नेताओं के गले में एक बड़ा माला भी डाल दिया गया था। रैली को संबोधित करते हुए बुद्धदेव ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए वाम-कांग्रेस गठजोड़ की जरूरत को न्यायसंगत करार देते हुए कहा- हम आज यहां एक साथ क्यों खड़े हैं?

क्योंकि बंगाल आज एक गंभीर खतरे का सामना कर रहा है और इसे बचाने के लिए हमें एक साथ लड़ना होगा। सभा स्थल पर वाममोर्चा व कांग्रेस के समर्थक भी ‘तृणमूल हटाओ बंगाल बचाओ’ के नारे लगा रहे थे। वहां एक तरफ जहां लाल झंडा दिख रहा था वहीं कांग्रेस का भी झंडा चारों तरफ लगाया गया था। इसके साथ ही बुद्धदेव व राहुल के बड़े-बड़े कटआउट भी लगाए गए थे। बुद्धदेव ने इस मौके पर कहा-हम अकेले नहीं लड़ सकते, इसलिए तृणमूल के नेतृत्व वाली असामाजिक तत्वों की इस सरकार के खिलाफ हम एक साथ लड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि इस सरकार ने राज्य की अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया है। कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व ममता बनर्जी पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि इन दोनों ने भ्रष्टाचार व कुशासन को रोकने के लिए कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि बंगाल की गरीब जतना को शारदा चिटफंड घोटाले से ठगा गया, लेकिन ममता बनर्जी ने घोटालेबाजों के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाया।

राहुल ने कहा कि इसके बदले ममता उन लोगों को बचाती रहीं, जो इस घोटाले में शामिल हैं। आज की सभा में बुद्धदेव व राहुल दोनों ने विधानसभा चुनाव में वाम-कांग्रेस गठजोड़ के जीत की उम्मीद जताई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App