कांग्रेसी आचार्य से बोले भाजपा प्रवक्ता, जो पार्टी का अध्यक्ष नहीं बना सके, करते हैं प्रधानमंत्री बनाने की बात, मिला जवाब

गुरु प्रकाश पासवान ने कहा कि अभी आचार्य जी अहंकार और दंभ की बात कर रहे थे। मेरे हिसाब से इससे बड़ी विडंबना कुछ और हो ही नहीं सकती है।

Acharya Pramod, BJP, Guru Prakash Paswan, Congress, News 24
कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद और भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता गुरु प्रकाश पासवान (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस, फेसबुक- @guruprakash88)

‘न्यूज 24’ पर चल रहे एक शो में भारतीय जनता पार्टी के नेता गुरु प्रकाश पासवान ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि जो पार्टी का अध्यक्ष नहीं बना सके, वो प्रधानमंत्री बनाने की बात कर रहे हैं। पलटवार करते कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद ने कहा कि आप भ्रष्टाचार की बात करते हैं येदियुरप्पा को लेकर क्या कहना है?

गुरु प्रकाश पासवान ने कहा कि अभी आचार्य जी अहंकार और दंभ की बात कर रहे थे। मेरे हिसाब से इससे बड़ी विडंबना कुछ और हो ही नहीं सकती है। अभी उन्होंने कहा कि हमने प्रधानमंत्री बनाया। हमने चौधरी चरण सिंह को बनाया। हमने देवगौड़ा को प्रधानमंत्री बनाया। आपने बनाया? आज का अखबार देख लीजिए, आप लोगों ने दामादों के लिए क्या किया है।

छत्तीसगढ़ की घटना है दामाद द्वारा संचालित अस्पताल को सरकार खरीद रही है। आप अपनी पार्टी का अध्यक्ष अब तक नहीं बना पाए हैं और बात देश के प्रधानमंत्री बनाने की करते हैं। अमेठी छोड़कर जाना पड़ा और बात प्रधानमंत्री बनाने की बात करते हैं। कांग्रेस पार्टी के चेहरे को देश की जनता ने देख लिया है।

पलटवार करते हुए आचार्य प्रमोद ने कहा कि भ्रष्टाचार के मुद्दे को इन्होंने उठाया, येदियुरप्पा जी को लेकर क्या कहना है? अभी मुकुल रॉय को लेकर क्या कहना है वो वापस जा चुके हैं, पहले जब ममता जी के साथ थे तो भ्रष्ट थे। बीजेपी में आकर साफ हो गए। अजीत पवार जब एनसीपी में थे तो भ्रष्ट थे, लेकिन जब सरकार बनाने लगे तो अच्छे हो गए।

कांग्रेस नेता जब भ्रष्टाचार के मुद्दे पर बीजेपी नेता को घेर रहे थे तो गुरु प्रकाश पासवान ने कहा कि यही समस्या है आप लोगों के साथ मुद्दे पर बात ही नहीं करते हैं। एंकर मानक गुप्ता ने कांग्रेस आचार्य को रोकते हुए कहा कि आचार्य जी भ्रष्टाचार के मुद्दे पर काफी बहस हो चुकी है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट