ताज़ा खबर
 

भाजपा प्रवक्ता ने कहा- भाषण मत दीजिए, ऐंकर बोले- आदमी कहीं भी मरे, एक दूसरे को नीचा दिखाकर क्या हासिल होगा

शिवसेना नेता ने जब महाराष्ट्र में गरीबों के लिए दी जाने वाली सुविधाओं का जिक्र शुरू किया, तो भाजपा प्रवक्ता सैयद जफर इस्लाम ने उनसे सवाल पूछने शुरू कर दिए। इस पर एंकर भड़क गए।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: April 15, 2021 3:27 PM
Rohit Sardana, Zafar Islamएंकर रोहित सरदाना और भाजपा प्रवक्ता जफर इस्लाम।

भारत में कोरोना के बढ़ते केसों के बीच राजनीतिक दल एक-दूसरे पर निशाना साधने से बाज नहीं आ रहे। जहां विपक्ष लगातार केंद्र की भाजपा सरकार पर वैक्सीनेशन और टेस्टिंग में देरी का आरोप लगा रही है, वहीं भाजपा भी दूसरी पार्टियों द्वारा शासित राज्यों का हाल दिखाकर तंज कस रही है। हालांकि, इस स्थिति के बीच नुकसान आम आदमी का ही हो रहा है। एक टीवी डिबेट में भी जब शिवसेना नेता और भाजपा प्रवक्ता के बीच कोरोना मुद्दे पर बहस हुई, तो एंकर ने दोनों को डांटते हुए कहा कि देश के लोग आपसे एकजुटता की उम्मीद कर रहे हैं और आप एक-दूसरे को नीचा दिखाने में लगे हैं।

किस बात पर उठा था विवाद?: दरअसल, शिवसेना नेता किशोर तिवारी ने जब महाराष्ट्र में सरकार द्वारा जनता कर्फ्यू के समय गरीबों के लिए दी जाने वाली सुविधाओं का जिक्र शुरू किया, तो भाजपा प्रवक्ता सैयद जफर इस्लाम ने उनसे सवाल पूछने शुरू कर दिए। जफर इस्लाम ने कहा, “कर्फ्यू में आपने गरीबों का चिंता नहीं की, छोटे-छोटे कारोबारियों को कोई समर्थन नहीं कर रहे। लॉकडाउन का ऐलान कर दिया। कोई वित्तीय मदद भी तो दीजिए उन्हें।”

जब किशोर तिवारी उनकी बातों का जवाब देने लगे, तो भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि जब मुख्यमंत्री इस बारे में नहीं बता पा रहे, तो आप क्या बताएंगे। आप देखिए मुंबई के स्टेशनों में कैसी लाइन लग गई है। भाषण मत दीजिए यहां। मैंने कोई आलोचना नहीं की।

एंकर बोले- ये स्थिति सत्ता में बैठे हर राजनीतिक दल के लिए शर्म की बात: हालांकि, इस पर आजतक के एंकर रोहित सरदाना ने डांटते हुए कहा, “जफर साहब आपकी बात उन्होंने पूरे प्यार से सुनी। ऐसे मौके पर जब देश के लोग आपसे एकजुटता की उम्मीद कर रहे हैं। एक-दूसरे को नीचा दिखाकर क्या हासिल होगा। आदमी महाराष्ट्र में मरे, दिल्ली में मरे, यूपी में मरे, केरल में मरे या तमिलनाडु में मरे। मर तो आपके ही देश का आदमी रहा है न। ये हर राजनीतिक पार्टी के लिए शर्म की बात है, जो सत्ता में बैठा हुआ है। जिसके ऊपर जिम्मेदारी दी है लोगों ने वोट देकर सरकार चलाने की।”

हालांकि, इसके बावजूद जब शिवसेना नेता किशोर तिवारी महाराष्ट्र सरकार की ओर से गरीबों को मुहैया कराए जा रही सुविधाओं के बारे में बताने लगे तो भाजपा प्रवक्ता ने फिर बीच में टोकते हुए कहा, “रोजगार के लिए क्या किया है आपने। क्या चिंता कर रहे हैं आप। ट्रेनों में लाइन लगी हैं। हमें मालूम है कि आपने क्या किया है। यहां भाषण मत दीजिए।”

Next Stories
1 मास्क न लगाने पर अर्नब करने लगे सवाल, शिवसेना प्रवक्ता ने तुरंत लगा लिया मास्क
2 निजामुद्दीन की मस्जिद में नमाज पढ़ने को हरी झंडी, केंद्र की दलील पर दिल्ली HC ने कहा- नमाजियों की संख्या को तय करना उचित नहीं
ये पढ़ा क्या?
X