ताज़ा खबर
 

गाजियाबाद पर बोले आचार्य प्रमोद- 2022 के यूपी चुनाव को हिंदू-मुस्लिम करने के लिए ये बीजेपी का चक्रव्यूह, जो फंसेगा मारा जाएगा

बुजुर्ग मुस्लिम से मारपीट से जुड़े मामले में समाजवादी पार्टी के एक कार्यकर्ता को शनिवार को गिरफ्तार किया गया था। उनपर आरोप है कि उसने एक बुजुर्ग को वीडियो में यह कहने के लिए उकसाया था कि गाजियाबाद के लोनी इलाके में चार युवकों ने उसे ‘जय श्री राम’ के नारे लगाने को कहा और उसकी दाढ़ी काट दी तथा मारपीट की।

कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

गाजियाबाद में हाल ही में एक बुजुर्ग की भीड़ द्वारा पिटाई कर दी गयी थी और उसके दाढ़ी को भी काट दिया गया था। इस मामले पर न्यूज 18 इंडिया पर चल रहे एक शो के दौरान कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद ने कहा कि 2022 के यूपी चुनाव को हिंदू-मुस्लिम करने के लिए ये बीजेपी का चक्रव्यूह है। इसमें जो फंसेगा वो मारा जाएगा।

आचार्य प्रमोद ने कहा कि महाभारत के अंदर द्रोणाचार्य चक्रव्यूह की रचना करते थे। जब उनसे पूछा गया कि आप इस चक्रव्यूह की रचना क्यों कर रहे हैं? उन्होंने जवाब दिया कि इस चक्रव्यूह में जो भी प्रवेश करेगा वो मार दिया जाएगा। इसी तरह 2022 का जो चुनाव है वो एक महाभारत है और कुरुक्षेत्र इसका उत्तर प्रदेश है। इसमें बीजेपी की तरफ से धर्म के चक्रव्यूह की रचना की जा रही है। इस चक्रव्यूह में जो भी फंसेगा वो मार दिया जाएगा।

बताते चलें कि बुजुर्ग मुस्लिम से मारपीट से जुड़े मामले में समाजवादी पार्टी के एक कार्यकर्ता को शनिवार को गिरफ्तार किया गया था। उनपर आरोप है कि उसने एक बुजुर्ग को वीडियो में यह कहने के लिए उकसाया था कि गाजियाबाद के लोनी इलाके में चार युवकों ने उसे ‘जय श्री राम’ के नारे लगाने को कहा और उसकी दाढ़ी काट दी तथा मारपीट की।

गाजियाबाद पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि लोनी बॉर्डर थाने में अपने खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने के बाद बुधवार से फरार उम्मेद पहलवान इदरीसी को शनिवार को दिल्ली से पकड़ा गया। गाजियाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) अमित पाठक ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘दिल्ली में लोकनायक जय प्रकाश अस्पताल के पास से आरोपी उम्मेद पहलवान को गाजियाबाद पुलिस की एक टीम ने पकड़ा। दिल्ली में गिरफ्तार किए जाने के बाद आगे कार्रवाई के लिए उसे यहां लाया जा रहा है।’’

एक स्थानीय पुलिसकर्मी की शिकायत पर इदरीसी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी थी। आरोप लगाया कि ‘‘अनावश्यक’’ वीडियो बनाया था जिसमें अब्दुल शमद सैफी अपनी आपबीती बताते हैं।

Next Stories
1 मैं कोई शोपीस नहीं, पंजाब के लिए अमरिंदर उनके एजेंडे पर काम करें तो पीछे चलने को भी तैयार-बोले सिद्धू
2 डिबेट में रमणीक मान से भिड़े अकाली नेता सिरसा, बोले- चाहें कुछ कर ले सरकार, पीछे नहीं हटेगा किसान
3 पश्चिम बंगाल हिंसाः अंतरिम आदेश पर स्टे के लिए ममता पहुंचीं HC,शनिवार को कोर्ट ने NHRC को सौंपी थी जांच
ये पढ़ा क्या?
X