ताज़ा खबर
 

लाइव डिबेट में ममता बनर्जी की तस्वीर ले पहुंचे गौरव भाटिया, बोले- दिल के अरमां आंसुओं में बह गए

ममता बनर्जी ने कहा था कि बंगाल में अशांति पैदा होने पर भाजपा को काफी फायदा होगा और वो सत्ता में आ जाएगी।

BJP, Gaurav Bhatiaभाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया। फोटो क्रेडिट- ट्विटर हैंडल (गौरव भाटिया)

रिपब्लिक भारत चैनल पर जारी एक शो में बीजेपी प्रवक्ता गौरव भाटिया ममता बनर्जी की तस्वीर लेकर आ गए। दरअसल ‘पूछता है भारत ‘शो में वोट के लिए मुसलमानों को ठगने वाले कब माफी मांगेंगे? के विषय पर बहस चल रही थी। इसी पर गौरव भाटिया ने अपने हाथ में ममता बनर्जी की एक तस्वीर दिखायी जिसमें वो नमाज पढ़ती हुई नजर आ रही थी।

गौरव भाटिया ने तस्वीर दिखाते हुए कहा कि ममता बनर्जी की हालत को देखकर मुझे एक गाना याद आ रही है। दिल के अरमां आंसुओं में बह गए,हम वफा कर के भी तन्हा रह गए। ऐसी हालत क्यों हुई? इसका जवाब है कि 10 साल तक तो कोई विकास उन्होंने किया नहीं। जय श्रीराम बोलने तक का उन्होंने विरोध किया, लेकिन अब उन्हें चंडी पाठ याद आ रहा है। अब उन्हें अपने गोत्र की याद आ रही है। किसान को सम्मान निधी गोत्र दिलवाएगा क्या?

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि जब केंद्रीय कैबिनेट में थी ममता बनर्जी तब उन्होंने सच्चर समिति के रिपोर्ट को क्यों नहीं लागू किया? अब वो कह रही है कि सारे मुसलामान एक हो जाए वोट बटने न पाए। ऐसी बात करना संविधान का भी उल्लंधन है,चुनाव आचार संहिता का भी उल्लंधन है।

उन्होंने कहा कि वो कहती हैं कि मुसलमान एक हो जाओ लेकिन अगर हिंदू एक हो जाएगा और ये बात अगर भारतीय जनता पार्टी कह दे तो चुनाव आयोग की तरफ से तुरंत नोटिस आ जाएगा। ये लोग सांप्रदायिक राजनीति कर रहे हैं।

गौरव भाटिया के बयानों का पलटवार करते हुए टीएमसी नेता मानव जयसवाल ने भी एक तस्वीर दिखाते हुए कहा कि बंगाल हर त्योहार को मानता है। तस्वीर में ममता बनर्जी और नुसरत जहां मां दुर्गा की प्रतिमा के सामने खड़ी हैं। साथ ही हर बंगाली अपने धर्म का निर्वाह करता है।
साथ ही उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जब लोगों को योजना का लाभ पहुंचाती है तो ये नहीं पूछती है कि वो किस धर्म से है?

Next Stories
1 अर्नब बोले- हां हम हैं ‘राइट विंग चैनल’, प्रधानमंत्री मोदी ने कही करेक्ट बात
2 बंगाल चुनावः खेत के रास्ते भागीं टीएमसी उम्मीदवार, गांव वालों ने लाठी लेकर दौड़ाया
3 ओडिशा में भी कोरोना रोधी टीके की कमी, महाराष्ट्र की तरह वहां की सरकार की भी केंद्र से अपील- जल्द करें सप्लाई
ये पढ़ा क्या?
X