ताज़ा खबर
 

पूर्वांचल खुद ही लड़ रहा छठ पर्व की लड़ाई

पूर्वांचल वोट बैंक का महत्व समझते हुए ही भाजपा ने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व उत्तर पूर्व दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी को दिल्ली भाजपा की कमान सौंपी थी। दिल्ली में सभी दल पूर्वांचल को एक बड़ा वोट बैंक मानते हैं और इस समुदाय से एक तिहाई कुल मतदाता दिल्ली में है। इस वजह से चुनाव में प्रमुख सीटों पर भी इस वोट बैंक का सीधा असर देखा जाता है। वर्तमान संगठन की व्यवस्था देखें तो भाजपा ने फिर से अपने पुराने वोट बैंक बनिया व पंजाबी की तरफ गई है।

Religiousछठ घाट पर पूजा करते श्रद्धालु। फाइल फोटो।

छठ पर्व के आयोजन को लेकर मचे बवाल के बीच भाजपा में पूर्वांचल के नेता ही अपने पर्व की लड़ाई लड़ रहे हैं। इस पूरे बवाल से दिल्ली के शीर्ष नेता गायब हैं। यही वजह है कि हाल ही में मुख्यमंत्री आवास पर हुए प्रदर्शन से लेकर सूर्य पूजन तक केवल पूर्वांचल के स्थानीय कार्यकर्ताओं ने ही इस फैसले के खिलाफ आवाज बुलंद की है। बड़े नेताओं के इस पहल में शामिल नहीं होने से यह माना जा रहा है कि भाजपा इस मामले में पूर्वांचल के लोगों का पक्ष मजबूत तरीके से नहीं रख पाई है।

इससे पूर्व पूर्वांचल वोट बैंक का महत्व समझते हुए ही भाजपा ने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व उत्तर पूर्व दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी को दिल्ली भाजपा की कमान सौंपी थी। दिल्ली में सभी दल पूर्वांचल को एक बड़ा वोट बैंक मानते हैं और इस समुदाय से एक तिहाई कुल मतदाता दिल्ली में है। इस वजह से चुनाव में प्रमुख सीटों पर भी इस वोट बैंक का सीधा असर देखा जाता है। वर्तमान संगठन की व्यवस्था देखें तो भाजपा ने फिर से अपने पुराने वोट बैंक बनिया व पंजाबी की तरफ गई है।

इन समुदाय से जुड़े बड़े नेता भी अब तक इस पूरे हंगामे से दूर ही नजर आ रहे हैं। हालांकि 2010 में भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विजेंद्र गुप्ता ने इस समुदाय के लिए लड़ाई लड़ी थी और दिल्ली सरकार से छठ पर्व के लिए छुट्टी की व्यवस्था को लागू करवाया था। इन आदेशों के बाद से ही दिल्ली सरकार हर बार छठ पर्व पर अवकाश की घोषणा करती है। मुख्यमंत्री आवास पर हुए प्रदर्शन में भी अधिकतर पूर्वांचल से जुड़े नेता अभय वर्मा ने इसकी अगुआई की थी। इस मामले में पूर्वांचल के नेता दिनेश प्रताप सिंह ने बताया कि पार्टी के दिशानिर्देश पर ही मोर्चे ने मुख्यमंत्री आवास पर छठ पूजा की अनुमति को लेकर प्रदर्शन किया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना वैक्सीन पर Pfizer का ट्रायल पूरा, एफडीए से अप्रूवल के लिए जल्द आवेदन करेगी कंपनी
2 गुपकार अलायंस को बताया विदेशी ताक़तों से सांठगाँठ करने वाला गैंग, पर कारगिल में NC के साथ सत्ता सुख भोग रही बीजेपी
3 नौकरी गई तो बेटी के दूध के लिए नहीं थे पैसे, भेजना पड़ा मायके, पति भी थे बेरोजगार, जानें लॉकडाउन में बेबस हुए पांच परिवारों की दास्तां
ये पढ़ा क्या?
X